June 21, 2021

Nishpaksh Dastak

Nishpaksh Dastak

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से शिष्टाचार भेंट की

  • मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से शिष्टाचार भेंट की।
  • कोविड-19 की फस्र्ट वेव में प्रधानमंत्री द्वारा बताए गये ‘ट्रेस, टेस्टएण्ड ट्रीट’ के मंत्र को राज्य सरकार ने दूसरी लहर के दौरानभी अपनाए रखा, जिसके बेहतर परिणाम प्राप्त हुए और संक्रमणको नियंत्रित करने में सफलता मिली।
  • मुख्यमंत्री ने ऑक्सीजन एक्सप्रेस रेल के संचालन तथा भारतीय वायु सेना के विमानों द्वारा ऑक्सीजन टैंकर के परिवहन से प्रदेश में ऑक्सीजन कीसुचारु उपलब्धता के लिए प्रधानमंत्री के प्रति आभार किया।
  • पी0एम0 केयर्स फण्ड के माध्यम से प्रदेश के सभी जनपदोंके लिए ऑक्सीजन प्लाण्ट की स्वीकृति से ऑक्सीजनउपलब्धता की स्थायी व्यवस्था करने में मदद मिलेगी।
  • प्रधानमंत्री ने 18 वर्ष से अधिक सभी नागरिकों के लिए राज्यों को निःशुल्क कोरोना वैक्सीन उपलब्ध कराने का अभिनन्दनीय निर्णय लिया।
  • प्रधानमंत्री द्वारा निर्धन कल्याण को समर्पित प्रधानमंत्री गरीब कल्याणअन्न योजना को इस वर्ष माह मई में पुनः प्रारम्भ किया गया, हरगरीब के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए इस योजनाको दीपावली तक विस्तारित करने का निर्णय लिया।
  • राज्य के लगभग 15 करोड़ जरूरतमन्दों को प्रधानमंत्री गरीबकल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत निःशुल्क खाद्यान्न प्राप्त हो रहा।
  • प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में राज्य सरकारकिसानों के कल्याण व उत्थान के लिए कृत संकल्पित।
  • प्रधानमंत्री के नेतृत्व में केन्द्र सरकार नेडी0ए0पी0 खाद के लिए सब्सिडी में 140 प्रतिशत की वृद्धि की।
  • प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमण्डल द्वारावर्ष 2021-22 के लिए खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्यमें वृद्धि किये जाने से किसानों को उनकी उपज का लाभकारीमूल्य प्राप्त होगा और कृषि विविधीकरण को बढ़ावा मिलेगा।
  • कोरोना कालखण्ड के दौरान प्रधानमंत्री द्वारा देश के किसानों के बैंक खातों में अन्तरित की गई प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की आठवीं किस्त के तहत प्रदेश के 02 करोड़ 61 लाख से अधिक किसानों केखातों में 5,230 करोड़ रु0 से अधिक की धनराशि पहुंची।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से 11 जून 2021 को नई दिल्ली में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शिष्टाचार भेंट की।

लखनऊ। योगी आदित्यनाथ ने आज नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से शिष्टाचार भेंट की। उन्होंने प्रदेश के विकास तथा जनता के कल्याण के लिए प्रधानमंत्री द्वारा प्रदान किए जा रहे मार्गदर्शन के लिए उनके प्रति आभार व्यक्त किया। 

कोविड-19 की फस्र्ट वेव में प्रधानमंत्री द्वारा बताए गये ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ के मंत्र को राज्य सरकार ने दूसरी लहर के दौरान भी अपनाए रखा, जिसके बेहतर परिणाम प्राप्त हुए और संक्रमण को नियंत्रित करने में सफलता मिली। कोविड-19 की दूसरी लहर में जब ऑक्सीजन की मांग में अचानक वृद्धि हुई, उस समय रेल मंत्रालय द्वारा ऑक्सीजन एक्सप्रेस रेल के संचालन तथा भारतीय वायु सेना के विमानों द्वारा ऑक्सीजन टैंकर के परिवहन से प्रदेश में ऑक्सीजन की आपूर्ति करने में बड़ी मदद मिली।

उन्होंने संकट की उस घड़ी में प्रदेश में ऑक्सीजन की सुचारु उपलब्धता के लिए प्रधानमंत्री के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पी0एम0 केयर्स फण्ड के माध्यम से प्रदेश के सभी जनपदों के लिए ऑक्सीजन प्लाण्ट की स्वीकृति से ऑक्सीजन उपलब्धता की स्थायी व्यवस्था करने में मदद मिलेगी।  

प्रधानमंत्री ने 18 वर्ष से अधिक सभी नागरिकों के लिए राज्यों को निःशुल्क कोरोना वैक्सीन उपलब्ध कराने का अभिनन्दनीय निर्णय लिया। अनेक प्रदेश सरकारों को 18 से 44 वर्ष के युवाओं को वैक्सीन की व्यवस्था का अर्थ वहन करने में दिक्कत हो रही थी। उन्होंने राज्यों की इस समस्या का समाधान किये जाने के लिए प्रधानमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया।  

प्रधानमंत्री द्वारा निर्धन कल्याण को समर्पित प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को इस वर्ष माह मई में पुनः प्रारम्भ किया गया। हर गरीब के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री ने इस योजना को दीपावली तक विस्तारित करने का निर्णय लिया, ताकि संकट के समय किसी भी गरीब को भूखा न सोना पड़े। प्रदेश सरकार प्रधानमंत्री की आकांक्षाओं के अनुरूप इस योजना को माह मई में संचालित करते हुए वर्तमान माह में भी क्रियान्वित कर रही है। राज्य के लगभग 15 करोड़ जरूरतमन्दों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत निःशुल्क खाद्यान्न प्राप्त हो रहा है।

प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में राज्य सरकार किसानों के कल्याण व उत्थान के लिए कृतसंकल्पित है। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में केन्द्र सरकार ने डी0ए0पी0 खाद के लिए सब्सिडी में 140 प्रतिशत की वृद्धि की। उनकी अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमण्डल ने वर्ष 2021-22 के लिए खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि किये जाने से किसानों को उनकी उपज का लाभकारी मूल्य प्राप्त होगा और कृषि विविधीकरण को बढ़ावा मिलेगा। 

कोरोना कालखण्ड के दौरान किसानों को राहत प्रदान करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री ने देश के किसानों के बैंक खातों में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की आठवीं किस्त का अन्तरण किया। ट्रांसफर की गई धनराशि में से प्रदेश के 02 करोड़ 61 लाख से अधिक किसानों के खातों में 5,230 करोड़ रुपए से अधिक की धनराशि अन्तरित की गई। उन्हांेने किसान हितैषी इन निर्णयों के लिए प्रधानमंत्री प्रति आभार व्यक्त किया।