June 21, 2021

Nishpaksh Dastak

Nishpaksh Dastak

पेट्रोल और डीजल की बढ़ती मंहगाई के खिलाफ कांग्रेस का धरना प्रदर्शन-लल्लू

  • पेट्रोल और डीजल की बढ़ती मंहगाई के खिलाफ कांग्रेस का देश व्यापी धरना प्रदर्शन।
  • प्रदेश अजय कुमार लल्लू को हजारों समर्थकों के साथ पुलिस ने किया गिरफ्तार।
  • प्रदेश के समस्त जनपदों में मंहगाई के विरोध में कांग्रेसजन उतरे सड़को पर, किया जबरदस्त विरोध प्रदर्शन, हुई गिरफ्तारियां।
  • मंहगाई की मार से कराह रही है जनता, मोदी सरकार कर रही है झूठ का नाटक।
  • पेट्रोल-डीजल, दलहन, तिलहन व अन्य आवश्यक वस्तुओं को बाजार के हवाले कर सरकार ने जनता के साथ किया धोखा।
  • भाजपा सरकार करती है झूठ का नाटक, जनता को रुलाती है खून के आंसू-राजेश तिवारी-मंत्री छ0ग0 सरकार।
  • भाजपा सरकार लगातार कर रही है जनता की अनदेखी।

लखनऊ। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम व आवश्यक उपभोक्त वस्तुओं के लगातार बढ़ रहे बेतहाशा दामों के विरोध में भाजपा सरकार के विरुद्ध पूरे उत्तर प्रदेश में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ब्लाक मुख्यालय से लेकर जिला मुख्यालय तक सड़क पर उतरकर जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया, पूरे प्रदेश में हजारों कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी हुई।

अजय कुमार लल्लू को पुलिस ने पहले हाउस अरेस्ट किया लेकिन उन्होने प्रदेश सरकार को चुनौती देते हुए अपने आवास के बाहर एकत्रित सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ विरोध प्रदर्शन के लिए सड़क पर उतर आयें जिससे घबराई सरकार के इशारे पर पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तारी के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को अस्थाई जेल में सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली जनविरोधी सरकार द्वारा चन्द उघोगपति मित्रों को लाभ पहंुचाने व पेट्रोल व डीजल पर भारी भरकम टैक्स लगाकर देशवासियों को मंहगाई की मार झेलने के लिए विवश कर दिया है।

एक तरफ कोरोना महामारी से समाप्त हुए रोजगार और दूसरी तरफ भाजपा सरकार निर्मित मंहगाई प्रदेश व देशवासियांे की दुश्मन बन चुके हैं। लगातार पेट्रोल-डीजल के दामों में बेतहाशा वृद्धि से आम जनमानस की जेब पर डाका डाला जा रहा है। खाद्य पदार्थों से लेकर तेल के भाव भी आसमान छू रहे हैं, पेट्रोल 100 रुपया लीटर व सरसों का तेल 220 रुपये लीटर की सीमा पार कर गया है।

उन्होनें कहा कि जब मोदी सरकार ने मई 2014 में सत्ता संभाली तो अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का रेट न्क् 108 रुपये प्रति बैरल था, देश में पेट्रोल की कीमत 71.51 रुपये प्रति लीटर व डीजल की कीमत 55.49 रुपये प्रति लीटर थी, मोदी सरकार ने पेट्रोल व डीजल पर अनाप-शनाप टैक्स लगाकर सात साल में जनता की जेब लूटकर 2.94 लाख करोड़ रुपये कमाये।

पिछले सात सालों में कच्चे तेल की कीमत अमेरिकी डाॅलर 20-65 के बीच रही- पर पेट्रोल की कीमत साल 2014 में 71.51 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 95 प्रति लीटर व कई प्रांतो में 101.89 रुपये प्रति लीटर हो गयी। डीजल की कीमत 2014 में 55.49 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 85 रुपये प्रति लीटर हो गयी।

अजय कुमार लल्लू ने सरकार पर हमला करते हुए कहा कि देश में लगातार बढ़ती हुई मंहगाई के साथ-साथ रसोई गैस की  कीमतों में बेतहाशा वृद्धि से आम जनमानस की कमर टूट चुकी है, सरकार जनता के धन का अपव्यय कर छवि बनाने का प्रयास कर रही है वहीं मंहगाई की मार से तड़पती जनता को राहत देने का उसकी तरफ से कोई प्रयास नही हो रहा है, रसोई गैस के दाम 900 रुपये पार पहुंच गये हैं और सरकार के द्वारा सब्सिडी देने का झूठा नाटक किया जा रहा है। गरीब व मध्यम वर्गीय परिवार के लोगों की सब्सिडी पर भी सरकार के द्वारा डाका डाला गया है।

एल0पी0जी0 गैस से लेकर दलहन-तिलहन, सब्जियों के दामों में लगातार वृद्धि की जा रही है, जिससे आम जनमानस के घर का बजट बिगड़ गया है। मई 2020 से मई 2021 के बीच एक साल में ही खाना पकाने के तेलों के 60 से 70 प्रतिशत से अधिक बढ़ोत्तरी हुई। सरसों का तेल 115 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 220 रुपये प्रति लीटर पार कर गया है। पाम आॅयल की कीमतें 85 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 138 रुपये प्रति लीटर को छू रही हैं, सूरज मुखी के तेल की कीमत 110 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 175 रुपये प्रति लीटर को पार कर गया है।

वनस्पति डालडा की कीमत 90 रुपये प्रति किलो से बढ़कर 140 रुपये प्रति किलो तक हो गयी है, सोयाबीन तेल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 155 रुपये प्रति लीटर हो गयी है। दलहन की बढ़ती कीमतों ने हर गृहणी के बजट को तहस-नहस कर दिया है। मई 2020 से 2021 तक केवल एक साल में चने की दाल 70 रुपये प्रति किलो से बढ़कर 85 से 90 रुपये प्रति किलो हो गयी है, अरहर दाल की कीमत 90 रुपये किलो से बढ़कर 120-155 रुपये प्रति किलो हो गयी है।

छत्तीसगढ़ सरकार के मंत्री कांग्रेस कमेटी राष्ट्रीय सचिव राजेश तिवारी ने सम्बोधित करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी सरकार लगातार झूठ का नाटक कर जनता को खून के आंसू रुला रही है। हर तरफ मंहगाई ने अपने पांव पसार रक्खे है। सरकार मौन धारण कर जनता के दिये जनादेश के साथ विश्वासघात कर रही है। एक विश्वासघाती सरकार के विरुद्ध कांग्रेस का आज हुआ प्रदर्शन मील का पत्थर साबित होगा और लोकतांत्रिक तरीके से इस सरकार का जाना अब सुनिश्चित हो चुका है।

विधान परिषद में कांग्रेस के नेता दीपक सिंह ने कहा कि पेट्रोलियम पदार्थो सहित आवश्यक उपभोक्ता वस्तुओं के दामों में लगातार हुई बढ़ौत्तरी से आम जनमानस के सामने रोजी रोटी का संकट खड़ा है। उन्होने सरकार पर बरसते हुए कहा कि जनकल्याण के संवैधानिक कर्तव्यों की अनदेखी कर जनता के साथ घृणित अपराध भाजपा सरकार द्वारा किया जा रहा है जिसे कभी माफ नहीं किया जा सकता है।

आज के प्रदर्शन में प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू व राजेश तिवारी-मंत्री छ0ग0 सरकार, दीपक सिंह-एम0एलसी0 सहित प्रदेश उपाध्यक्ष वीरेन्द्र चैधरी, विश्वविजय सिंह श्याम किशोर शुक्ला सिद्धार्थप्रिय श्रीवास्तव दिनेश सिंह, पिछड़ा वर्ग विभाग के प्रदेश चेयरमैन मनोज यादवशाहनवाज मंगल राहुल राजभर अशोक सिंह वीरेन्द्र मदान