अपराधियों पर सख्त शिकंजा,रासुका के तहत कार्रवाई

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपराधियों पर शिकंजा कसने के लिए लोक व्यवस्था को प्रभावित करने वाले मामलों में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई के कदम बढ़ाने के कड़े निर्देश दिए हैं। सीएम योगी ने कहा है कि अपराधियों में भय पैदा होना चाहिए और लोगों में सुरक्षा का भाव। उन्होंने कहा है कि कहा कि अभियान चलाकर लोक व्यवस्था को प्रभावित करने वाली घटनाओं के आरोपितों पर कड़ी विधिक कार्रवाई सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि महिलाओं व बालिकाओं के खिलाफ जघन्य अपराध वाले, गोकशी करने वाले और मादक पदार्थ की तस्करी में लिप्त अपराधी बचने न पाए। 

अपर मुख्य सचिव गृह, अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में महिलाओं एवं बालिकाओं के खिलाफ जघन्य अपराध, गोकशी की घटनाओं, मादक अवैध कारोबार में लिप्त व्यक्तियों, गंभीर अपराधों एवं अन्य सनसनीखेज अपराधों से जुड़े अभियुक्तों को चिन्हित कर उनके खिलाफ आईपीसी की धाराओं के साथ-साथ रासुका के तहत भी कार्रवाई की गई है। 


अपर मुख्य सचिव गृह ने बताया कि शासन की ओर से सभी जिलों के पुलिस कप्तानों और जिलाधिकारियों को कड़े निर्देश दिए गए हैं कि रासुका की कार्रवाई के लिए पात्र कोई भी अपराधी बचने न पाए। अवस्थी ने यह भी बताया कि जनवरी से अब तक प्रदेश में 139 अपराधियों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की गई है। इसमें 76 गोकशी के अभियुक्त, 6 बालिकाओं के खिलाफ अपराध करने वाले अभियुक्त, गंभीर अपराध करने वाले 37 अपराधी और 20 अन्य अपराधियों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की गई है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि लोक व्यवस्था के साथ खिलवाड़ करने वालों के साथ पुलिस सख्ती से पेश आए। ऐसे गंभीर अपराध करने वाले अपराधियों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की जाए। ताकि अपराधियों में भय और जनता में सुरक्षा की भावना पैदा हो।