कपड़े खुद धो रहा हूं- शिवराज सिंह चौहान

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोरोनावायरससे संकमित हैं. उनका राजधानी भोपाल में एक कोविड अस्पताल में इलाज चल रहा है. लेकिन इस दौरान वो सरकार का सारा काम-काज अस्पताल से ही देख रहे हैं, इस दौरान उनके कुछ वीडियो सामने आए हैं, जिनमें उन्होंने बताया है कि वो इस पूरी स्थिति से कैसे निपट रहे हैं. इसी तरह उनका एक और वीडियो भी सामने आया है, जिसमें वो कहते हुए सुने जा रहे हैं कि अस्पताल में अपने कपड़े खुद से धो रहे हैं.दरअसल, मंगलवार को मुख्यमंत्री राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों और मंत्रियों के साथ हॉस्पिटल से ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मीटिंग कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने कहा, ‘अस्पताल में अपनी चाय खुद बना रहा हूं. अपने कपड़े भी खुद धो रहा हूं क्योंकि कोविड के मरीज़ अपना कपड़ा धोने के लिए किसी और को नहीं दे सकते. मुझे कपड़े धोने का फायदा भी हुआ है. मेरे हाथ की सर्जरी हुई थी. कई फिज़ियोथेरेपी सेशन के बाद भी मैं अपने मुट्ठी नहीं बांध पाता था. लेकिन कपड़े धोने के बाद अब मैं ऐसा कर पा रहा हूं.’ उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि हमें हमेशा अपने छोटे-छोटे काम खुद से करते रहना चाहिए.’  इस वीडियो में वो हॉस्पिटल के नीले गाउन और मास्क में नज़र आ रहे हैं. 

यह मीटिंग राज्य में कोविड के हालात की समीक्षा को लेकर की गई थी. बता दें कि सीएम ने शनिवार को एक ट्वीट कर जानकारी दी थी कि उन्हें कोविड-19 हो गया है. इसके बाद उन्हें उसी दोपहर को भोपाल के चिरायु अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 

शिवराज चौहान ने रविवार को एक वीडियो जारी कर कहा था कि वो ‘बिल्कुल ठीक’ हैं. उन्होंने लोगों से कोरोना के लक्षण दिखने पर तुरंत टेस्टिंग कराने को कहा और उन्हें भरोसा दिलाया कि ‘डरने की कोई जरूरत नहीं हैं.’ बता दें कि सीएम के परिवार में उनकी पत्नी साधना सिंह और उनके बेटे- कार्तिकेय और कुणाल के कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट निगेटिव आई है, लेकिन एहतियातन सभी लोगों को होम क्वारंटीन में रखा गया है.

अगर राज्य की बात करें तो मध्य प्रदेश में अब तक कोविड संक्रमण के कुल 28,589 केस दर्ज किए गए हैं. भोपाल में स्थिति काफी खराब दिख रही है. 1 जुलाई को यहां 2,830 केस थे, जो 26 जुलाई को बढ़कर 5,134 हो चुके हैं.