कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की देखभाल में किसी प्रकार की लापरवाही न बरती जाये- मोती सिंह

ग्राम्य विकास एवं समग्र ग्राम विकास विभाग मंत्री ने कोविड.19 एवं अन्य योजनाओं के सम्बन्ध की समीक्षा।

प्रतापगढ़, प्रदेश के ग्राम्य विकास एवं समग्र ग्राम विकास विभाग मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह मोती सिंह ने कल दिनांक 17 अगस्त को कैम्प कार्यालय के सभागार में जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमारए मुख्य विकास अधिकारी अश्वनी कुमार पाण्डेय अपर जिलाधिकारी शत्रोहन वैश्य मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अरविन्द कुमार श्रीवास्तव सहित अन्य अधिकारियों के साथ कोविड.19 एवं अन्य योजनाओं के सम्बन्ध में बैठक की। बैठक में कैबिनेट मंत्री ने अधिशासी अभियन्ता जल निगम को निर्देशित किया कि वाटर सप्लाई स्किम का विस्तार किया जाये। पट्टी विधानसभा क्षेत्र अन्तर्गत ग्राम पंचायत के प्रत्येक घर को जल जीवन मिशन कार्यक्रम के अन्तर्गत हर घर को नल से जल योजना से आच्छादित किया जाये।

राजेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि जल जीवन मिशन कार्यक्रम के अन्तर्गत हर घर को नल से जल योजना से जोड़ने हेतु 55 करोड़ रूपये की धनराशि शासन द्वारा आवंटित की गयी है। इसी प्रकार पेयजल योजना की जो 39 इकाईयॉ निर्मित है लेकिन अब तक प्रारम्भ नही है उनकी मरम्मत हेतु 40 करोड़ रूपये की धनराशि शासन द्वारा आवंटित की गयी है। पेयजल योजना से प्रत्येक घर को जोड़ने की प्रगति के सम्बन्ध में कैबिनेट मंत्री ने अधिशासी अभियन्ता जल निगम से जानकारी प्राप्त की तो उनके द्वारा बताया कि कुछ इकाईयों में निर्माण कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है शेष इकाईयों का निर्माण कार्य शीघ्र ही प्रारम्भ किया जायेगा।

कैबिनेट मंत्री मोती सिंह ने दैवी आपदा के सम्बन्ध में प्राप्त आवास के प्रगति के सम्बन्ध में परियोजना निदेशक से जानकारी प्राप्त की तो बताया गया कि दैवीय आपदा में जिनके कच्चे घर बरसात में गिर गये थे उनका चिन्हांकन कर लिया गया है जैसे ही शासन द्वारा आवास प्राप्त होता है दैवीय आपदा के पीड़ित व्यक्ति को प्राथमिकता के आधार पर आवास उपलब्ध कराय जायेगा। उन्होने बैठक में मनरेगा योजनान्तर्गत किये गये कार्यो के सम्बन्ध में भी जानकारी प्राप्त की। कैबिनेट मंत्री जी ने कोरोना वायरस के संक्रमण के बचाव हेतु अब तक किये गये कार्यो के सम्बन्ध में मुख्य चिकित्साधिकारी से जानकारी प्राप्त की तो बताया गया कि दिनांक 17 अगस्त तक जनपद में कुल पाजिटिव केस 1120 है जिनमें से 626 रिकवर्ड हो चुके है तथा 473 एक्टिव केस है।

कोविड एल.1 अटैच्ड फैसिलिटी सेन्थ अन्थोनी में 51 मरीज भर्तीए कोविड एल.3 एस0आर0एन0 प्रयागराज में 26 मरीजए अन्य फैसिलिटी में 81 मरीज तथा होम आईसोलेसन में 315 मरीज है और जनपद में 207 हॉटस्पाट है। कैबिनेट मंत्री ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि कोविड चिकित्सालयों में भर्ती मरीजों को गुणवत्तायुक्त भोजनए साफ.सफाई की व्यवस्था बेहतर ढंग से की जाये तथा मरीजों के ईलाज में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाये। होम आईसोलेसन एवं कोविड चिकित्सालय में मरीजों की देखभाल डाक्टरों द्वारा समय.समय पर किया जायेए यदि मरीजों द्वारा किसी भी प्रकार की शिकायत की जाती है तो उस समस्या का निराकरण समय पर किया जाये। कैबिनेट मंत्री मोती सिंह ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि डोर.टू.डोर सर्वे व अधिक से अधिक लोगों की सैम्पलिंग कर जांच कार्य में तेजी लायी जाये तथा सैम्पलिंग करने वाले पैरा मेडिकल स्टाफ कोरोना वायरस से बचाव हेतु सुरक्षा उपकरण से सुसज्जित होकर ही कार्य करें।