अयोध्या-जिलाधिकारी ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का किया निरीक्षण

अयोध्या, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने तहसील-सदर, विकासखंड- पूरा बाजार के बाढ़ प्रभावित क्षेत्र ग्राम पंचायत मूड़ाडीह का स्थलीय निरीक्षण कर बाढ़ प्रभावित लोगों को सरकार द्वारा उपलब्ध कराई जा रही सहायताओं यथा- राशन किट, मिट्टी का तेल, पशुओं के टीकाकरण व चारे, स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्वास्थ्य कैंप लगाने की स्थिति आदि की जानकारी ली तथा आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग को जनपद के सभी बाढ़ प्रभावित ग्राम पंचायतों में स्वास्थ्य कैम्प लगवाने, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व को बाढ़ प्रभावित परिवारों को राशन किट उपलब्ध कराने, पशुपालन विभाग को सभी पशुओं का टीकाकरण व पशुओं हेतु चारे की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने बाढ़ प्रभावित सभी लोगों को स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित करने के दृष्टिगत परिवार के सदस्यों की संख्या को ध्यान में रखते हुए बाढ़ प्रभावित सभी परिवारों को एक माह तक इस्तेमाल करने हेतु क्लोरीन की गोलियां उपलब्ध कराने हेतु मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया।

उपस्थित ग्राम प्रधान तथा अन्य लोगों ने बताया कि ग्राम में बाढ़ प्रभावित कुल 224 परिवार रहते हैं। बाढ़ के पानी से अभी तक कोई मकान प्रभावित नहीं हुआ है न ही किसी जानवर की बाढ़ के पानी में डूबने से मृत्यु हुई है। प्रभावित परिवारों को राशन किट मिल चुका है और उन्हें उचित दर की दुकानों से भी राशन कार्ड के माध्यम से उचित मूल्य पर राशन मिल रहा है। ग्राम में अभी तक कोई व्यक्ति कोरोना वायरस से प्रभावित नहीं है और न ही किसी व्यक्ति की तबियत खराब है।
पशु चिकित्साधिकारी ने बताया कि वह बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का नियमित रूप से भ्रमण करते हैं तथा माह जून, 2020 में लगभग 500 पशुओं को टीका लगाया जा चुका है। मौके पर उपस्थित ग्राम प्रधान तथा अन्य लोगों ने बताया कि जानवरों को खिलाने के लिए अभी कुछ दिनों के लिए भूसा उपलब्ध है, परन्तु हरा चारा नहीं उपलब्ध हो पा रहा है। जिस पर जिलाधिकारी ने पशु चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि आवश्यकतानुसार पर्याप्त चारा/भूसा की उपलब्धता सुनिश्चित करायें।

जिलाधिकारी ने प्रभारी चिकित्साधिकारी को तत्काल बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में कैम्प लगाकर स्वास्थ्य परीक्षण कर आवश्यकतानुसार दवाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। ग्रामवासियों द्वारा बताया कि जिस हैण्डपम्प से पानी पीते हैं, उसके चारों तरफ पानी भर गया है। जिस पर जिलाधिकारी नें कहा कि बीमारियों से बचने के लिए यह आवश्यक है कि पानी की बाल्टी में क्लोरीन की गोली डालकर अथवा पानी को उबाल कर ही पियें। उन्होने प्रभारी चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि वे तत्काल सभी प्रभावित परिवारों को उनके सदस्यों की संख्या के अनुसार एक माह के लिए क्लोरीन की गोलियाँ उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

उपस्थित ग्रामवासियों द्वारा मिट्टी का तेल उपलब्ध कराये जाने की माँग की गयी जिस पर उप जिलाधिकारी, सदर को निर्देशित किया कि वे इस हेतु तत्काल माँग भेजें ताकि तदनुसार मिट्टी के तेल की उपलब्धता सुनिश्चित करायी जा सके। ग्रामवासियों द्वारा अवगत कराया गया कि लगभग 40 परिवार बन्धे पर रह रहे हैं जो पूर्व से ही बाढ़ से प्रभावित हैं और इनके पास आवासीय भूमि उपलब्ध नहीं है। जिस पर जिलाधिकारी नें उप जिलाधिकारी, सदर को निर्देशित किया कि इन प्रभावित परिवारों को यथाशीघ्र आवासीय पट्टा दिलाया जाय। निरीक्षण के दौरान अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व), उप जिलाधिकारी, सदर, नायब तहसीलदार, अयोध्या, पशु चिकित्साधिकारी, पूराबाजार, प्रभारी चिकित्साधिकारी, पूराबाजार, ग्राम प्रधान तेज बहादुर निषाद तथा काफी संख्या में बाढ़ प्रभावित ग्रामवासी उपस्थित रहे।