पुरानी रंजिश,हमले में गंभीर रूप से घायल युवक

पुरानी रंजिश में एक युवक पर गांव के ही युवक व उसके परिजनों पर हुए हमले के मामले में गंभीर रूप से घायल युवक ने लखनऊ में इलाज के दौरान मौत।

अयोध्या, गोसाईगंज पुरानी रंजिश को लेकर बीते दिनों एक युवक पर गांव का ही युवक व उसके परिजनों पर हुए हमले के मामले में गंभीर रूप से घायल युवक ने लखनऊ में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। जबकि बाकी अन्य घायलों का इलाज चल रहा है  मृतक का शव घर आने के बाद  गांव के लोग काफी आक्रोशित हो गए  काफी जद्दोजहद के बाद पुलिस की अभिरक्षा में मृतक युवक का अंतिम संस्कार कर दिया गया जबकि हमले के आरोपों में तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और पहले से डर मुकदमे में गैर इरादतन हत्या की धारा बढ़ा दी गई है। जानकारी के मुताबिक  गोसाईगंज थाना क्षेत्र के जगनपुर गांव निवासी मनीष पुत्र राम उजागिर निषाद व गोविंद पुत्र राम प्रताप निषाद पूना शहर में साथ रहकर नौकरी करते थे ।दोनों की गहरी दोस्ती गांव में चर्चित रही।

      पूना शहर में ही अवकाश के दिन दोनों दोस्त क्रिकेट मैच खेल रहे थे ।यहाँ दोनों दोस्त एक दूसरे के प्रतिद्वंदी टीम में हो गए। रन बनाने को लेकर  दोनों में झगड़ा हुआ। और दोनों अलग हो गए। लॉक डाउन में दोनों गांव आये तो शुक्रवार की शाम उसी खुन्नस में गोविंद अपने घर के सामने मनीष पर हमला बोल दिया। हल्ला गोहार पर मनीष की मां व चचेरा भाई बिजय बहादुर बचाने दौड़े तो गोविंद पक्ष के लोंगो ने उनपर भी हमला बोल दिया। हमले से विजय बहादुर व मनीष व उसकी माँ को गम्भीर चोटे आयी । 

  घायलावस्था में तीनों को जिला चिकित्सालय ले जाया गया जहाँ पर विजय बहादुर को लखनऊ रेफर किया गया जहां उसकी हालत चिंताजनक बनी हुई थी सोमवार की रातविजय बहादुर ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया  मंगलवार की रात जब उसका शव गांव पहुंचा दो  लोगों में काफी आक्रोश देखने को मिला प्रभारी निरीक्षक आशुतोष मिश्र ने बताया कि राम उजागिर की तहरीर पहले ही आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जा चुका है जिसमें से तीन आरोपितों को गिरफ्तार भी कर लिया गया है और मुकदमे में गैर इरादतन हत्या की धारा बढ़ा दी गई है मृतक के शव का अंतिम संस्कार भी करा दिया गया है कानून व्यवस्था पूरी तरह से कायम है।