पूर्वांचल में अपराधियों के हौसले बुलन्द

पूर्वीं यूपी यानी पूर्वांचल में अपराधियों का दुस्साहस लगातार बढ़ रहा है। सोमवार की रात एक तरफ बलिया में निजी चैनल के पत्रकार की गोली मारकर हत्या कर दी गई तो दूसरी तरफ आजमगढ़ में निजामाबाद के नवादा में एक बीडीसी सदस्य को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया गया है। आजमगढ़ के तरवां में ही पिछले हफ्ते दलित प्रधान की गोली मारकर हत्या का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा है। उसे लेकर लगातार आंदोलन हो रहे हैं।

सोमवार रात 9 बजे नवादा बाजार में पंचायत चुनाव के संबंध में दो ग्रुप आपस में चर्चा कर रहे थे। इस बीच विवाद बढ़ गया। विवाद के बीच ही नवादा के क्षेत्र पंचायत सदस्य 35 वर्षीय सुरेंद्र यादव को गोली मार दी गई। आनन-फानन लोग सुरेंद्र को उठाकर सदर अस्पताल लेकर भागे।

अस्पताल पहुंचने से पहले ही सुरेंद्र ने दम तोड़ दिया। वारदात होते ही बाजार में सन्नाटा पसर गया। मौत की खबर गांव पहुंची तो कोहराम मच गया। लोगों का हंगामा शुरू हो गया। विरोधी गुट के घर पर हमले की आशंका में भारी संख्या में फोर्स तैनात कर दी गई। कई थाने की पुलिस वाहन आधे घंटे के अंदर पहुंच गई। नवादा में जबरदस्त तनाव का माहौल रहा।