September 25, 2021

Nishpaksh Dastak

Nishpaksh Dastak

फर्जी जज बनकर लोगो से ठगी करके पैसे मांगने वाला युवक गिरफ्तार

अब्दुल जब्बार एडवोकेट

भेलसर/अयोध्या – कोतवाली रूदौली की पुलिस ने फर्जी जज बनकर लोगो से ठगी करके पैसे मांगने वाले युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।पुलिस द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार श्री दीपक कुमार पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद अयोध्या के दिशा निर्देशन में अपराध एवं अपराधियों पर प्रभावी नियंत्रण हेतु चलाये जा रहे विशेष अभियान के तहत श्री विजय पाल सिंह पुलिस अधीक्षक नगर जनपद अयोध्या व शैलेन्द्र कुमार सिंह पुलिस अधीक्षक ग्रामीण अयोध्या व डा0 धर्मेन्द्र कुमार यादव क्षेत्राधिकारी रूदौली के पर्यवेक्षण में कुलदीप तिवारी प्रभारी निरीक्षक को0 रूदौली के नेतृत्व में वरि0 उ0नि0 लल्लन सिंह राठौर मय टीम द्वारा थाना स्थानीय पर पंजीकृत मु0अ0सं0 03/2021 धारा 170/420/467/468/469/471भादवि0 व 66D आई0टी0 एक्ट थाना रूदौली जनपद अयोध्या से सम्बन्धित वांछित अभियुक्त तौसिफउल हक पुत्र स्व0 फरीदुल हक निवासी मकान नं0 22 उत्तरधौना तिवारीगंज थाना चिनहट जनपद लखनऊ को जिलाधिकारी व पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय अयोध्या को वाहन संख्या UP42AH8722 द्वारा लापरवाही पूर्वक ओवरटेक करके बदतमीजी करने के सम्बन्ध में हाईकोर्ट का पी0एस0 बनकर,नाम बदलकर व एक बार स्वयं न्यायाधीश बनकर मोबाइल से जरिए ईमेल शिकायत करने व वाहन संख्या UP42AH8722 के स्वामी शाद शेख अहमद पुत्र मेराज अहमद नि0 मो0 मलिकजादा थाना को0 रूदौली जनपद अयोध्या को जरिए व्हाट्सप मैसेज व फोन काल से ब्लैकमेल करके पैसे व वाहन(कार) की मांग करने के जुर्म में गिरफ्तार कर हिरासत पुलिस में लिया गया।अभियुक्त ने पूछताछ पर बताया कि वर्ष 2017 में अपने टीचर श्रीवास्तव को सरकारी ला अफसर के पद पर नियुक्त करने हेतु न्यायाधीश के प्रिंसिपल सेक्रेटरी बनकर फोन किया था तो दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार कर जेल भेजा था।जून 2020 में फर्जी न्यायाधीश बनकर अपने दोस्त समरेन्द्र राय उर्फ रिंकू राय के मुकदमें में अन्तिम रिपोर्ट लगाने के लिए सहायक पुलिस आयुक्त विभूति खण्ड लखनऊ पर दबाव बनाया था जिसके बाद विभूति खण्ड पुलिस ने तौसिफउल हक व समरेन्द्र राय को गिरफ्तार कर जेल भेजा था तथा वर्ष 2018 में किसी डाक्टर से मारपीट की शिकायत पर जी0आर0पी0 देहरादून ने गिरफ्तार कर जेल भेजा था।अभियुक्त तौसिफउल हक द्वारा अपने 161 द0प्र0सं0 के बयान में बताया गया कि ईमेल अपने साथी समरेन्द्र राय उर्फ रिंकू राय पुत्र महातम राय नि0 वैभव खण्ड थाना विभूति खण्ड जनपद लखनऊ के मोबाइल से किया था और अपने साथी चांद उर्फ अनवर नि0 हैदरगंज चौराहा के पास थाना बाजारखाला जनपद लखनऊ के सैन्ट्रो कार से शाद शेख अहमद से रूपया व कार लेने के लिए रूदौली आया था हम तीनों मिलकर अपराध को अंजाम देते हैं। अभियुक्त के साथीगण समरेन्द्र राय उर्फ रिंकू राय व चांद उर्फ अनवर के सम्बन्ध में जानकारी की जा रही है।गिरफ्तार अभियुक्त का धारा 170/420/467/468/469/471 भादवि0 व 66D आई0टी0 एक्ट के तहत चालान कर मा0 न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है।पुलिस की टीम में प्रभारी निरीक्षक कुलदीप तिवारी के साथ वरि0उ0नि0 लल्लन सिंह राठौर,का0 सिन्टू यादव व का0 विनीत कुमार भी शामिल रहे।