भारत में “खेल महाशक्ति” बनने की क्षमता-अनुराग ठाकुर

360

भारत में “खेल महाशक्ति” बनने की क्षमता-अनुराग ठाकुर

भारत में “खेल महाशक्ति” बनने की पूरी क्षमता।प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 350 करोड़ की लागत से बनेगा 30000 लोगों की छमता वाला अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम। उत्तर प्रदेश को 1 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने में खेल की अहम भूमिका होगी।

केन्‍द्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा कार्यक्रम और खेल मंत्री श्री अनुराग सिंह ठाकुर ने उतर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के वृंदावन योजना में  निवेश के महाकुंभ ‘यूपी ग्लोबल इनवेस्टर्स समिट-2023’ में “उत्तर प्रदेश में खेल क्षेत्र की निवेश क्षमता और 1 ट्रिलियन अर्थव्यवस्था में इसकी भूमिका” विषय पर  आयोजित सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि भारत में खेलों की महाशक्ति बनने की पूरी क्षमता है।उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी का खेलों के प्रति इतना झुकाव है कि वो खिलाड़ियों को व्यक्तिगत रूप से जानने के साथ उनके परिवार वालों का भी हालचाल लेते है। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ जी का उत्तर प्रदेश जिसने दूसरे राज्यों के ओलंपिक और पैरा-ओलंपिक खिलाड़ियों को भी सम्मानित किया वो प्रधानमंत्री के संकल्प से सिद्धि पहल का अनूठा उदाहरण है।

READ MORE-UP समृद्ध तो INDIA समृद्ध-राष्ट्रपति


केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सिर्फ एक खेल ही नही बल्कि हर खेल को बराबर का प्रोत्साहन मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार मिलकर ऐसी योजनाएं जो खेल और खिलाड़ियों से जुड़ी है को तय समय के भीतर पूरा करें। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश को 1 ट्रिलियन अर्थव्यवस्था का लक्ष्य हासिल करने में खेलों की अहम भूमिका होगी। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बेटियों का प्रदर्शन शानदार रहा है उत्तर प्रदेश में 2021 में खेलों इंडिया को आगे बढ़ाते हुए बैडमिंटन और कुश्ती को आगे बढ़ाया।केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हर सांसद आज अपने संसदीय क्षेत्र में खेल महाकुंभ का आयोजन कर रहे है। खेलों इंडिया विंटर गेम्स गुलमर्ग में शुरू हो चुका हुआ है। 12 खिलाड़ियों ने 25 वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़े है।केंद्रीय मंत्री ने कहा कि एक साल में 450 कोच हायर किए गए है और आने वाले समय में और कोच हायर किए जाएंगे।

भारत में “खेल महाशक्ति” बनने की क्षमता-अनुराग ठाकुर