July 27, 2021

Nishpaksh Dastak

Nishpaksh Dastak

मुकेश अंबानी अब एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति नहीं रहे

ब्लूमबर्ग बिलिनेयर्स इंडेक्स के मुताबिक, बोतलबंद पानी की कंपनी के मालिक शानशन की संपत्ति में 7 अरब डॉलर का इजाफा हुआ और अब वह लगभग 78 अरब डॉलर की कुल संपत्ति के साथ एशिया के सबसे अमीर और दुनिया के 12वें सबसे अमीर शख्स बन गए हैं।

साल 2020 जाते-जाते भारत के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी को झटका दे गया। उनसे एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति होने का खिताब छिन गया है। चीन के प्राइवेट अरबपति कारोबारी झोंग शानशान रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन को पछाड़ कर एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं।

ब्लूमबर्ग बिलिनेयर्स इंडेक्स के मुताबिक, 2020 की शुरूआत में जुंग शानशन की संपत्ति 70.9 अरब डॉलर थी जो अभी 77.8 अरब डॉलर हो गई है। वहीं 76.6 अरब डॉलर के साथ मुकेश अंबानी दूसरे स्थान पर रह गए।

चीन के जुंग सानसान भारत के मुकेश अंबानी को पीछे छोड़ते हुए एशिया के सबसे धनी व्यक्ति बन गए हैं। ब्लूमबर्ग बिलिनेयर्स इंडेक्स के मुताबिक़ वर्ष 2020 में शानशन की संपत्ति में सात अरब डॉलर की बढ़ोत्तरी हुई है। उन्होंने भारत के मुकेश अंबानी के अलावा अपने ही देश के जैक मा को भी पीछे छोड़ दिया है।

इस सूची में चीन की पिनड्योड्यो कंपनी के मालिक कोलिन हुआंग (63.1 अरब डॉलर) तीसरे स्थान पर हैं।टेनसेंट कंपनी के पोनी मा (56 अरब डॉलर) चौथे और अलीबाबा के जैक मा (51.2 अरब डॉलर) पांचवें स्थान पर हैं।भारत के मुकेश अंबानी अब एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति नहीं हैं और चीन के जुंग शानशन उन्हें पछाड़ एशिया के सबसे अमीर शख्स बन गए हैं।

2020 में जहां कोरोना वायरस महामारी के कारण दुनियाभर के कारोबारियों को बड़ा नुकसान हुआ, वहीं जुंग अपनी सूझबूझ से अपनी संपत्ति में बड़ा इजाफा करने में कामयाब रहे।सबसे पहले उन्होंने अप्रैल में अपनी वैक्सीन कंपनी ‘जिंग वान्टई बॉयोलॉजिकल’ को चीन के शेयर बाजार में लिस्ट करा दिया और तब से इसके शेयरों की कीमत में 2,000 प्रतिशत से अधिक वृद्धि हो चुकी है। ये कंपनी कोरोना वायरस की वैक्सीन भी बना रही है।

मुकेश अंबानी की संपत्ति 18.3 अरब डॉलर बढ़ीभारत की रिलायंस इंड्रस्टीज के मालिक मुकेश अंबानी भले ही कुल संपत्ति के मामले में जुंग से पीछे रह गए हों, लेकिन 2020 में उनकी संपत्ति में भी बड़ी वृद्धि हुई है। इस साल उनकी संपत्ति में कुल 18.3 अरब डॉलर का इजाफा हुआ और उन्होंने कंपनी को तेल पर अत्यधिक निर्भऱता से तकनीक और ई-कॉमर्स की तरफ बढ़ाया।उनकी इस मुहिम के तहत फेसबुक और गूगल जैसे कंपनियों ने रिलायंस जियो में निवेश किया।

अंबानी से पहले एशिया के सबसे अमीर शख्स रहे जैक मा को चीनी अधिकारियों के साथ टकराव के कारण अपनी संपत्ति में नुकसान का सामना करना पड़ा। अक्टूबर में उनकी संपत्ति 61.7 अरब डॉलर तक पहुंच गई थी, लेकिन फिर इसके बाद ये गिरकर 51.2 अरह डॉलर पर आ गई।

इसके मुख्य कारण उनकी कंपनी एंट ग्रुप की शेयर बाजार में लिस्टिंग रोका जाना और एकाधिकार स्थापित करने के आरोपों के तहत अलीबाबा के खिलाफ जांच रहे।