यूपी में अपराधी-पुलिस गठजोड़ से कानून व्यवस्था ध्वस्त-अजय कुमार लल्लू


कानपुर संजीत यादव के परिजनों से मिलने जा रहे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत दर्जनों कार्यकर्ता गिरफ्तार, देर शाम रिहा हुए।
पूर्व मंत्री आर0के0 चैधरी, प्रदेश महासचिव मनोज यादव भी गिरफ्तार।
प्रदेश की कानून व्यवस्था ने अपराधियों के आगे सरेंडर किया, योगी इस्तीफा दें।
यूपी में अपराधी-पुलिस गठजोड़ से कानून व्यवस्था ध्वस्त हुई, आम जनता कर रही है त्राहिमाम।
कानपुर के संजीत यादव के अपहरण, फिरौती और हत्या ने योगी सरकार के दावों की खोली पोल।
हत्या, बलात्कार, आत्मदाह से दहला उत्तर प्रदेश, कानून व्यवस्था दम तोड़ चुकी है, अब लोगो की जान लेकर इसकी मुनादी हो रही है।
गोलोक वासी हो चुकी कानून व्यवस्था की आत्मा की शांति के लिए सम्पन्न हुआ श्राद्ध और शांति पाठ, कार्यकर्ताओं ने उतरवाए बाल।


— अशोक सिंह
लखनऊ, उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने यूपी की कानून व्यवस्था पर कड़ा प्रहार करते हुए योगी सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए तुरंत इस्तीफे की मांग की है। प्रदेश कार्यालय से कानपुर संजीत यादव के परिजनों से मिलने जा रहे प्रदेश अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू समेत दर्जनों नेताओं और कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। देर शाम रिहा किया गया।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने जारी एक बयान में कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था अपराधियों के आगे बेबस होकर सरेंडर कर चुकी है । योगी से प्रदेश नही संभल रहा है। अब उनको तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए।

प्रदेश अध्यक्ष ने बयान में कहा कि प्रदेश में इस समय अपराधी-पुलिस गठजोड़ के चलते कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गयी है। अपराधियों को पुलिस सहित सत्ता पक्ष में बैठे लोगों का संरक्षण है। पूरे प्रदेश में हाहाकार मचा है। जनता त्राहिमाम कर रही है। उन्होंने हाल में हुई हत्या, बलात्कार आत्मदाह का सवाल उठाते हुए कहा कि अपराधियों का मनोबल तोड़ने, उनपर लगाम लगाने के बजाए योगी कांग्रेस पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं का दमन कर रही है और फर्जी मुकदमे लगा रही है। कानपूर के संजीत यादव का अपहरण फिरौती और बाद में हत्या उसी का परिणाम है ।

पूर्व मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आर0के0 चैधरी ने कहा कि पूरे प्रदेश में हत्या बलात्कार और आत्मदाह की घटनाएं हो रही। लोगों की सुनवाई न पुलिस कर रही है न प्रशासन और सत्ता में बैठे लोग। हार कर लोग सत्ता के प्रतिष्ठान के आगे आत्मदाह करने को मजबूर है। पूरे प्रदेश में कानून व्यवस्था दम तोड़ चुकी है । अब लोगो की जान लेकर इसकी मुनादी की जा रही है।उन्होंने कहा कि अपराध में प्रदेश नम्बर हो चुका है। दलितों से ऊपर सबसे ज्यादा उत्पीड़न भी योगी आदित्यनाथ की सरकार की उपलब्धि है।जारी प्रेसनोट में बताया गया कि दम तोड़ चुकी कानून व्यवस्था और आपराधिक घटनाओं को लेकर आज प्रदेश कार्यालय में कानून व्यवस्था की आत्मा की शांति के लिए श्राद्ध और शांति पाठ का आयोजन किया गया। इस शांति पाठ से पहले कांग्रेसजन ने अपने बाल उतरवा कर विरोध प्रदर्शन भी किया।

पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गये कांग्रेसजनों में प्रमुख रूप से प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री मनोज यादव, शहर अध्यक्ष मुकेश सिंह, अभिमन्यु सिंह, डा0 शहजाद आलम, डा0 आर0सी0 उप्रेती, प्रभाकर मिश्रा, शाहिद अली, मुरली मनोहर, अशोक उपाध्याय, सुरेश पाल, प्रदीप सिंह, योगेश्वर सिंह, इस्लाम अली, संजय श्रीवास्तव, आलोक सिंह रैकवार, रंजीत भारती, श्री संजय कश्यप, प्रभात गुप्ता सहित तमाम लोग शामिल रहे।