September 23, 2021

Nishpaksh Dastak

Nishpaksh Dastak

योगी के दमनचक्र व फर्जी मुकदमों से नहीं डरेंगे कार्यकर्ता-अजय कुमार लल्लू

  उ0प्र0 कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के चेयरमैन आलोक प्रसाद की गिरफ्तारी लोकतंत्र की हत्या। दलित नेता आलोक प्रसाद की गैर कानूनी तरीके से की गयी गिरफ्तारी से भाजपा सरकार की दलित विरोधी मानसिकता उजागर। झूठी सरकार दर्ज करा रही है कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं पर फर्जी मुकदमें, भेज रही है जेल।

डा0 उमा शंकर पाण्डेय 

लखनऊ, प्रदेश की योगी सरकार पीड़ितों को न्याय दिलाने में पूरी तरह विफल है। पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए आवाज उठाने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं, नेताओं पर फर्जी मुकदमें लगाकर जेल भेजने की कार्यवाही अत्यन्त घृणित और निन्दनीय है। योगी सरकार लोकतंत्र और संविधान की हत्या करने पर उतारू है। सरकार अपनी विफलताओं केा छुपाने के लिए लगातार कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नेताओं पर दमनचक्र चला रही है।

कांग्रेस के अनुसूचित जाति विभाग के चेयरमैन श्री आलोक प्रसाद की देर रात्रि 2.00बजे गैर कानूनी तरीके से की गयी गिरफ्तारी झूठी सरकार का फर्जी मुकदमें द्वारा उसके दलित विरोधी होने का एक बड़ा कारनामा पुनः प्रदेश की जनता के सामने सार्वजनिक हो गया है।

प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि आलोक प्रसाद की गिरफ्तारी के पहले उन्हें खुद को योगी सरकार ने फर्जी मुकदमा लगाकार एक महीने जेल मंे रखा। इसके अलावा कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता डा0 अनूप पटेल को विधानसभा के सामने महिला की आत्महत्या करने के मामले में फर्जी फंसाया गया, अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन शाहनवाज आलम को झूठे मुकदमें में जेल भेजा गया, पूर्व पार्षद शैलेन्द्र तिवारी बबलू को फर्जी मुकदमें में जेल भेजा गया और अब भाजपा के कार्यालय के सामने महिला के आत्मदाह का प्रयास करने के मामले में अनुसूचित जाति विभाग के चेयरमैन आलोक प्रसाद को फर्जी फंसाने का षडयंत्र कर रही है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश की येागी सरकार महिलाओं, बच्चियों के साथ हो रहे बलात्कार, सामूहिक बलात्कार, लूट, डकैती की जघन्य घटनाओं को रोक पाने में नाकाम साबित हुई है अपनी नाकामियों को छुपाने के लिए वह अपने विरोधी दलों के नेताओं और कार्यकर्ताओं पर फर्जी मुकदमें लाद रही है। अजय कुमार लल्लू ने कहा कि योगी सरकार के दमनचक्र और फर्जी मुकदमें से कांग्रेस कार्यकर्ता नहीं डरेंगे और डटकर मुकाबला करंगे।