विधानसभा सत्र के दौरान सदन में गरजे मुख्यमंत्री योगी,ट्विटर पर टॉप- में प्रचंड योगी

लखनऊ, यूपी विधानसभा मानसून सत्र के तीसरे दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का सम्बोधन ट्विटर इंडिया पर छाया रहा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सदन में विपक्ष को जमकर खरी-खोटी सुनाई। उनका संबोधन सोशल मीडिया में भी वायरल हो गया। यूजर्स हैश टैग #प्रचंडयोगी के साथ मुख्यमंत्री योगी का संबोधन तेजी से शेयर कर रहे थे। जिसके कारण #प्रचंडयोगी ट्विटर इंडिया में टॉप-1 में ट्रेंड करता रहा।

शनिवार को एक बार फिर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ट्विटर इंडिया पर छाए रहे। इस बार इसका कारण मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा सदन में दिए गए वो तीखे बयान हैं जिसने विपक्ष की बोलती बंद कर दी। योगी ने विधानसभा मानसून सत्र के8 तीसरे दिन विपक्ष को जमकर अपने निशाने पर लिया। मुख्यमंत्री योगी ने सदन में कहा कि हमने यूपी के लोगों को कोरोना से बचाने में महत्वपूर्ण काम किया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली के कुछ नमूने यहां आकर पूछते हैं आपने लोगों के लिए क्या किया। मुख्यमंत्री योगी ने आंकड़ों के साथ कई सारे उदाहरण पेश किए जो सोशल मीडिया में छाए रहे।

हैश टैग #प्रचंड_योगी का प्रयोग करते हुए यूजर्स ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के दौरान योगी आदित्यनाथ ने शानदार कार्य किया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सबसे पहले प्रवासी श्रमिकों को प्रदेश में वापस लाने की मुहिम छेड़ी थी। 36 लाख से अधिक प्रवासी कामगारों का पूरा डेटा बैंक तैयार कर सवा करोड़ लोगों को रोजगार देने की व्यवस्था भी की। लोगों ने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को पूरा करने की तरफ योगी सरकार ने कई सारे प्रभावी कदम बढ़ाए हैं। आयुष मंगल नाम के यूजर्स ने कहा कि कानून-व्यवस्था, महिला सुरक्षा इत्यादि के आंकड़े बताते हैं कि सीएम योगी एक जिम्मेदार सीएम हैं। निधि जैन नाम की यूजर्स ने लिखा सीएम योगी ने कोरोना कालखंड में भी किसानों की फसल की कटाई समय पर हो इसके लिए व्यवस्थाएं सुनिश्चित की। इस दौरान उत्तर प्रदेश की सभी 119 चीनी मिलें और 2,500 कोल्ड स्टोरेज भी संचालित रखे गए।