श्रीराम मंदिर का शिलान्यास एवं भूमि पूजन कार्यक्रमों का होगा लाईव प्रसारण

भारत के प्रधानमंत्री जी का दिनांक 5 अगस्त 2020 को अयोध्या में श्रीराम मंदिर का शिलान्यास कार्यक्रम एवं भूमि पूजन निर्धारित किया गया है। जिसमें राम की पैड़ पर ओबी वैन दिनांक 04 अगस्त तक स्थापित करें।


अयोध्या , जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने प्रधानमंत्री के आगमन 05 अगस्त 2020 के आगमन को सफल सम्पन्न कराने हेतु मीडिया कर्मियो से कोविड-19 प्रोटोकाल पालन करने तथा सभी से मास्क पहनने का अपील किया तथा दीपप्रज्जलन तथा मीडिया कवरेज संबंधी कार्यक्रमो को सकुशल व संक्रमण मुक्त रूप से सम्पन्न कराने हेतु आवश्यक है, है कि दिनांक 04अगस्त को अपरन्ह 02 बजे के बाद कार्यक्रम समाप्ति तक राम की पैड़ी पर भीड़ नियंत्रण हेतु ओबी वैन के अतिरिक्त अन्य किसी वाहन का प्रवेश होने न दिया जाये साथ ही मीडिया कर्मियो एवं दीप प्रज्जलन से संबंधित कर्मियो/व्यक्तियो के अलावा सफाई कर्मियो, ड्यूटी में तैनात व्यक्तियो के अलावा किसी व्यक्ति का पूर्णतः प्रवेश वर्जित रखा जाये तथा पैड़ी पर मौजूद सभी व्यक्ति अनिवार्य रूप से मास्क पहने एवं सोशल डिस्टेसिंग का पालन करे।

मीडिया कर्मियो के प्रवेश हेतु उनके मान्यता कार्ड प्रेस से निर्गत परिचय-पत्र के साथ आधार/वोटर कार्ड के आधार पर प्रवेश करने दिया जाये इसमें सिविल मजिस्ट्रेट एवं पुलिस अधिकारी सहयोग करे। क्षेत्राधिकारी अयोध्या 9454401394/क्षेत्राधिकारी नगर 9454401393 से बात कर सकते है। मीडिया कर्मियो के अन्य वाहनो के पार्किग व्यवस्था संग्रहालय के आसपास के अलावा नया घाट पर स्थिति पार्किंग स्थल पर की गई है।


जिलाधिकारी ने विशेषकर पत्रकारों की सुविधाओं का ध्यान रखा है। क्योकि हमारे जिलाधिकारी पूर्व में उत्तर प्रदेश के सूचना निर्देशक रहे है इसलिए इनको पत्रकारों की आवश्यकताओं और उनकी जिज्ञासाओं का पूरा ध्यान रखा है। इसके लिए अंतराष्ट्रीय रामकथा संग्रहालय में मीडिया सेन्टर के स्थापना की है जो पूर्ण रुप से सक्रिय हो गया है वहां पर फोटो वीडियों टीम तैनात रहेगी जो हाई रिज्यूलूशन फोटो व वीडियों मीडिया सेन्टर में तैनाती तरीको को टाईम गैप के बिना सभी सोशल मीडिया हैण्डल यूटयूब चैनल, information.up.nic.in एवं पत्रकारों के ग्रुप में अपलोड़ किया जायेगा। कार्यक्रमों का सभी स्थलों से लाईव प्रसारण दूरदर्शन तथा एएनआई के द्वारा लगातार उपलब्ध कराया जायेगा। दूरदर्शन एवं एएनआई पर उपलब्ध होने वाले फीड लिंक का विभागीय बेवसाईट पर उपलब्ध होगा जिसको इलेक्ट्रानिक चैनल भी प्रयोग कर सकेंगे। मीडिया कर्मियों को रिपोटिंग के लिए राम की पैड़ी को उपयुक्त स्थल के रुप में तैयार किया जा रहा है जहां से वे रिपोटिंग करेंगे तथा भीड़ भाड़ न हो ऐसी व्यवस्था भी करेंगे तथा आवश्यकतानुसार राम की पैड़ी नया घाट की तरफ तथा मीडिया सेंटर संग्रहालय के पास अपना ओवी वैन आदि तैनात करेंगे। जिसके लिए स्थान उपलब्धता एवं स्थानीय मजिस्ट्रेट एवं पुलिस अधिकारी की सहमति आवश्यक है। कार्यक्रम का सजीव प्रसारण दूरदर्शन एवं एएनआई के माध्यम से किया जायेगा।


कार्यक्रम अंतराष्ट्रीय मीडिया की विशेष रुचि रहेगी अतः आवश्यक है कि मीडिया कर्मियों, फोटोग्राफर द्वारा वीवीआईपी दर्शन स्थलों मार्गो पर दुकानों, छतो आदि पर अनावश्यक भीड़ न लगायी जाय। इसके दृष्टिगत मीडिया चैनलों की रिपोटिंग में नवम्बर 2019 में सर्वोच्च न्यायालय के द्वारा श्रीरामजन्मभूमि के निर्णय के समय की गयी व्यवस्था लागू रहेगी। किसी कार्यक्रम में डिबेट का आयोजन कार्यशाला निकट कारसेवकपुरम अथवा किसी निजी स्थानों होटलों आदि में विना सर्वसामान्य की भागीदारी के किया जा सकेगा। तथा ऐसे कोई स्थानीय को कोई समस्या होगी तो निर्धारित स्थान के लिए उपनिदेशक सूचना अयोध्या डा मुरलीधर सिंह फो 9453005405 एवं 7080510637 के माध्यम से सम्पर्क करेगा तथा श्री सिंह स्थानीय पुलिस या अधिकारी से समन्वय करके समस्या को दूर करायेंगे। पर मीडिया कर्मियांे को प्रत्येक दशा में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा तथा कार्यक्रम में विवादित व्यक्तियों का प्रतिभाग न हो ऐसी व्यवस्था सम्बंधित मीडिया कर्मियों  को करनी पड़ेगी जिसके लिए पूर्व में एक निर्धारित प्रोफार्मा दिया गया है। जो संलग्न है। उस पर सक्षम अधिकारी से अनुमति लेना अनिवार्य होगा। किसी भी प्रकार से नाव के माध्यम से सरयू नदी का जल बढ़ने के कारण रिपोटिंग को पूर्ण रुप से प्रतिबंधित किया गया है।
जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि मीडिया सेन्टर संग्रहालय में एवं कार्यशाला में प्रवेश हेतु आवश्यक होगा कि सम्बंधित मीडिया कर्मियों के पास भारत सरकारध्राज्य सरकार के द्वारा मान्यता कार्ड हो या इलेक्ट्रानिक न्यूज चैनलध्समाचारपत्र/न्यूज एजेन्सी के द्वारा प्रदान किया गया पहचान पत्र साथ हो। साथ ही एक सरकारी दस्तावेज के रुप में वोटर आईडी कार्डध्आधार कार्ड रखना आवश्यक होगा। अनिधिकृत पोर्टल के ऐसे कर्मी जिला पुलिस वेरीफिकेशन न हुआ हो का प्रवेश वीवीआईपी मार्ग में या मीडिया सेन्टर आदि में नहीं होगा।

अयोध्या के सुरक्षा की संवेदनशीलता तथा वीआईपी कार्यक्रम की सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर इसका सम्बंधित अधिकारियों के द्वारा अनुपालन आवश्यक होगा। जिलाधिकारी ने यह भी बताया कि सूचना निदेशालय के द्वारा स्थानीय अधिकारियों कर्मचारियों के लगभग तीन दर्जन सूचना विभाग के अधिकारियों/कर्मचारियों को तैनात किया गया है। जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि किसी भी प्रकार की असुविधा से बचने के लिए ओवी बैन को कार्यक्रम की पूर्व संध्या पर निर्धारित स्थल पर स्थापित कर दिया जाय तथा प्रधानमंत्री जी के कार्यक्रम या जिला प्रशासन द्वारा प्रतिबंधित किये स्थानों पर प्रवेश पूर्णतया वर्जित होगा तथा प्रत्येक दशा में कोविड-19 कोरेाना वायरस के संक्रमण के दृष्टिगत स्वास्थ्य विभाग के द्वारा निर्धारित प्रोटोकाल जिसमें मास्क लगाना, नाक मुंह कवर रखना, दो गज की दूरी का अक्षरशः पालन करना आवश्यक होगा। इसी बीच उपनिदेशक सूचना मुरलीधर सिंह ने बताया कि स्थानीय कार्य में तैनात किये गये मजिस्ट्रेटों एवं पुलिस अधिकारियों से अनुरोध है कि इस बिन्दुओं पर पूर्व में चर्चा हो चुकी है। तथा मीडिया कर्मियों के मान्यताप्राप्त एवं उपर निर्धारित प्रवेश पत्रों के आधार पर निर्धारित कवरेज  के प्वाइंट तक जाने में सहयोग करें तथा मीडिया कर्मी भी अपना परिचय पत्र दिखाते हुए स्थानीय प्रशासन का सहयोग करें एवं कवरेज करें। समय समय पर उनको जानकारी दी जाती रहेगी तथा मेरा नम्बर 24 घंटे खुला रहेगा कोई भी जिज्ञासा हो तो बताया जायेगा तथा समय समय पर जिलाधिकारी एवं शासन के निर्देशों से अवगत कराया जाता रहेगा।