सपा और महान दल मिलकर लड़ेंगे विधानसभा चुनाव

राजेन्द्र चौधरी

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से आज महान दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष केशव देव मौर्य ने भेंट की। दोनों नेताओं के बीच प्रदेश की राजनीतिक स्थिति पर चर्चा के दौरान इस बात पर सहमति बनी कि 2022 का विधानसभा चुनाव अखिलेश यादव के नेतृत्व में साथ मिलकर लड़ा जाएगा। दोनों दलों द्वारा मिलकर सामाजिक न्याय की लड़ाई लड़ने का भी निश्चय किया गया। महान दल समाजवादी सरकार बनाने के लिए पूरी ताकत से काम करेगा।

केशव देव मौर्य ने कहा कि भाजपा सरकार में शाक्य, सैनी, कुशवाहा, मौर्य समाज के साथ अन्याय हो रहा है। महान दल इस समाज के हितों के लिए संघर्ष करता रहा है। पीड़ित समाज को भाजपा सरकार से न्याय मिलने की कतई उम्मीद नहीं है। इसलिए उक्त समाज का भरोसा अखिलेश यादव पर है कि वे उनके हितों के लिए पूरी प्रतिबद्धता के साथ खड़े रहेंगे।

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा के एकाधिकारवादी और विकास विरोधी शासन को जनता सन् 2022 में करारा जवाब देने का इंतजार कर रही है। समाजवादी सरकार में सामाजिक न्याय के आधार पर प्रतिनिधित्व मिलेगा। उन्होंने संकेत दिया कि महान दल को विधानसभा चुनाव के समय समझौते में शामिल किया जाएगा।

केशव देव मौर्य ने भाजपा सरकार में अपने समाज के प्रति होने वाले अन्याय की घटनाएं बताते हुए कहा कि ललितपुर में श्री देवेन्द्र कुशवाहा को पुलिस ने 50,000/-रूपये घूस लेने के बावजूद भी थर्ड डिग्री देकर हत्या कर दी। कासगंज में करमवीर शाक्य को दबंगों ने चाकू मार दिया। पीड़ित पक्ष को मुआवजा भी नहीं मिला। मुरादाबाद में लक्षिमन सैनी की खेत में सोते समय हत्या कर दी गई। उसकी कटी गर्दन नहीं मिली।

श्री मौर्य ने बताया कि प्रदेश के उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य के गृह जनपद में दबंगो ने सरजू शरण कुशवाहा की हत्या कर दी। केस हल्की धाराओं में दर्ज हुआ। कोई भाजपा नेता मदद में नहीं गया। लखीमपुर खीरी में रामकुमार मौर्य के ऊपर गौकशी का फर्जी मुकदमा दर्ज करने के बाद पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। उन्होंने कहा उनके समाज पर इतने अन्याय भाजपा सरकार से पहले किसी भी सरकार में नहीं हुए थे। श्री मौर्य के साथ महान दल के प्रदेश अध्यक्ष शिव कुमार यादव, कोषाध्यक्ष जेपी मौर्य तथा युवा प्रदेश उपाध्यक्ष गजेन्द्र शाक्य ने भी अखिलेश यादव से भेंट की।