सपा के उत्तराखण्ड प्रदेश अध्यक्ष पद पर डा0 सत्यनारायण सचान

अखिलेश यादव ने डॉ0 सत्यनारायण सचान,54 सेवक आश्रम रोड, देहरादून को प्रदेश अध्यक्ष को उत्तराखंड समाजवादी पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया है।

   समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उत्तराखण्ड के राज्य बनने के 20 वर्षों बाद भी आज तक स्थायी राजधानी घोषित न होने, पलायन न रूकने और शिक्षा-स्वास्थ्य के क्षेत्र में बदहाली पर चिन्ता जताई है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड में समाजवादी पार्टी वैकल्पिक राजनीति के आधार पर चुनावी रणनीति तैयार करेगी और इसके लिए समाजवादी पार्टी संगठन को मजबूत बनाएगी।

     अखिलेश यादव ने कहा कि गैरसैंण में ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित तो कर दी गई है लेकिन अभी तक अतिरिक्त मुख्य सचिव तक की नियुक्ति वहां नहीं है। पर्वतीय क्षेत्र के भौगोलिक आधार पर पिछड़े वर्ग को आरक्षण का कोई लाभ नहीं मिला है। ओबीसी आरक्षण मात्र 14 प्रतिशत है, उन क्षेत्रों को केन्द्र की सेवाओं में आरक्षण नहीं मिल रहा है। सीमावर्ती क्षेत्रों के पिछड़ों को भी केन्द्र की सेवा में भी लाभ मिलना चाहिए।

अखिलेश यादव ने कहा कि नौजवानों का पलायन नहीं रूका है। पर्वतीय क्षेत्र में रोजगार नहीं है। कृषि क्षेत्र का समुचित विकास नहीं हो पाया है। वर्षा और भूस्खलन के कारण कई क्षेत्रों में तबाही मची है। राज्य में मेडिकल की सुविधाएं नहीं है। स्कूलों की हालत जर्जर है। नया राज्य बनने से जनता को जो उम्मीदें थीं, उन पर कांग्रेस-भाजपा ने सत्ता में आकर पानी फेर दिया है। उत्तराखण्ड की जनता के साथ यह धोखा है। समाजवादी पार्टी उत्तराखण्ड के हितों के लिए प्रतिबद्ध है।