गोरखपुर को चुनाव से पहले 70 करोड़ कि सौगात

मुख्यमंत्री ने जनपद गोरखपुर में लगभग 70 करोड़ रु0की 24 परियोजनाओं का शिलान्यास/लोकार्पण किया।सूचना भवन/सूचना संकुल, चन्दा घाट पर सेतु तथाकबीर धूनी/गोरख तलैया के सौन्दर्यीकरण कार्य का लोकार्पण,स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेण्ट का शिलान्यास।मुख्यमंत्री ने 1,000 छात्र-छात्राओं को स्मार्टफोन/टैबलेट वितरित किये।मुख्यमंत्री ने भरोहिया ब्लॉक परिसर में स्थापित ब्रह्मलीन महन्तअवेद्यनाथ जी महाराज की प्रतिमा का अनावरण किया।16 करोड़ रु0 की लागत से गीडा, गोरखपुर में स्टेट इंस्टीट्यूटऑफ होटल मैनेजमेण्ट की स्थापना की जाएगी।गोरखपुर के सूचना कार्यालय व सूचना संकुल का यह भवनमीडिया प्रतिनिधियों के लिए अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त भवन है।प्रदेश का युवा अपने आपको केवल एक युवा नहीं,बल्कि एक स्मार्ट युवा भी कह सकता । ईमानदारी से प्रयास करते हैं, तो जीवन में सफलतापथ-पथ पर आपके साथ आती हुई दिखाई देगी, नये भारतका नया उ0प्र0 इस दिशा में तेजी के साथ आगे बढ़ रहा।सार्वजनिक स्थान पर मास्क अवश्य धारण करें,हर हाल में कोरोना संक्रमण से बचाव के उपाय करें । 15 वर्ष से ऊपर के सभी बच्चे वैक्सीन अवश्य लगवाएं।


गोरखपुर। आज एक करोड़ युवाओं को टैबलेट/स्मार्टफोन उपलब्ध कराने की कार्यवाही की जा रही है। प्रदेश का हर स्नातक और परास्नातक विद्यार्थी या इण्टरमीडिएट पास करके जो युवा आई0टी0आई0 या स्किल डेवलपमेण्ट का कोर्स कर रहा हो उसको टैबलेट अथवा स्मार्टफोन उपलब्ध कराया जा रहा है। लखनऊ में 60 हजार युवाओं को एक ही जगह टैबलेट और स्मार्टफोन वितरित किये गये। वाराणसी, गोरखपुर, अलीगढ़ और सहारनपुर में 02-02 हजार युवाओं को टैबलेट/स्मार्टफोन वितरित किये जा चुके हैं। प्रदेश के हर जनपद में टैबलेट/स्मार्टफोन पहुंच रहा है। हमारा प्रयास होगा कि कॉलेजवार, विश्वविद्यालय, मेडिकल कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेज, आई0टी0आई0, डिग्री कॉलेज के सभी छात्र/छात्राओं के लिए स्मार्टफोन उपलब्ध कराया जायेगा। टैबलेट व स्मार्टफोन में जो खर्च आयेगा, उसे उत्तर प्रदेश सरकार वहन करेगी। स्मार्टफोन/टैबलेट में उपयोगी कंटेन्ट उपलब्ध होगा। दुनिया की सबसे अच्छी कम्पनियों को जोड़कर छात्र-छात्राओं को पाठ्यक्रम उपलब्ध कराया जायेगा। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अन्तर्गत एक युवा जब अपनी पढ़ाई पूरी करता है, तो उसी दौरान वह अपना रास्ता तय कर सके, इसके लिए केन्द्र व प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं जैसे प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री स्टार्टअप योजना, प्रधानमंत्री स्टैण्डअप योजना, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, एक जनपद एक उत्पाद योजना, विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना आदि योजनाओं को भी इसके साथ जोड़ने का कार्य किया जाएगा। टैबलेट/स्मार्टफोन में इनसे सम्बन्धित सभी फंक्शन उपलब्ध होंगे। उनमें से किसी को भी क्लिक करेंगे, तो वांछित जानकारी उपलब्ध हो जाएगी। कोरोना का प्रकोप बढ़ रहा है। कोरोना महामारी में न केवल ऑफलाइन एजुकेशन, बल्कि ऑनलाइन परीक्षा के लिए भी स्मार्टफोन को उपलब्ध कराया जा रहा है। प्रदेश के युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने के लिए राज्य के बाहर न जाना पड़े, इसके लिए ऑफलाइन एवं ऑनलाइन अभ्युदय कोचिंग क्लासेस को प्रदेश में प्रारम्भ किया जा चुका है।

योगी आदित्यनाथ ने जनपद गोरखपुर में लगभग 70 करोड़ रुपये लागत की कुल 24 परियोजनाओं का शिलान्यास/लोकार्पण किया। इसमें 52 करोड़ रुपये की 19 परियोजनाओं का लोकार्पण तथा लगभग 18 करोड़ रुपये की 05 परियोजनाओं का शिलान्यास शामिल है। लोकार्पित परियोजनाओं में सूचना भवन/सूचना संकुल का निर्माण, चन्दा घाट पर निर्मित सेतु, कबीर धूनी/गोरख तलैया के सौन्दर्यीकरण का कार्य तथा शिलान्यास की गयी परियोजनाओं में स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेण्ट प्रमुख रूप से शामिल है।मुख्यमंत्री ने 1,000 छात्र-छात्राओं को स्मार्टफोन/टैबलेट का वितरण किया। मुख्यमंत्री ने भरोहिया ब्लॉक परिसर में स्थापित ब्रह्मलीन महन्त अवेद्यनाथ जी महाराज की प्रतिमा का अनावरण भी किया। गोरखपुर के सूचना कार्यालय व सूचना संकुल का यह भवन मीडिया प्रतिनिधियों के लिए अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त भवन है। 16 करोड़ रुपये की लागत से गीडा, गोरखपुर में स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेण्ट की स्थापना की जाएगी। इसके लिए जमीन दे दी गयी है। स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेण्ट की स्थापना हो जाने पर यहां के लोगों को उससे सम्बन्धित स्पेसिफिक कोर्स से जुड़ने का मौका मिलेगा। प्रयास होगा कि अगले सत्र से संस्थान के माध्यम से युवाओं को अपना सुनहरा भविष्य आगे बढ़ाने का अवसर प्राप्त होने लगे।


पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों के साथ ही अनुभवी लोगों को इस कोचिंग के साथ जोड़ा गया है। राज्य सरकार प्रदेश में अच्छी कोचिंग उपलब्ध करा रही है। 10 हजार ऐसे युवाओं को टैबलेट/स्मार्टफोन उपलब्ध करवाये जा रहे हैं, जो मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के माध्यम से विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं। प्रदेश का युवा अपने आपको केवल एक युवा नहीं, बल्कि एक स्मार्ट युवा भी कह सकता है। जब टैबलेट/स्मार्टफोन उसके हाथ में होगा, तो देश व दुनिया की सारी जानकारी उसकी पॉकेट में होगी, तो इससे वह अपने उज्ज्वल भविष्य के लिए स्वयं को तैयार कर पायेगा। युवाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि ज्ञान की कोई सीमा नहीं है, यह असीमित है। आपको उसके लिए स्वयं को तैयार करना होगा। अगर आप उसके लिए अपने आपको तैयार करते हैं, तो यह मानकर चलिये कि आपका भविष्य उज्ज्वल है। जीवन में शॉर्टकट का रास्ता किसी व्यक्ति को तात्कालिक सफलता दिला सकता है, लेकिन स्थायी सफलता नहीं दे सकता। स्थायी सफलता के लिए व्यक्ति को परिश्रम के साथ ईमानदारी से पूरा प्रयास करना होगा। ईमानदारी से प्रयास करते हैं, तो जीवन मे सफलता पथ-पथ पर आपके साथ आती हुई दिखाई देगी। नये भारत का नया उत्तर प्रदेश इस दिशा में तेजी के साथ आगे बढ़ रहा है। पिछले पौने पांच वर्ष के दौरान राज्य सरकार ने साढे़ चार लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दी है। 01 करोड़ 61 लाख नौजवानों को रोजगार की सुविधाएं उपलब्ध करायी गयीं, 60 लाख लोगों को स्वतः रोजगार से जोड़ने का कार्य भी किया गया। 15 वर्ष से ऊपर के सभी बच्चे वैक्सीन अवश्य लगवाएं। वैक्सीन कोरोना महामारी के खिलाफ सुरक्षा कवच है। कोरोना के विरुद्ध इस लड़ाई को जीतना है तो हम सबको इसमें सहभागी बनना होगा। सार्वजनिक स्थान पर मास्क अवश्य धारण करंे, हर हाल में कोरोना संक्रमण से बचाव के उपाय करें। थर्ड वेव खतरनाक नहीं है, लेकिन सावधानी और सतर्कता बीमारी में हमेशा आवश्यक है। बीमारी को छुपाना नहीं चाहिए।