ए डी बेसिक ने शिक्षकों को निपुण विद्यालय बनाने का दिया मंत्र

चार दिवसीय प्रशिक्षण में शिक्षकों से मुखातिब हुए सहायक शिक्षा निदेशक। ए0डी0 बेसिक ने शिक्षकों को निपुण विद्यालय बनाने का दिया मंत्र।

अब्दुल जब्बार एडवोकेट व डॉ0 मो0 शब्बीर

भेलसर(अयोध्या)। सहायक शिक्षा निदेशक(बेसिक)राम सागर पति त्रिपाठी ने रूदौली एजुकेशनल इंस्टिट्यूट सरायपीर में निपुण भारत मिशन के अन्तर्गत परिषदीय शिक्षकों के चल रहे चार दिवसीय प्रशिक्षण का निरीक्षण किया।इस दौरान सहायक शिक्षा निदेशक ने शिक्षकों को अपने विद्यालय को निपुण विद्यालय बनाने के लिए मूलमंत्र दिया।उन्होंने कहा कि बच्चों के ठहराव व उनकी नियमित उपस्थिति के लिए उनके अविभावकों की काउंसलिंग करना चाहिए।अविभावकों को उनके परिवेशीय उदाहरण से उनको शिक्षा की महत्ता व नियमितता को समझाना होगा।

उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि जिस प्रकार सिचाई के दौरान एक बार पानी बन्द कर देने पर पानी का बहाव रुक जाता है उसी प्रकार बच्चों की अनुपस्थिति से बच्चे नियमित पढ़ाई से वंचित रह जाते है और फिर से उनको मुख्य धारा में लाने के लिए हमें शुरू से शुरुआत करनी पड़ती है।एडी बेसिक ने कहा कि हमें बच्चो को उनकी शैक्षिक उपलब्धि के हिसाब से छांट लेना है और उनको उपचारात्मक शिक्षण से उनकी कक्षा के अनुरूप दक्षता तक ले जाना है।इस दौरान प्रशिक्षक जितेंद्र तिवारी,सम्पूर्णानंद सिंह,शालिनी सिंह,रामलाल,रामकृष्ण गुप्ता,कुंवर आनंद सिंह,क्षितिज पटेल,रागिनी गुप्ता,विद्या वर्मा,दीपा पांडेय,स्वामीनाथ,शिव बहादुर समेत सभी प्रशिक्षणार्थी मौजूद रहे।