नगर निकाय चुनाव भाजपा हारेगी-अखिलेश

145
नगर निकाय चुनाव भाजपा हारेगी-अखिलेश
नगर निकाय चुनाव भाजपा हारेगी-अखिलेश

   सपा सुप्रीमों एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज दूसरे चरण के नगर निकाय चुनाव प्रचार के अन्तिम दिन कानपुर देहात एवं कानपुर नगर में जनसभा और रोड-शो किया, जिसमें जनता ने बड़े जोश खरोश के साथ बड़ी तादात में शामिल होकर अखिलेश यादव का अभिनंदन किया। कानपुर देहात के रसूलाबाद में नगर पंचायत अध्यक्ष पद के प्रत्याशी यदुनाथ शंखवार के पक्ष में अखिलेश यादव ने जनता के समर्थन की अपील की। श्री यादव ने कहा कि नगर निकाय चुनाव में भाजपा की हार होने जा रही है। भाजपा ने नगर निगमों में भारी भ्रष्टाचार किया है। शहरों में स्मार्ट सिटी के नाम पर झूठ बोला और धोखा दिया। प्रदेश का एक भी शहर स्मार्ट सिटी के मानक को नहीं पूरा कर रहा है। नगर निकाय का चुनाव नालियों की साफ-सफाई, कूड़ा प्रबन्धन, जल निकासी, महंगी बिजली और महंगे हाउस टैक्स कम करने, सड़कों के निर्माण के लिए हो रहा है। निकाय चुनाव में भाजपाई जनसमस्याओं और जनसुविधाओं पर बात नहीं करते है। नगर निकायों में जो बजट आया भाजपा के लोगों ने उसमें भ्रष्टाचार किया और लूट लिया। भाजपा ने सब बर्बाद कर दिया है। इसलिए जनता भाजपा से नाराज है। नगर निकाय चुनाव भाजपा हारेगी-अखिलेश


    अखिलेश यादव ने कहा कि नदियों की सफाई नहीं हुई। मां गंगा की सफाई के नाम पर भ्रष्टाचार बहुत हुआ लेकिन मां गंगा साफ नहीं हुई। मुख्यमंत्री जी कह रहे हैं कि दो जगह सेल्फी प्वाइंट बना दिया है लेकिन नदियों में नाले गिर रहे हैं। नदियों के पानी में बहुत बदबू है। गोमती नदी इसका उदाहरण है। भाजपा ने गोमती नदी रिवरफ्रंट का काम रोक दिया है। सरकार नदियों में गिरने वाले नाले नहीं बंद कर पायी। बिना नालों के बंद किये गंगा नदी कैसे साफ हो सकती है?श्री यादव ने कहा कि इस बार नगर निकाय चुनाव में नगरों में कूड़ा के साथ भाजपा भी साफ हो जाएगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी के खिलाफ मुकदमों की लिस्ट बहुत लम्बी थी। क्या उन्होंने स्वयं के मुकदमे वापस नहीं लिए?


   अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार जनता को स्मार्ट सिटी का सपना दिखा रही है लेकिन भाजपा ने प्रदेश में विकास का कोई काम नहीं किया। भाजपा के पास जनता को बताने के लिए एक भी उपलब्धि नहीं है, इसीलिए मुख्यमंत्री जी को हर बात पर तमंचा याद आता है। मुख्यमंत्री जी से कोई सवाल पूछो तो कहते हैं तमंचा। समाजवादी सरकार में चौड़ी सड़कें बनी। 102 और 108 एम्बूलेंस चलायी गयी। लोगों की सुरक्षा के लिए डायल 100 की सुविधा दी गई। भाजपा सरकार ने इन सभी सुविधाओं को बर्बाद कर दिया है। अखिलेश यादव का रोड-शो जाजमऊ से प्रारम्भ होकर केडीए, लाल बंगला, हरजिन्दर नगर, नरोरा चौराहा, फूलबाग, बिरहाना रोड, नयागंज, कैनाल रोड, घंटाघर, संगीत, पी रोड, नाला रोड से होते हुए रूपम में जाकर समाप्त हुआ।


    रोड-शो में समाजवादी पार्टी की कानपुर की मेयर प्रत्याशी वंदना बाजपेयी, प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, विधायक अमिताभ बाजपेयी, पूर्व सांसद श्री राजाराम पाल, इरफान सोलंकी की पत्नी नसीम सोलंकी, महानगर अध्यक्ष फजल महमूद, कानपुर ग्रामीण अध्यक्ष मुनीन्द्र शुक्ल आदि विशेष रूप से उपस्थित रहे।कानपुर नगर के रोड-शो में अखिलेश यादव की एक झलक पाने के लिए हजारों नौजवान, महिलाएं, किसान, बुजुर्ग और व्यापारी भी घंटों सड़क किनारे लाइन में लगे रहे। श्री यादव जिस रास्ते से निकले छतों पर बालकनी से महिलाओं और बच्चों ने उन पर फूल बरसाए। लोग उत्साह में उनकी तरफ माला फेंक रहे थे और अखिलेश जी भी उनका मान रख रहे थे। पूरा वातावरण अखिलेश यादव जिन्दाबाद के नारों से गूंजता रहा।  नगर निकाय चुनाव भाजपा हारेगी-अखिलेश