अखिलेश यादव ने चंदौली घटना की हाईकोर्ट के सिटिंग जज से जांच कराने की मांग

राजेन्द्र चौधरी

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज चंदौली जिले के मनराजपुर गांव में पहुंचकर पीड़ित परिवार से मुलाकात की। अखिलेश यादव ने पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए हर सम्भव मदद का भरोसा दिया। उन्होने सरकार से भी पीड़ित परिवार को मदद करने को कहा।मनराजपुर गांव में पुलिस ने कन्हैया यादव के घर दबिश डालकर उनकी बेटियों की पिटाई की थी। पिटाई से एक बेटी की मौत हो गयी। अखिलेश यादव ने घटना की हाईकोर्ट के सिटिंग जज से जांच कराने की मांग की। उन्होने कहा कि उच्चस्तरीय न्यायिक जांच से ही परिवार को न्याय मिलेगा। भाजपा सरकार की जांच से परिवार को न्याय नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा कि पुलिस दबिश देने नही दबंगई दिखाने जाती है। थाने अराजकता के केन्द्र बन गये हैं। बेटी और परिवार का आरोप है कि पुलिस ने जान ली है उस पर हत्या का मुकदमा चलना चाहिए। भाजपा सरकार में अन्याय और अत्याचार बहुत बढ़ गया है।


अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा समाज को शान्ति से नही रहने देना चाहती है। वह नफरत फैला रही है। भाजपा चाहती है लोग आपस में लड़ते रहे। उनके बीच झगड़ा लगा रहे।श्री यादव ने कहा कि महंगाई, बेरोजगारी के लिए भाजपा सरकार जिम्मेदार है। जनता महंगाई से त्रस्त है। भाजपा चाहती है कि बेरोजगारी पर चर्चा न हो। आटा महंगा हो गया है। बिजली महंगी हो गयी है। भाजपा सरकार प्रदेश में निवेश के बडे़-बड़े दावे करती है लेकिन कहीं कोई निवेश नही हुआ। मां गंगा की सफाई के दावे झूठे साबित हो रहे हैं। गंगा जी में मछलियां डालते ही मर गयी। इसका मतलब गंगा जी के पानी में ऑक्सीजन नहीं बचा है।


अखिलेश यादव ने कहा भाजपा सरकार ने अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया है। नौजवानों के लिए नौकरी, रोजगार नहीं है। वहीं भाजपा के कुछ उद्योगपति मित्र सब कुछ खरीद ले रहेें है। भाजपा के पास बेरोजगारी, महंगाई, स्वास्थ्य सेवाओं और खराब कानून व्यवस्था को लेकर कोई जबाव नही हैं। जनता को अब खुद सामने आकर संघर्ष करना पड़ेगा।श्री यादव ने कहा कि भाजपा लोकतंत्र को खत्म कर रही है। भाजपा ने यूपी को पुलिस स्टेट बना दिया है। पुलिस के जरिए प्रेस और जनता की आवाज दबाई जा रही है। सरकार पुलिस के जरिए जाति, धर्म देखकर झूठे मुकदमें लगा रही है। सबसे ज्यादा हिरासत में मौतें और फर्जी एनकाउंटर उत्तर प्रदेश में हुए हैं। भाजपा के राजनीतिक विरोधियों पर बुलडोजर चलाये जा रहे है। सरकार बताएं की हत्या में शामिल पुलिस कर्मियों के घरों पर बुलडोजर कब चलेगा। उन्होंने पीड़ित परिवार के लिए सुरक्षा की भी मांग की। इसी तरह की घटना हाथरस में भी हुई थी वहां भी पीड़ित परिवार को न्याय नहीं मिला।


अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार जनहित के काम करना नहीं चाहती है। वह जाति, धर्म के आधार पर द्वेष भावना से कार्य कर रही है। भाजपा सरकार बुलडोजर के जरिए गरीबों को परेशान कर डरा रही है। समाजवादी पार्टी जनता के साथ हो रहे अन्याय को बर्दाश्त नहीं करेगी।श्री यादव ने चंदौली के बाद वाराणसी जेल में बंद निर्दोष समाजवादी कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। उन्होंने कहा ईवीएम मशीनों के स्थानान्तरण में नियमों का उल्लंघन हो रहा था। उसे रोकने पर समाजवादियों को जेल में क्यों डाल दिया गया है…?