उत्तर प्रदेश में ला ऐंड आर्डर का बुरा हाल-अखिलेश यादव

राजेन्द्र चौधरी

उत्तर प्रदेश में ला ऐंड आर्डर का बुरा हाल ये है कि खुद राजधानी लखनऊ में पूरब हो या पश्चिम हर जोन में चोरी की वारदातो से कोहराम मचा हुआ है। बदायूं में पुलिस के उत्पीड़न के चलते युवती ने फंदे से लटककर जान दे दी। जिन पर बेटियों की सुरक्षा का जिम्मा है अगर वही उत्पीड़न करेगें तो न्याय के लिए कहां जाएगी बेटिया? कन्नौज में सिपाही ने एक युवती को नशीला पदार्थ पिलाकर दुष्कर्म किया।पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि अव्यवस्था, अंधेरगर्दी और अन्याय भाजपा के पर्याय बन गये हैं। किसानों, नौजवानों, गरीबों से धोखा और बंटवारे की राजनीति को बढ़ावा देना ही भाजपा की कार्य-संस्कृृति है। भाजपा सरकार में जो रोज बढ़ती है वो मंहगाई है और जो रोज कम हो रही है वो आम आदमी की कमाई है। ना कानून का डर बचा है, ना पुलिस का इकबाल। ऐसे में प्रदेश के विकास और भारी भरकम निवेश का सुनहरा सपना दिखाया जाना जनता को छलने के नए उपक्रम के अलावा और कुछ नहीं है।


रोजमर्रा की चीजों, अनाज और सब्जियों का उपयोग जनसामान्य करता है उसके दाम आसमान को छू रहे हैं। पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस के बढ़ते दामों से घरेलू अर्थव्यवस्था चौपट हो गई है उत्तर प्रदेश में दो बार बनी डबल इंजन सरकार फिर भी नहीं बदले किसानों के हाल। न आय दोगुनी हुई, नहीं कर्जमाफी हुई। साहूकार के कर्ज तले दबे ललितपुर के किसान की आत्महत्या विचलित करती है।जिस समय मुख्यमंत्री जी अयोध्या के दौरे पर थे उसी समय सत्ता संरक्षित बेखौफ बदमाशों ने दिन दहाडे़ अयोध्या में गर्भवती शिक्षिका की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी। अयोध्या में जगह-जगह सुरक्षा बलों की उपस्थिति के बाद भी ऐसी हत्या, शासन-प्रशासन को अपराधियों की खुली चुनौती है। कानपुर में सिपाही की गर्दन रेतकर हत्या कर दी गई। बांदा में नर्सिंग की छात्रा की हत्या हुई।


राजधानी लखनऊ में युवती की सरेशाम कार में खीचा गया, पीटा, कपडे़ फाडे़ फिर चलती गाड़ी से फेंक दिया गया। सच तो यह है कि भाजपाई हर क्षेत्र में अपनी दबंगई दिखा रहे हैं जिससे जनता परेशान है। जहां पुलिस भाजपा के लोगो की बात नहीं मानती वहां पुलिस की वे पिटाई करने में भी नहीं हिचकते है। आज उत्तर प्रदेश में भाजपा पूरी तरह विफल हो चुकी है। जनता भाजपा राज से त्राहि-त्राहि करने लगी है।