आशीष तिवारी होंगे बांदा जेल के नए अधीक्षक….!

बांदा जेल में वरिष्ठ अधीक्षक की तैनाती को लेकर नई कवायद।फिलहाल कार्यवाहक जेलर के कंधों पर जेल की जिम्मेदारी । आशीष तिवारी होंगे बांदा जेल के नए अधीक्षक!

राकेश यादव

लखनऊ। बांदा जेल में वरिष्ठ अधीक्षक की तैनाती को लेकर शासन व जेल मुख्यालय में हलचल मची हुई है। बीते सप्ताह तैनात किए गए अधीक्षक के अवकाश पर चले जाने की वजह से इस जेल पर तैनाती के लिए नए अधीक्षक की तलाश की जा रही है। चर्चा है कि लखनऊ जेल पर तैनात वरिष्ठ अधीक्षक आशीष तिवारी को बांदा जेल का नया अधीक्षक बनाया जा सकता है। शासन स्तर पर इसकी औपचारिक कार्यवाही भी शुरू हो गयी है। उधर जेल मुख्यालय के अफसर इसे शासन का मामला बताते हुए इस मसले पर कोई भी टिप्पणी करने से बच रहे है। 

बीते दिनों शासन ने नौ जेल अधीक्षक के तबादले किये थे। इसमें तीन नए व छह पुराने अधीक्षक शामिल थे। फतेहगढ़ जेल में तैनात रामधनी को सेंट्रल जेल इटावा, मऊ जेल अधीक्षक भीमसेन मुकुंद को फतेहगढ़, एटा के राजीव शुक्ला को जिला जेल बरेली, बरेली के विजय विक्रम सिंह को बांदा और बांदा के अरुण कुमार सिंह को जेल प्रशिक्षण संस्थान भेजा गया था।

वरिष्ठ के बजाए अब तक हुई अधीक्षक की तैनाती-बांदा मंडलीय कारागार में वरिष्ठ अधीक्षक की तैनाती को लेकर विभागीय अधिकारियों में तमाम तरह कि चर्चाएं आम हो गयी है। चर्चा है कि इस जेल तैनाती विवादों में ही रही है। मंडलीय कारागार होने की वजह से इस जेल पर वरिष्ठ अधीक्षक की तैनाती होनी चाहिए। शासन हर बार इस जेल पर वरिष्ठ अधीक्षक के बजाए अधीक्षक की तैनाती कर रहा है। उन्नाव व बरेली अधीक्षक की तैनाती इसका जीता जाता उदाहरण है। यही नही इस जेल पूर्वांचल के ही अधिकारियों को तैनात किया जाता है। तैनात किए गए दोनों अधिकारी जौनपुर के रहने वाले बताए जा रहे हैं।

सूत्रों का कहना है करीब छह माह पूर्व  उन्नाव जेल से हटाकर बांदा जेल भेजे गए अधीक्षक के आये दिन अवकाश पर होने की वजह से जेल का कार्य प्रभावित हो रहा है। बांदा डीएम ने इसकी रिपोर्ट शासन को भेजकर नई तैनाती किये जाने का निर्देश दिया। इस निर्देश के बाद शासन ने आनन फानन में बरेली के अधीक्षक को बांदा जेल पर तैनात कर दिया गया। नये तैनात अधीक्षक के अवकाश पर चले जाने से शासन व जेल मुख्यालय में हड़कम मचा हुआ है। सूत्रों की मानें तो बांदा जेल में तैनाती के लिए पहले लखनऊ जेल के वरिष्ठ अधीक्षक का नाम आया था किंतु सेटिंग-गेटिंग से उन्होंने अपना नाम हटवा दिया। तैनात अधीक्षक के अवकाश पर जाने के बाद एक बार फिर उनका नाम सुर्खियों में आया है। चर्चा है शासन में   अतिसंवेदनशील बांदा जेल में नई तैनाती के लिए कागजी कार्यवाही हो रही है। जल्दी ही नए अधीक्षक के तैनाती का आदेश जारी हो जाएगा। उधर इस संबंध में जेल मुख्यालय के अफसर शासन का मामला बताते हुए टिप्पणी करने से बच रहे है। एसीएस होम अवनीश अवस्थी से काफी प्रयास के बाद भी संपर्क नही हो पाया।