कन्याकुमारी से कश्मीर तक भारत जोड़ो पदयात्रा का शुभआरंभ

कांग्रस ने किया कन्याकुमारी से कश्मीर तक भारत जोड़ो पदयात्रा का शुभआरंभ। देश के 12 राज्य एवं 2 केन्द्रशासित प्रदेशों से गुजरने वाली यात्रा किसानों, नौजवानों के लिए होगी न्याय की हुंकार।

लखनऊ।
देश के हालात को देखते हुए अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने आज 7 सितंबर 2022 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष एवं सांसद राहुल गांधी के नेतृत्व में कन्याकुमारी से कश्मीर तक भारत जोड़ो पदयात्रा की शुरूआत की गयी है। यह यात्रा देश के 12 राज्यों एवं दो केन्द्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी। इस यात्रा का उद्देश्य भारतवासियों को न्याय दिलाना है। पदयात्रा का आरंभ करने से पूर्व राहुल गांधी ने पूर्व प्रधानमंत्री, भारत रत्न स्व0 राजीव गांधी के शहीदी स्थल श्रीपेरंबुदुर में पुष्पाजंलि अर्पित की उसके बाद राजीव गांधी जी की स्मृति में आयोजित प्रार्थना सभा में शामिल हुए। तदपश्चात विवेकानंद स्मारक एवं कामराज स्मारक पर पुष्प अर्पित कर भारत जोड़ों यात्रियों के साथ महात्मा गांधी मण्डपम से बीच रोड़ तक मार्च किया। उन्होंने भारत जोड़ो यात्रा का औपचारिक शुभआरंभ करने के लिए जनसभा को सम्बोधित किया।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता पंकज तिवारी ने बताया कि भाजपा सरकार जब से सत्ता में आई है, महंगाई अपने चरतोत्कर्ष पर है। बेरोजगारी 45 वर्षों में अपने उच्चतम स्तर पर है। देश की ग्रोथ रेट बढ़ने का नाम नहीं ले रही है। हाल ही में मोदी सरकार के NSO की रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि देश में किसानों की औसत आमदनी प्रतिदिन मात्र 27 रुपये रह गई है, जो मनरेगा मजदूरी से भी कम है। NSO की रिपोर्ट में यह भी चौंकाने वाले तथ्य सामने आया कि देश के हर किसान पर औसत कर्ज 74000 रुपये का है। दोगुनी आय करना तो दूर, किसान की आय दसियों गुना कम कर दी गई।

उन्होंने कहा बीते दिनों जीएसटी की बर्बर महँगाई की मार से दही, पनीर, लस्सी, आटा, सूखा सोयाबीन, मटर तक भी नहीं बच सका उस पर भी 5 फीसदी जीएसटी लगा दिया गया। उन्होंने कहा कि यही नहीं आज भारत की अक्षुण्णता और भूभागीय अखंडता को भी तोड़ा जा रहा है। चीन लद्दाख से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक भारत की सीमा में न सिर्फ घुस रहा है, बल्कि परमानेंट मिलिट्री इन्फ्रास्ट्रक्चर के साथ-साथ पूरी रिहायशी कॉलोनी तक बना रहा है और लाल-लाल आंखे दिखाने की बात करने वाले सत्ताधीश आँख मूंदकर बैठे हुए हैं।

प्रवक्ता ने आगे बताया कि आज केवल जातीय, धार्मिक उन्माद के नाम पर देश को तोड़ने की राजनीति की जा रही है। जिसे जोड़ने के लिए ही यह यात्रा की जा रही है। विभाजन करवा, नफरत फैला, दंगे करवा, झगड़ा करवा देश को तोड़ने कूटरचित साजिश की जा रही है। पूरे देश को धार्मिक धु्रवीकरण के अंधियारे में झोंक दिया गया है। देश को फिर तरक्की, बढ़ोत्तरी व भाईचारे के रास्ते पर ले जाने की आवश्यकता है। उक्त सभी जनता से जुड़े मुद्दों को देखते हुए भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने राहुल गांधी के नेतृत्व में एक नारा बुलंद किया है – ‘भारत जोड़ो’ का, जो प्रजातंत्र की गगनचुंबी ऊँचाइयों पर पहुंचेगा और तोड़ने की संस्कृति की तपती धूप में जोड़ने की मनोवृत्ति की शीतल छाया प्रदान करेगा।

कन्याकुमारी से कश्मीर तक 7 सितंबर, 2022 से 3570 किलोमीटर की ‘भारत जोड़ो’ पदयात्रा जो कि 155 दिनों में 12 राज्यों एवं 2 केंद्र शासित प्रदेशों से गुजरेगी, जो हर भारत के हर वर्ग, समुदाय, किसान, नौजवानों के हित के लिए ‘न्याय की हुंकार’ होगी।कांग्रेस प्रवक्ता पंकज तिवारी ने कहा कि इस यात्रा के माध्यम से भारत के गौरवशाली अतीत को स्वर्णिम भविष्य में बदलने के लिए हम सब अपने नेता सोनिया गांधी, राहुल गांधी,एवं प्रियंका गांधी के साथ कदम से कदम मिलाते हुए भारत को जोड़ने का संकल्प लेकर भारत जोड़ो यात्रा में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करेंगे।