26 जुलाई से संचालित आयुष्मान कार्ड पखवाड़ा

अयोध्या। जिलाधिकारी के निर्देश पर मुख्य विकास अधिकारी अनिता यादव ने विकास भवन सभागार में आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत दिनांक 26 जुलाई से संचालित आयुष्मान कार्ड पखवाड़ा में बनाए जा रहे गोल्डेन कार्ड में प्रगति की समीक्षा की। इस अवसर पर नोडल अधिकारी डा0 दीपक पाण्डेय ने अवगत कराया कि आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री की अतिमहत्वाकांक्षी योजना है जिसमें सामाजिक, आर्थिक एवं जातिगत जनगणना वर्ष 2011 के आच्छादित परिवारों को 5 लाख का निःशुल्क उपचार की व्यवस्था है, जिसके अन्तर्गत जनपद अयोध्या के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के चयनित परिवारों का आयुष्मान कार्ड बनाकर समस्त सूचीबद्ध सरकारी एवं निजी चिकित्सालयों में बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें प्रदान की जा रही है।

 योजना के अन्तर्गत वर्तमान में जनपद के 15 सरकारी चिकित्सालयो एवं 12 निजी चिकित्सालयो में यह सुविधा प्रदान की जा रही है। इस योजना से जनपद मे अब तक 10332 लाभार्थियो की निःशुल्क की चिकित्सा सेवा उपलब्ध करायी जा चुकी है। जनपद में अब तक 247601 लाभर्थियो के गोल्डेन कार्ड बनाये जा चुके है एवं बाकी बचे हुए पात्र परिवारों/व्यक्तियों हेतु  विशेष गोल्डेन कार्ड अभियान (आयुष्मान पखवाड़ा) 26 जुलाई से चलाकर गांव-गांव में चिन्हिृत लाभार्थियों के गोल्डेन कार्ड बनाये जा रहे है। जिसके अंतर्गत जिले के समस्त ब्लॉक में प्रतिदिन 5 कैंप और शहरी क्षेत्र में 3 कैंप का आयोजन किया जा रहा है। आयुष्मान पखवाड़ा के अंतर्गत 26 जुलाई से अब तक 4835 लाभार्थियों के गोल्डेन कार्ड बनाये जा चुके है इस अभियान में जनपद का मंडल में प्रथम स्थान है।


मुख्य विकास अधिकारी अनीता यादव ने ’कैम्प स्थल पर वी0एल0ई० द्वारा कैंप न लगाए जाने पर नाराजगी व्यक्त की तथा दायित्वों का निर्वहन न करने वाले जिले के 03 जन सेवा केंद्र की आई0 डी0 (रमेश कुमार आईडी नंबर-बीएलएसवीएलईएवाईओ 0363, दीपक गुप्ता आईडी नंबर-बीएलएसवीएलईवाईओ 0812 तथा रमेशआईडी नंबर-वीएलईवीएमएवाईओ 05168) को बंद करने की कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

 उन्होंने योजना के अंतर्गत आने वाले पात्र लक्षित परिवारों प्रेरित करते हुए कैंप में लाने तथा आयुष्मान कार्ड बनवाने हेतु आशा आरोग्य मित्रों आदि सहित संबंधित विभाग के कर्मियों एवं अधिकारियों को निर्देशित किया तथा जनप्रतिनिधियों से भी सहयोग करने की अपील की है जिससे अधिक से अधिक पात्र लोगों को  योजना से लाभान्वित किया जा सके। मुख्य विकास अधिकारी ने सभी कैंपों पर आने वाले व्यक्तियों को सुचारू रूप से सभी सुविधाएं उपलब्ध कराने हेतु भी अधिकारियों को निर्देशित किया।उन्होंने बताया कि आयुष्मान कार्ड बनवाने हेतु कैम्प स्थल पर लाभार्थी द्वारा आधार कार्ड, राशन कार्ड, परिवार पंजिका की नकल अथवा प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री का पत्र लेकर जाना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि जन सेवा केन्द्र के वी०एल०ई० द्वारा कैम्प में लाभार्थी से किसी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जायेगा।