बड़ी साज़िश का पर्दाफाश

लेडी डॉन बनकर गोरखनाथ मंदिर को उड़ाने की धमकी देने वाला गिरफ्तार,जांच में सामने आया सोनू सिंह का नाम।

गोरखपुर। ‘लेडी डॉन’ नाम के ट्वीटर हैंडल से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमले के साथ ही गोरखनाथ मंदिर को उड़ाने की धमकी फिरोजाबाद के सोनू सिंह नामक शातिर ने दी थी। जांच में नाम सामने आने के बाद कैंट पुलिस उसे दबोचने फिरोजाबाद भी गई, लेकिन वह हाथ नहीं आया। इस बीच बीते मई माह में आगरा पुलिस ने अपने यहां के एक मामले में उसे गिरफ्तार कर जेल भेजवा दिया था। इसकी जानकारी मिलने के बाद कैंट पुलिस वारंट बी के जरिये गुरुवार को उसे गोखपुर लेकर आई।

दरअसल, बीते 4 फरवरी को लेडी ‘लेडी डॉन’ नामक ट्वीटर हैंडल से एक के बाद एक कर तीन ट्वीट किए गए थे। ट्वीट में यूपी विधानसभा लखनऊ, रेलवे स्टेशन और बस अड्डा पर बम लगाने की बात लिखी थी। इतना ही नहीं सीएम पर भी हमले की धमकी दी गई थी। साथ ही यह भी लिखा कि राशिद ने बम लगा दिया है।पुलिस हरकत में आई तभी फिर ट्वीट किया गया कि गोरखनाथ मठ में आठ जगह सुलेमान भाई ने बम लगा दिया है…।

मेरठ में भी दस जगह बम ब्लास्ट की बात लिखी गई थी। जब यह ट्वीट किए जा रहे थे तब सीएम गोरखपुर में ही थे। पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू की तब पता चला कि लेडी डॉन नाम से ट्वीटर हैंडल चलाने वाला फिरोजाबाद जिले के सिरसागंज थाना क्षेत्र के अहमदपुर का सोनू सिंह पुत्र रामनाथ है। क्राइम ब्रांच की टीम ने उसकी तलाश में फिरोजाबाद में एक सप्ताह तक डेरा भी डाले रखा लेकिन कामयाबी नहीं मिली। 

उधर, आगरा पुलिस ने उसे अपने यहां से जुड़े एक मुकदमे में गिरफ्तार कर लिया। केस की विवेचना कर रहे इंस्पेक्टर कैंट शशिभूषण राय को जब इसकी जानकारी हुई तो सोनू को गोरखपुर लाने का प्रयास शुरू कर दिया गया। वारंट बी के जरिये कैंट पुलिस गुरुवार को उसे गोरखपुर लेकर आई और यहां कोर्ट में पेश किया, जहां से जेल भेज दिया गया।

एक माह से था आगरा जेल में 
इंस्पेक्टर ने बताया कि जांच के दौरान पता चला कि एक माह पूर्व एक मामले में पकड़ने गई आगरा पुलिस पर उसने जानलेवा हमला कर दिया था। जिसके बाद मई के पहले सप्ताह में आगरा पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भिजवा दिया था।