भगदड़ का पर्याय बनी भाजपा-अनिल यादव

भगदड़ का पर्याय बनी भाजपा,झूठ और फरेब वाली सरकार की नाव डूब चुकी।

लखनऊ। राजधानी लखनऊ स्थित सपा कैंप कार्यालय पर समाजवादी नेता अनिल यादव ने मौजूदा सरकार व विधानसभा चुनाव 2022 की मुख्य प्रतिद्वंदी पार्टी भाजपा पर जमकर हमला बोला उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में जिस तरह से सत्ता पक्ष भाजपा से नेताओं विधायकों मंत्रियों और कार्यकर्ताओं का समाजवादी पार्टी की तरफ पलायन करता चल आ रहा है उससे विधानसभा चुनाव में सपा के लिए जीत पाने में कोई संदेह नहीं बचा। भाजपा के लोगों को सपा की जीत का एहसास हो चुका है जिससे पार्टी में भगदड़ मचना आम बात है। योगी सरकार ने जिस तरह से भर्तियों को लेकर घोटाला किया वह किसी से छुपा नहीं है जगह-जगह युवा नौजवानों द्वारा किए जा रहे धरना प्रदर्शन भारतीय जनता पार्टी के कुकृत्य की गवाही दे रहे हैं। इस सरकार में जिस तरह से महिलाओं पर अत्याचार हुए स्वतंत्र भारत के इतिहास में उत्तर प्रदेश की महिलाओं की इतनी बड़ी दुर्दशा कभी नहीं हुई महिला हितों की कितनी अनदेखी हुई इस सरकार में यहां उत्तर प्रदेश के आपराधिक आंकड़े देखने से ही पता चल जाएगा। उन्होंने कहा कि आज के उत्तर प्रदेश का युवा परिवर्तन चाहता है और वहां परिवर्तन अब 2022 के विधानसभा चुनाव में होकर रहेगा।

जो बेरोज़गारी और नौकरी का सवाल है, समय बदला है इसलिए सरकारों को भी काम करने का तरीका बदलना पड़ेगा। समाजवादी सरकार उत्तर प्रदेश में नया युग लाएगी… गांव के गरीब बच्चों की पढ़ाई का स्तर कैसे बेहतर किया जाए, इसपर हम काम करेंगे । उत्तर प्रदेश बदलाव चाहता है। उत्तर प्रदेश में परिवर्तन हो, उत्तर प्रदेश की जनता समाजवादियों की ओर देख रही है, समाजवादी पार्टी का लगातार प्रयास रहा है लोगों को जोड़ा जाए। भारतीय जनता पार्टी ने बड़े-बड़े सपने सबको दिखाए और कहा कि 2022 तक किसानों की आय दुगनी हो जाएगी। 2022 की शुरआत हो चूकि है पर आय दोगुनी नहीं हुई है भारतीय जनता पार्टी यह बताएं किसानों की आय दोगुनी कब होगी? किसानों के साथ बाबा जी ने धोखा दिया है इसलिए अब बाबा मुख्यमंत्री जी को जनता के बाबा के साथी भी साथ छोड़ सपा की पलायन कर आ रहे हैं।