भाजपा परिवार भागता परिवार

 भाजपा के संकल्प पत्र का कोई भी पन्ना आप पलट लीजिए। जनता से किया गया एक भी वादा पूरा नहीं हुआ है। इस चुनाव घोषणापत्र में सबसे पहली बात कही गई थी कि 2022 तक किसानों की कृषि आमदनी दोगुनी करने के लिए विस्तृत रोडमैप तैयार किया जाएगा। आज उत्तर प्रदेश का किसान जानना चाहता है कि आखिरकार आय कब दोगुनी होगी। महिलाएं सर्वाधिक असुरक्षित हैं। शिक्षा-स्वास्थ्य, कानून व्यवस्था चैपट है। भाजपा सरकार ने साढ़े चार साल में लोगों को सिर्फ धोखा दिया है। भाजपा का अब सफाया होना तय है। अब भाजपा में कोई रहना नहीं चाहता है। भाजपा परिवार भागता परिवार हो जाएगा।उक्त उद्गार आज यहां समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव ने डाॅ0 राममनोहर लोहिया सभागार में सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि भाजपा लौट के आने वाली नहीं है। सरकार समाजवादी पार्टी की ही बनेगी। पूर्व मुख्यमंत्री जी ने कहा कि दीवाली के त्योहार पर भाजपा घर की ठीक से सफाई करा दें। धुएं के निशान मिटा दें और बाकी भी जो कुछ हो हटा दें ताकि अगली सरकार को मुख्यमंत्री आवास में कुछ न मिले।

अमित शाह के दौरे के बाद भाजपा में भगदड़ भाजपा राकेश राठौर ने सपा के लि सदस्यता ।
राकेश राठौर ने भाजपा का आरोप लगाया कि मुद्दे से भटक गई है भाजपा आज उत्तर प्रदेश में भाजपा के विधायक पीते जा रहे हैं और अधिकारी भी उनसे सीधे मुख बात नहीं करते हैं योगी सरकार सिर्फ अधिकारियों के सुनती है ।
भाजपा विधायकों का टिकट काट रही है मतलब सरकार विफल रही है उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री अधिकारियों के कहने पर कार्य करते हैं वह विधायकों की नहीं सुनती है -सीतापुर विधायक राकेश राठौर ।
टेबलेट की घोषणा करने वाली योगी सरकार आज मुख्यमंत्री आवास में धुवा के निशान मिटा रही है ।
भाजपा सरकार में शिक्षा के क्षेत्र में काफी गिरावट आई है । शिक्षा तंत्र को योगी सरकार ने खोखला कर दिया है ।
सभी तीर्थ स्थलों को फोर लाइन से जोड़ने का संकल्प योगी सरकार का हुआ विलुप्त सिर्फ पन्ना प्रमुख बनाने में मस्त रहती है सरकार अखिलेश यादव
आज कानपुर की पांडु नदी नाला में परिवर्तित हो गई है ।
नदी के सफाई प्रोजेक्ट को योगी सरकार ने रोक दिया है ।
जो भाजपा है वही कांग्रेस जो कांग्रेस वहीं भाजपा है ।
अगर भाजपा सरकार ज्यादा दिन शासन कर लिया तो वह सरकार को भी आउटसोर्सिंग पर नियुक्त कर लेगी ।
आज देश और प्रदेश का अन्नदाता एक बोरी डीएपी की मांग करता है हर -गोविंद भार्गव
2022 में भाजपा को उखाड़ इतनी दूर फेंकना है कि दोबारा वह उत्तर प्रदेश या देश की तरह मुख भी ना कर सके हर -गोविंद भार्गव


श्री यादव ने भाजपा के वर्ष 2017 का चुनाव संकल्प पत्र पढ़ते हुए कहा कि इसके पृष्ठ पर पृष्ठ उलटते जाइए। भाजपा ने इसमें किए वादे निभाएं नहीं है। भाजपा पन्ना प्रमुख तो बहुत बनाती है, लेकिन अपने संकल्प पत्र के पन्ने को एक बार भी नहीं पलटती है। पूरा संकल्प पत्र झूठ का पुलिंदा बन गया है। इसमें पहले पृष्ठ पर ही किसानों की आय दुगनी करने का संकल्प था, इसको भुला दिया गया है। भाजपा झूठे दावे करती रहती है।

सपा प्रमुख ने कहा कि जो नौजवान रोजगार मांगने आया उसे भाजपा सरकार ने लाठी मारकर वापस भेजा है, ऐसे में इस बार नौजवान वोट के जरिए भाजपा का सफाया करेगा।उन्होंने एक अन्य सवाल पर कहा कि भाजपा को अगर ज्यादा देर सत्ता में रहने का मौका मिला तो वह सरकार को भी आउट सोर्स कर देगी।एक सवाल के जवाब में कहा कि कांग्रेस और भाजपा के बारे में समाजवादियों का यही मानना है कि जो कांग्रेस है, वही भाजपा है और जो भाजपा है वही कांग्रेस है।

भाजपा विधायक राकेश राठौर और बसपा से निलंबित छह विधायकों के सपा में शामिल होने के अवसर पर यादव ने संवाददाताओं से कहा,राकेश राठौर जी के पार्टी में शामिल होने के बाद हो सकता है मुख्यमंत्री जी अपना नारा बदल दें। इसे मेरा परिवार, भाजपा परिवार के बजाय मेरा परिवार, भागता परिवार कर दें।


अखिलेश यादव ने कहा कि महंगाई बेतहाशा बढ़ी है। जरूरी चीजों के दाम आसमान छूने लगे हैं। धान की खरीद की कोई व्यवस्था नहीं है। बिचौलिए उसे खरीद रहे है। कृषि ढांचा को बेहतर करने में भाजपा सरकार को कोई दिलचस्पी नहीं है। गन्ना किसान को पिछले पेराई सत्र का भुगतान नहीं किया गया है। मंडी व्यवस्था को बर्बाद कर दिया है। किसानों पर तीन काले कृषि कानून थोप दिए गए है। किसानों पर भाजपा सरकार ने गाड़ी चढ़ाकर रौंदने का काम किया है।

आने वाले समय में सपा की सरकार बनने जा रही है। इस वक्त जो सरकार में हैं उनसे मेरा निवेदन है कि वे दीवाली का त्यौहार मनाएं और अपने घर की सफाई अच्छे से करा लें, जिससे वहां धुएं के निशान मिट जाएं।सपा अध्यक्ष ने 2017 के विधानसभा चुनाव के वक्त के भाजपा के अपने संकल्प पत्र के पन्ने पलटते हुए कहा, कल भाजपा के मंच से कहा गया कि उसने अपने चुनाव घोषणा पत्र के 90 फीसद तक वादे पूरे कर दिए हैं और बाकी बचे हुए दो महीने में पूरे हो जाएंगे। मुझे लगता है कि भाजपा ने एक बार लोक कल्याण संकल्प पत्र बनाया और उसके बाद उसे कूड़ेदान में फेंक दिया।

अखिलेश यादव की मौजूदगी में बीजेपी के एक बसपा के 6 विधायक सपा में शामिल-

राकेश राठौर (बीजेपी)-सीतापुर
असलम राइनी – श्रावस्ती
असलम अली चौधरी -हापुड़
मुजतबा सिद्दीकी – प्रयागराज
हाकिम लाल बिंद – प्रयागराज
हरगोविंद भार्गव – सीतापुर
सुषमा पटेल – जौनपुर


श्री यादव ने कहा कि जो भाजपा है वही कांग्रेस है। दोनों की नीतियों में कोई अन्तर नहीं है। उन्होंने कहा साढ़े चार साल तक मुख्यमंत्री जी ने टेबलेट नहीं बांटा। शिक्षा के क्षेत्र में एक विचारधारा के लोगों को बिठाया जा रहा है। मेट्रो झांसी, गोरखपुर में नहीं चला पाए। नदियां कितना साफ हुई भाजपा झूठे प्रचार पर जनता की गाढ़ी कमाई फूंक रही है। विकास से उसका कुछ लेना देना नहीं है।कांग्रेस के पूर्व राज्यसभा सदस्य हरेन्द्र मलिक और उनके पूर्व विधायक पुत्र पंकज मलिक हाल में सपा में शामिल हुए थे।बसपा विधायक और पूर्व मंत्री लालजी वर्मा और रामअचल राजभर भी सपा में शामिल होने का ऐलान कर चुके हैं। सपा ने पूर्वांचल के राजभर मतदाताओं में पैठ रखने वाली सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी से गठबंधन किया। पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर की अगुवाई वाली इस पार्टी ने वर्ष 2017 का पिछला विधानसभा चुनाव भाजपा के साथ मिलकर लड़ा था. इस वक्त उसके चार विधायक हैं ।यादव ने किसी का नाम लिए बगैर कहा, “आने वाले समय में सपा की सरकार बनने जा रही है इस वक्त जो सरकार में हैं उनसे मेरा निवेदन है कि वे दीवाली का त्यौहार मनाएं और अपने घर की सफाई अच्छे से करा लें, जिससे वहां धुएं के निशान मिट जाएं।