कारपोरेट की पक्षधर भाजपा सरकार

148

राजेन्द्र चौधरी

समाजवादी व्यापार सभा मंडलीय सम्मेलन कुंज वाटिका, झांसी में आयोजित किया गया। सम्मेलन की अध्यक्षता समाजवादी व्यापार सभा के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शैलेंद्र जैन ने की। कार्यक्रम का उद्घाटन पूर्व सांसद डॉक्टर चंद्रपाल यादव द्वारा किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि व्यापार सभा के प्रदेश अध्यक्ष संजय गर्ग जी विधायक ,पूर्व मंत्री रहे। झांसी मंडल के समस्त जिलों के जिला वार झांसी जिला अध्यक्ष सतेंद्रपुरी गोस्वामी तथा झांसी नगर अजय चड्डा अपनी विधानसभा कमेटी बबीना के अध्यक्ष अमन सोनी, झांसी अध्यक्ष जितेंद्र वर्मा, मऊरानीपुर अध्यक्ष हरेंद्र साहू, गरौठा अध्यक्ष राम प्रताप पाठक।

अखिलेश ने कहा कि किसान देश भर में आंदोलित हैं। भाजपा सरकार किसानों को फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य भी देने को तैयार नहीं है। किसानों का खेती पर स्वामित्व भी खतरे में पड़ने वाला है। भाजपा सरकार कांटेक्ट खेती के नाम पर किसानों का खेत छीनने की साजिश कर रही है। किसान की फसल बड़े सेठों के मनमर्जी के दामों पर लूटने का प्रबंध किया जा रहा है। भाजपा ने किसानों से जो वादे किए थे वे पूरे नहीं हुए। न तो किसानों को लागत का ड्योढ़ा दाम मिला, नहीं उनकी आय दुगनी होने के आसार हैं। गन्ना किसानों का बकाया अभी तक अदा नहीं हुआ। मंडिया समाप्त की जा रही है। भाजपा सरकार ने तो किसानों पर बिजली का भार भी बढ़ा दिया है।


     ललितपुर जिलाध्यक्ष प्रदीप जैन चिंगलौआ अपनी विधानसभा कमेटी मैंहरौनी अध्यक्ष महेंद्र सिंह पटेल, ललितपुर। जालौन जिलाध्यक्ष मनोज अग्रवाल इकोडिया अपनी विधानसभा कमेटी माधौगढ़ अध्यक्ष मनोज चैधरी, कालपी अध्यक्ष विमल प्रकाश पाठक, उरई अध्यक्ष विकास कुमार तथा सभी अपनी जिला कमेटी के साथ उपस्थित हुए। प्रदेश अध्यक्ष संजय गर्ग जी झांसी मंडल की जिला कार्यकारिणी तथा समस्त विधानसभा कमेटी की समीक्षा की। सम्मेलन में कुछ व्यापारी एसोसिएशनो ने शामिल होकर अपनी समस्याए व सुझाव रखे। उसमे मुख्यरूप से ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के इकबाल कुरैशी, एवं पेट्रोलियम एसोसिएशन के राजीव बब्बर तथा सर्राफ़ा के मुकेश अग्रवाल ने अपने सुझाव पत्र दिए।
     प्रदेश अध्यक्ष संजय गर्ग जी ने बताया कोरोन काल के दौरान व्यापारिक प्रतिष्ठानों के बिजली के बिल और जीएसटी जैसे गंभीर मुद्दों को विधानसभा में व्यापारियों के लिए उठाया, और बढ़ रही गरीबी तथा बेरोजगारी के बारे में भी चर्चा की और कहा किसान खुशहाल होगा तो व्यापारी खुशहाल होगा। पिछले नौ महीने से दिल्ली में दस्तक दे रहे किसानो की माँग तो मानना छोड़िए उन्हें भाजपा द्वारा आतंकवादी, खालिस्तानी और नक्सलवादी बताकर अपमानित किया जा रहा है।

 अखिलेश यादव ने कहा कि केंद्र और राज्य की भाजपा सरकारें विकास को छोड़कर सांप्रदायिक मुद्दों को उभारने का प्रयास कर रही हैं। मुद्दाविहीन राजनीति जनविरोधी होती है। यह सरकारें कॉरपोरेट घरानों से रिश्ते रखती हैं, इसलिए गरीबों की भलाई नहीं कर सकतीं। आरएसएस व भाजपा छलबल से सत्ता हथियाना जानते हैं मगर धोखाधड़ी की राजनीति ज्यादा समय तक टिकने वाली नहीं है।भाजपा सरकार सपा सरकार के कामकाज व योजनाओं को अपना बताने का प्रयास कर रही है। 


     भाजपा सरकार बेनक़ाब हो चुकी है यह किसान और व्यापारी के पक्ष में निर्णय न लेकर केवल कारपोरेट की पक्षधर सरकार है। सभी अपनी खुशहाली की राह सपा सरकार में देख रहे है। ”व्यापार सभा ने ठाना है सपा सरकार बनाना है”यह नारा प्रदेश अध्यक्ष संजय गर्ग जी ने लगाया और संकल्प लिया व्यापारियों के हित के लिए 2022 में सपा की सरकार  माननीय अखिलेश यादव जी के नेतृत्व में बनाना है।समाजवादी व्यापार सभा प्रदेश उपाध्यक्ष एवं आयोजक अजय सूद ने अपने संबोधन में बताया कि कोरोनो काल के दौरान सरकार की अव्यवस्था के कारण झांसी में 631 व्यापारियों की मृत्यु हुई है जो कि अत्यंत दुखद है।साथ ही समाजवादी व्यापार सभा के प्रदेश महासचिव अभिमन्यु गुप्ता जी ने जीएसटी की विसंगतियों पर प्रदेश कोषाध्यक्ष अंशुल गुप्ता जी ने भाजपा सरकार के कार्यकाल खत्म होने मे आज 200 दिन शेष बचे हुये पर विचार रखे।कार्यक्रम मे पूर्व विधायकगण दीप नारायण यादव ,श्याम सुंदर सिंह, दयाशंकर वर्मा सपा ज़िलाध्यक्ष महेश कश्यप कार्यक्रम में मौजूद रहे और अपने विचार रखे।