लोकतंत्र की हत्या कर रही है भाजपा सरकार

तानाशाही कर लोकतांत्रिक तरीके से आवाज भी नहीं उठाने दे रही,कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने किया हाउस अरेस्ट,लोकतंत्र की हत्या कर रही है भाजपा सरकार।

लौटनराम निषाद

लखनऊ।भाजपा सरकार की तानाशाही पर उतारू है।कांग्रेस नेताओं को लोकतांत्रिक तरीके से धरना देने में भी तानाशाही व पुलिसिया तांडव करा रही है।सोनिया गाँधी जी व राहुल गांधी जी से बार बार नेशनल हेराल्ड व यंग इंडियन के बारे में पूछताछ करने के लिए ईडी दफ्तर बुलाकर परेशान किया जा रहा है।भारतीय ओबीसी महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता व कांग्रेस नेता लौटनराम निषाद ने कहा कि कांग्रेस पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को धरना प्रदर्शन से रोकने के लिए नेताओं को हाउस अरेस्ट किया गया।लखनऊ में भी नेताओं के घरों पर पुलिस का पहरा बिठा दिया गया। दिल्ली में राहुल गांधी जी समेत कांग्रेस सांसदों को गिरफ्तार करके वे सोच रहे हैं कि कांग्रेस डर जाएगी। लेकिन कांग्रेस देशभक्तों व देश के लिए बलिदान देने वालों की पार्टी है।उसके कार्यकर्ता गिरफ्तारी व लाठीचार्ज से डरने वाले नहीं हैं।संसद में महंगाई, बेरोजगारी, अग्निपथ,जनगणना जैसे मुद्दों पर चर्चा नहीं होने दे रहे, संसद के बाहर पुलिस और एजेंसियां लगाकर हमें डराने की कोशिश कर रहे हैं। कांग्रेस का इतिहास डरने का नहीं, तानाशाही उखाड़ फेंकने का है। राहुल गांधी जी समेत कांग्रेस सांसदों को गिरफ्तार करके वे सोच रहे हैं कि कांग्रेस डर जाएगी।


निषाद ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी जी ने कहा था-मेरे खून का एक-एक कतरा देश के काम आएगा, भारत को जीवित करेगा ऐसे परिवार में जन्मे राहुल गांधी व प्रियंका गांधी व इस परिवार की त्याग की प्रतिमूर्ति आदरणीया सोनिया गांधी को लांछित करने का दुष्प्रयास किया जा रहा है।ऐसे परिवार के ऊपर लांछन लगाया जा रहा है जो परिवार अपना खुद का आनंद भवन जो हजारों करोड़ों की संपत्ति है, देश को दान कर दिया हो।स्वयं सरकारी आवास में रहते हो जिनका दफ्तर पहले जैसा था आज भी वैसा ही है।


निषाद ने कहा कि जिस देश में कभी सुई नहीं बनती थी वहां कल कारखाने जहाज बनने लगे। सीधे जनता के हाथ में पावर आने लगे,राजा रजवाड़ों से देश मुक्त कराएं।कांग्रेस की सरकार सूचना का अधिकार,शिक्षा का अधिकार,रोजगार गारंटी का अधिकार,खाद्य सुरक्षा का अधिकार दिया।सूचना का अधिकार जैसे कानून बनाकर प्रधान से प्रधानमंत्री तक का ब्यौरा मांगने का अधिकार दिया, जिसने अपराधी को चुनाव लड़ने से रोका,इस तरह का काम कांग्रेस की सरकार ने किया,जिसे मोदी सरकार खत्म करने का प्रयास कर रही है।पर,कांग्रेसी भाजपा सरकार की लोकतंत्र, संविधान विरोधी नीतियों का डटकर मुकाबला करेंगे।आज मोदी सरकार बताएं कि उनकी बड़ी-बड़ी ऑफिस कैसे बनी,किसके पैसे से बनी। देश के लुटेरे किसके इजाजत से विदेश भागे और भागने के लिए कितनी मोटी रकम कमीशन में दिए।

मोदी 8500 करोड़ का विमान किसके पैसे से खरीदे,दिन में 4-5 कपड़ा किसके पैसे से बदलते हैं।पूंजीपतियों के कर्ज बट्टे खाते में कैसे डाल रहे हैं,वह पैसा क्या भाजपा है कि भारत की जनता का है। जिनके पुरखों के त्याग,बलिदान की बदौलत देश आजाद हुआ, उस परिवार के साथ ऐसा घिनौना अपराध कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।कांग्रेस की ही देन है कि देश आत्मनिर्भर हुआ।कांग्रेस की सरकारों ने गेल, भेल,सेल,रेल,ओएनजीसी, एनटीपीसी, एचएएल, एयरपोर्ट, पोर्ट ट्रस्ट,कोल इंडिया आदि की स्थापना कराया,आज उसी को अडानी,अम्बानी के हाथों बेचकर देश को बर्बाद किया जा रहा है।कांग्रेस सरकार ने 20 जुलाई,1969 को बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया,एलआईसी को सरकारी उपक्रम बनाया, संचार क्रांति का विकास किया,पावर प्लांट,बहुउद्देश्यीय नदी घाटी परियोजनाओं, बाँधों, चीनी मिल, कॉटन मिल,कल-कारखाने आदि स्थापित कराकर देश को तरक्की के रास्ते पर ले गयी,आज उसी को खत्म करने के अलावा भाजपा सरकार क्या कर रही है?