नकल माफियाओं को भाजपा का संरक्षण-अंशू अवस्थी

51
नकल माफियाओं को भाजपा का संरक्षण-अंशू अवस्थी
नकल माफियाओं को भाजपा का संरक्षण-अंशू अवस्थी

पेपर लीक भाजपा सरकार द्वारा नकल माफियाओं  को संरक्षण का परिणाम। पुलिस भर्ती परीक्षा में शामिल अभ्यर्थियों के परिवारों को मुआवजा दे योगी आदित्यनाथ सरकार। नकल माफियाओं को भाजपा का संरक्षण-अंशू अवस्थी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक होने पर कांग्रेस ने भाजपा योगी आदित्यनाथ सरकार को आड़े हाथों लेते हुए उत्तर प्रदेश के नौजवानों को धोखा देना बताया है , और मांग की है कि उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती के अभ्यर्थियों को प्रदेश की भाजपा सरकार मुआवजा दे। अंशू अवस्थी ने आधिकारिक बयान जारी करते हुए कहा कि हर बार की तरह इस बार भी उत्तर प्रदेश में भर्ती परीक्षा का पेपर लीक हुआ और मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी सिर्फ मंचों से भाषणों में नकल को रोकने की बात करते रहे, प्रदेश के 50 लाख परिवारों ने अपने पेट काट – काट कर अपने बच्चों को परीक्षा की तैयारी कराई, अपनी आजीविका से पैसे बचाकर कोचिंग कराई, नौजवान सुबह 4:00 बजे उठकर दौड़ लगा रहे थे कि उनको नौकरी मिलेगी, लेकिन भाजपा योगी आदित्यनाथ सरकार ने नौकरी देने के बजाय प्रदेश में नकल माफियाओं के राज को बढ़ावा दिया, इसीलिए प्रदेश में अधिकांश भर्ती परीक्षाओं के पेपर लीक हो गए।

  अंशू अवस्थी ने कहा भाजपा सरकार ने 2017 में प्रदेश के नौजवानों को 70 लाख नौकरियां देने का वादा किया था ,और वादा किया था कि सरकार बनने के 100 दिन के अंदर खाली पदों की सभी विज्ञप्तियां जारी की जाएगी लेकिन सरकार बनते ही आलम यह हो गया नौकरियों की अधिकांश परीक्षाओं के पेपर लीक हुए और यहां तक कि अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड के अध्यक्ष को इस्तीफा तक देना पड़ा, 2017 में भाजपा सरकार बनते ही नकल माफिया हावी हो गए और पेपर लीक अभियान शुरू हो गया।

हर बार की तरह इस बार भी उत्तर प्रदेश में भर्ती परीक्षा का पेपर लीक हुआ और मुख्यमंत्री जी मंचों से सिर्फ भाषणों में नकल को रोकने की बात करते रहे, प्रदेश के 50 लाख परिवारों ने अपने पेट काट – काट कर अपने बच्चों को परीक्षा की तैयारी कराई कोचिंग कराई, नौजवान सुबह 4:00 बजे उठकर दौड़ रहे थे कि उनको नौकरी मिलेगी लेकिन भाजपा योगी आदित्यनाथ सरकार ने नौकरी देने के बजाय प्रदेश में नकल माफियाओं का राज को संरक्षण दिया , बढ़ावा दिया,कांग्रेस पार्टी की मांग है,कि नौजवानों ने और उनके परिवारों ने एक अच्छा खासा पैसा इस भर्ती परीक्षा में लगाया उन्हें उम्मीदें थी , लेकिन सरकार अपने वादे पर खरा नहीं उतर पाई , परीक्षा तक सकुशल नही करा पाई, इसलिए हमारी मांग है कि पुलिस भर्ती परीक्षा में शामिल नौजवानों को और उनके परिवारों को मुआवजा दिया जाय,मुख्यमंत्री जी प्रदेश के नौजवान काफी अक्रोशित और दुखी हैं सरकार अपना बजट बढ़ाती है लेकिन मध्यमवर्गीय परिवारों का बजट बिगाड़ती है, इस भर्ती परीक्षा में शामिल नौजवानों के परिवारों को मुआवजा दिया जाय।

कांग्रेस प्रवक्ता ने भाजपा सरकार पर नौजवान विरोधी होने का आरोप लगाते हुए बताया 23 अगस्त 2017 को सब इंस्पेक्टर पेपर लीक, फरवरी 2018 में UPPCL( Power Corporation JE Paper ) पेपर लीक, अप्रैल 2018 में UP पुलिस का पेपर लीक ,जुलाई 2018 में अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड का पेपर लीक, अगस्त 2018 में स्वास्थ्य विभाग प्रोन्नत पेपर में भ्रष्टाचार, सितंबर 2018 में नलकूप आपरेटर पेपर लीक,41520 सिपाही भर्ती पेपर लीक कांड हुआ। जुलाई 2020 में 69000 शिक्षक भर्ती पेपर लीक,अगस्त 2021 बीएड प्रवेश परीक्षा पेपर लीक,अगस्त 2021 PET पेपर लीक, अक्टूबर 2021 सहायता प्राप्त स्कूल शिक्षक/प्रधानाचार्य पेपर लीक, दिसंबर 2021 में, UPTET पेपर लीक, NEET पेपर लीक, NDA पेपर लीक, SSC पेपर लीक ,UPTET पेपर लीक की कहानी…20 लाख नौजवानों के भविष्य के बर्बादी का गोरखपुर कनेक्शन भी सामने आया।

प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने कहा कि वादा था 70 लाख रोजगार देकर No1 बनाने का लेकिन बना दिया पेपर लीक कराने में उत्तर प्रदेश को No1 ,कांग्रेस पार्टी की मांग करती है,कि नौजवानों ने और उनके परिवारों ने एक अच्छा खासा पैसा इस भर्ती परीक्षा तैयारी में खर्च किया उन्हें उम्मीदें थी, लेकिन सरकार अपने वादे पर खरा नहीं उतर पाई , परीक्षा तक सकुशल नही करा पाई, इसलिए हमारी मांग है कि पुलिस भर्ती परीक्षा में शामिल नौजवानों को और उनके परिवारों को मुआवजा दिया जाय,मुख्यमंत्री जी प्रदेश के नौजवान काफी अक्रोशित और दुखी हैं सरकार अपना बजट बढ़ाती है लेकिन मध्यम वर्गीय परिवारों का बजट बिगाड़ती है, इस भर्ती परीक्षा में शामिल नौजवानों के परिवारों को मुआवजा दिया जाय। नकल माफियाओं को भाजपा का संरक्षण-अंशू अवस्थी