Tuesday, August 9, 2022
Advertisement
ह्रदय नारायण दीक्षित जीवन और जगत को प्रकट करने के दो माध्यम है। पहला प्रत्यक्ष भौतिक जगत है। यह विज्ञान सिद्ध है। इसकी व्याख्या का मुख्य उपकरण बुद्धि है। तर्क बड़ा हथियार है। लेकिन तर्क पर्याप्त नही है। जीवन आनंद का अनुभव तर्क से नही होता। महाभारत के यक्ष प्रश्नों...
ह्रदय नारायण दीक्षित गीत नृत्य संस्कृति के अंग होते है। गीत मात्र शब्द संयोजन नहीं होते। इनमे भाव की महत्ता होती है। ये आनंद का संवर्धन करते हैं। सृजन आसान नही होता। कुछ सृजन मोहक होते है और कुछ मादक। गीत काव्य के रचनाकारो को सभ्यता और संस्कृति की मर्यादा...
चतुरी चाचा के प्रपंच चबूतरे से ..... चतुरी चाचा ने प्रपंच का श्रीगणेश करते हुए कहा- आजु काल्हि बिटिया क बिहाव करवब सब ते कठिन हय। बिटिया वाले क दहेज मंडी म दामाद खरीदय क परत हय।...
यूथ जोड़ो-बूथ जोड़ो के नारे और नव संकल्प के साथ कार्यकारिणी की बैठक हुई सम्पन्न। युवा कांग्रेस पदाधिकारी और कार्यकर्ता सभी जनपदों में यूथ जोड़ो-बूथ जोड़ो कार्यक्रम के तहत बूथ को मजबूत करने के लिए घर-घर तक पहुंचेंगे।लखनऊ। उ0प्र0 युवा कांग्रेस पूर्वी की कार्यकारिणी की बैठक आज यहां...
गुरू पूर्णिमा पर काव्य संग्रह ‘आदित्यायन’ का किया विमोचन लखनऊ। गुरू पूर्णिमा के शुभ अवसर पर बुधवार को प्रेस क्लब में कर्नल आदि शंकर मिश्र ‘आदित्य’ के काव्य संग्रह ‘आदित्यायन’ का विमोचन उत्तर प्रदेश विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने किया।दीप प्रज्ज्वलन के साथ विमोचन समारोह की अध्यक्षता...
नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में बुलडोज़र कार्यवाही पर अंतरिम रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट ने इनकार कर दिया।सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वह अवैध निर्माण को गिराने की प्रक्रिया में प्रतिबंध का आदेश नहीं जारी कर सकता है, इससे स्थानीय निकायों के अधिकारों में कटौती होगी।सुप्रीम कोर्ट ने मामले...
सुजीत यादव जीवन को अपना मानोझूठ बिकता बाजार मेंसच रहता पर्दे में जानोकुछ करना है जीवन मेतो आगे ही बढ़ना होगाबिना सहारे बिना पुकारेमंजिल शिखर पर चढ़ना सुरजीत। सपनों की शहर बसानेकांटो में सँवरना होगागुंजन तितली बागे बहारफूल बन बिखरना होगामिले दर्द गर खुशियां बेचसौदा खरा करना होगापत्थरों से खाके चोटझरने...
गुरू पूर्णिमा का विशेष लेख सादर गुरूओं एवं सनातन धर्म को अर्पित।गुरू पूर्णिमा केवल गुरू की ही नही बल्कि चरित्र, संकल्प व राष्ट्र निर्माण की पूर्णिमा है सभी को अपनाना चाहिए। हमारे देश में गुरू पूर्णिमा एवं गुरू का अद्वितीय महत्व है। गुरू पूर्णिमा को व्यास पूर्णिमा भी कहते है,...
   आजा़दी, कैसी आज़ादी ? या ज़हर भरी एक मुठ्ठी बरवादी ? खून से सने खंजरों को अपने भाई की पीठ से  निकाल लेने के बाद बहन , बेटी या बहू की चिता की लकडियों को  कमजोर कंधे में लादने के बाद खून-पसीने को मिलों,  खेतों,खलिहानों में  बंद कर बेचने के बाद नौकरी के पीछे भूखा, नंगा, प्यासा  टूटी चप्पल और भी...
आजादी के समय जो सपना देखा था वह आज भी अधूरा है। तो क्या हमें आजादी मिली है। जो मिली है वह है सम-झौते की आजादी। ​जिसने हमारे देश में ​विभिन्न समस्याओं को जन्म ​दिया है। जैसे एक जैसी ​शिक्षा प्रणाली ना होना, बे-रोजगारी की समस्या स्वास्थय की समस्या...

Popular Posts

Breaking News

सलोन ग्रुप नैचुरल्स करेगा एसिड अटैक सर्वाइवर्स की मदद

0
इंडिया का फेमस सलोन ग्रुप नैचुरल्स करेगा एसिड अटैक सर्वाइवर्स की मदद - भारत के सबसे प्रतिष्ठित सलोन ब्रांड में से एक नैचुरल्स ने एसिड...

जगदीप धनखड़ के उपराष्ट्रपति बनने से राजनीति में राजस्थान का महत्व और बढ़ेगा

0
जगदीप धनखड़ के उपराष्ट्रपति बनने से देश की राजनीति में राजस्थान का महत्व और बढ़ेगा।यह धनखड़ का ही करिश्मा है कि ममता बनर्जी के...

योगी सरकार ने खाद्यान्न कालाबाजारियों पर कसा शिकंजा

0
गरीबों के राशन की जीपीएस ट्रैकिंग करेगा इंटीग्रेटेड कंट्रोल कमांड सेंटर।बरेली मंडल की 5400 राशन की दुकाने की गई कनेक्ट।खाद्यान्न ढोने वाले 328...

भाजपा सत्ता में जनता के हिस्से में सिर्फ महंगाई आयी अखिलेश यादव

0
राजेंद्र चौधरी समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि जबसे भाजपा सत्ता में आई है जनता के हिस्से...

जेल के चक्रधिकारी ने किया बन्दी के साथ दुष्कर्म…!

0
राजधानी की जिला जेल का सनसनीखेज मामला।न्याय पाने के लिए न्यायालय के शरण में गया विचाराधीन बन्दी।जेल के चक्रधिकारी ने किया बन्दी के साथ...
hi Hindi
X