एआरटीओ द्वारा निजी व्यक्तियों के सहयोग से चेकिंग आपराधिक कृत्य-अमिताभ ठाकुर

लखनऊ। अधिकार सेना के संयोजक अमिताभ ठाकुर का कहना है कि 2 दिन पूर्व गोसाईगंज थाना क्षेत्र में एआरटीओ प्रवर्तन की टीम के दो कर्मचारियों के ट्रक चढ़ाने से हुई मौत के मामले में जो चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं उससे लगता है कि प्रशासन निरंकुश व निडर होकर भ्रष्टाचार में लिप्त है।

इस प्रकरण की जांच में पता चला है कि एआरटीओ प्रवर्तन आर के वर्मा रात को जांच के लिए विभाग के द्वारा तैनात कर्मचारियों को अपने साथ ना ले जाकर निजी व्यक्तियों को ले जाते थे।

एआरटीओ द्वारा जांच के लिए जाने पर विभाग द्वारा तैनात किए गए कर्मचारियों को न ले जाकर निजी व्यक्तियों को ले जाना इस बात को इंगित करता है कि प्रदेश भर में प्रशासनिक अधिकारी मनमानी कर रहे हैं, जिससे आमजन के अधिकारों का हनन हो रहा है तथा भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिल रहा है।