मुख्यमंत्री ने आई0आई0टी0जी0एन0एल0 परियोजना का किया निरीक्षण

मुख्यमंत्री का जनपद गौतमबुद्धनगर भ्रमण जनप्रतिनिधियों के साथ आहूत बैठक में जनपद के समग्र विकास के सम्बन्ध में विचार-विमर्श किया। मुख्यमंत्री ने इण्टीग्रेटेड सिक्योरिटी एवं ट्रैफिक मैनेजमेण्ट सिस्टम परियोजना तथा आई0आई0टी0जी0एन0एल0 परियोजना का स्थलीय निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री ने गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय के सभागार में प्रबुद्धजन के साथ संवाद किया।

गौतमबुद्धनगर।  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने जनपद गौतमबुद्धनगर भ्रमण के अवसर पर एक्स्पो मार्ट में स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ आहूत एक बैठक में जनपद के समग्र विकास के सम्बन्ध में विचार-विमर्श किया। उन्हांेंने जनपद के औद्योगिक विकास में और अधिक गतिशीलता लाने, सामाजिक समरसता बढ़ाने एवं सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ पात्र लाभार्थियों तक पहुंचाने के उद्देश्य से गहन विचार-विमर्श करते हुये एक कार्ययोजना के तहत इस कार्य को आगे बढ़ाने का आह्वान किया। नोएडा के सेक्टर-94 पहुंचकर 64.49 करोड़ रुपये की लागत से तैयार इण्टीग्रेटेड सिक्योरिटी एवं ट्रैफिक मैनेजमेण्ट सिस्टम परियोजना का स्थलीय निरीक्षण किया। ज्ञातव्य है कि नागरिक एवं सड़क सुरक्षा, दुर्घटनाओं में कमी, आपातकालीन सेवाओं के रिस्पॉन्स टाइम में कमी, अपराध में कमी के लिए आर्टिफिशियल इण्टेलीजेंस आधारित सर्विलांस एवं ऑटोमैटिक जंक्शन मैनेजमेण्ट के माध्यम से कार्बन फुटप्रिण्ट एवं ट्रैफिक जाम में कमी लाना इस परियोजना के महत्वपूर्ण लक्ष्यों में शामिल हैं। मुख्यमंत्री जी ने नोएडा की इस सर्विलांस परियोजना की सराहना करते हुए कहा कि मानकों के अनुरूप इसका निरन्तर संचालन करते हुए परियोजना का लाभ जनसामान्य को पहुंचाने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।


मुख्यमंत्री ने इसके उपरान्त, ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण द्वारा पार्टनरशिप में संचालित आई0आई0टी0जी0एन0एल0 परियोजना स्थल पर पहुंचकर स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने परियोजना में गतिशीलता लाने के उद्देश्य से प्राधिकरण के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि परियोजना के अर्न्तगत सभी प्रोजेक्ट्स को समयबद्धता के साथ पूर्ण किया जाए। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने मुख्यमंत्री को परियोजना के सम्बन्ध में अवगत कराया कि 747 एकड़ क्षेत्र में यह परियोजना तैयार होगी, जिसमें 20,000 करोड़ रुपये से अधिक निवेश प्राप्त होगा। वर्तमान तक 3,772 करोड़ रुपये का निवेश प्राप्त हो चुका है। परियोजना से सम्बन्धित सभी कार्य पूरी गतिशीलता के साथ पूर्ण किए जा रहे हैं। गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय के सभागार में प्रबुद्धजन के साथ संवाद किया और उनकी समस्याओं के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी प्राप्त की। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को सभी समस्याओं के निराकरण के निर्देश दिए। इस कार्यक्रम में उद्योग, शिक्षा, चिकित्सा आदि क्षेत्रों के प्रबुद्धजन द्वारा प्रतिभाग किया गया।इस अवसर पर औद्योगिक विकास मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता ‘नन्दी’ तथा वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।