मुख्यसचिव ने वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग से मण्डलायुक्तों एवं जिलाधिकारियों को दिये आवश्यक निर्देश

मुख्य सचिव ने शासन के प्राथमिकता के कार्यक्रमों की समीक्षा कर वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से समस्त मण्डलायुक्तों एवं जिलाधिकारियों को दिये आवश्यक निर्देश।प्रधानमंत्री की प्रेरणा से 11 से 17 अगस्त तक मनाया जायेगा स्वतंत्रता सप्ताह। ‘हर घर तिरंगा’ देश के हर नागरिक में देशभक्ति की भावना को उच्चतम स्तर पर ले जाने का कार्यक्रम। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिये तैयारियों की समीक्षा कर सभी तैयारियों को समय से पूर्ण कर लिया जाये। विभिन्न प्रचार माध्यमों से इस अभियान का वृहद स्तर पर प्रचार-प्रसार किया जाए। कोविड वैक्सीन अमृत महोत्सव के अंतर्गत 15 जुलाई से 18 से अधिक उम्र के पात्र व्यक्तियों को निःशुल्क प्रिकॉशन डोज लगायी जा रही है। माइक्रो प्लान तैयार कर शत-प्रतिशत पात्र व्यक्तियों को प्रिकॉशन डोज लगवायी जाये। 

लखनऊ।  मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने कहा कि मा0 प्रधानमंत्री जी की प्रेरणा से दिनांक 11 से 17 अगस्त, 2022 तक स्वतंत्रता सप्ताह मनाया जाना है। ‘हर घर तिरंगा’ देश के हर नागरिक में देशभक्ति की भावना को उच्चतम स्तर पर ले जाने का कार्यक्रम है। जनभागीदारी के माध्यम से 13 से 15 अगस्त, 2022 के बीच में सभी घरों में राष्ट्रीय ध्वज फहराना है, इस प्रयास में सरकारी और निजी प्रतिष्ठान भी शामिल होंगे। 

        मुख्य सचिव शासन के प्राथमिकता के कार्यक्रमों की समीक्षा कर वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से समस्त मण्डलायुक्तों एवं जिलाधिकारियों को आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि हर घर तिरंगा कार्यक्रम मे अंतर्गत उत्तर प्रदेश के प्रत्येक आवासित घरों/सरकारी-गैर सरकारी कार्यालयों एवं संस्थानों में 3 दिन तक तिरंगा फहराया जाना है। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिये तैयारियों की समीक्षा कर सभी तैयारियों को समय से पूर्ण कर लिया जाये। 22 जुलाई से सभी सरकारी वेबसाइट के होमपेज पर, प्रदेश की हर एक वेबसाइट और प्रदेश का प्रत्येक व्यक्ति अपने फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्वीटर और अन्य सोशल मीडिया अकाउंट के होमपेज पर तिरंगा लगाये। 

        उन्होंने कहा कि गाँव से लेकर शहर तक सभी प्रदेशवासियों में एक उत्साह, उमंग से भरा देशभक्ति का माहौल हो। प्रिण्ट, इलेक्ट्रॉनिक, सोशल मीडिया, रेडियो, पब्लिक एड्रेस सिस्टम, बैन, पैम्पलेट्स आदि विभिन्न प्रचार माध्यमों से इस अभियान का वृहद स्तर पर प्रचार-प्रसार किया जाए। स्वतंत्रता सप्ताह के दौरान अपने घर पर तिरंगा फहराकर harghartiranga.com पर अपनी सेल्फी पोस्ट कर सकते हैं। सेल्फी को #SelfiewithTiranga टैग पर विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पोस्ट कर सकते हैं। उत्कृष्ट सेल्फी को पुरस्कृत किया जायेगा। 

        उन्होंने कहा कि विद्यालयों में प्रार्थना के बाद झण्डा गीत ‘विजयी विश्व तिरंगा प्यारा’ का गायन कराया जाये। विद्यार्थियों के मध्य स्लोगन लेखन, पेन्टिंग, निबन्ध लेखन प्रतियोगिता का आयोजन कराया जाये। संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार के द्वारा बनाया गया ‘हर घर तिरंगा’ ऑडियो/वीडियो गीत का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये। तिरंगा सभी पोस्ट ऑफिस व ई-कॉमर्स प्लेटफार्म यथा-अमेजन, फिल्पकार्ट, इंडिया मार्ट आदि पर उपलब्ध होंगे, हर व्यक्ति ऑनलाइन भी तिरंगा खरीद सकता है।

        उन्होंने कहा कि कोविड वैक्सीन अमृत महोत्सव के अंतर्गत 15 जुलाई से 18 से अधिक उम्र के पात्र व्यक्तियों को निःशुल्क प्रिकॉशन डोज लगायी जा रही है। यह कार्यक्रम 30 सितंबर तक चलेगा। इस अभियान के तहत माइक्रो प्लान तैयार कर शत-प्रतिशत पात्र व्यक्तियों को प्रिकॉशन डोज लगवायी जाये। दूसरी डोज और प्रिकॉशन डोज के मध्य 6 माह (26 सप्ताह) का अंतर आवश्यक है।

        जल जीवन मिशन के तहत ‘हर घर जल’ योजना की समीक्षा के दौरान मुख्य सचिव ने कहा कि ‘हर घर जल’ योजना अत्यंत ही महत्वाकांक्षी योजना है। योजना के तहत चल रहे कार्यों की नियमित समीक्षा कर तीव्र गति से पूरा कराया जाये। गुणवत्ता में किसी भी प्रकार का समझौता न किया जाये। 

        इससे पूर्व, जिलाधिकारी इटावा ने बेमौसम सब्जी उत्पादन संबंधी प्रस्तुतीकरण दिया। उन्होंने बताया कि उ0प्र0 राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत संचालित स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा वैज्ञानिक विधि से सब्जी का उत्पादन कर जीविकोपार्जन कर रही हैं। कृषि विभाग द्वारा बेमौसम सब्जी की खेती के विस्तार और विकास के लिए नवीनतम तकनीक और ज्ञान प्रदान किया जाता है। इटावा में 30 गांव और 35 स्वयं सहायता समूह द्वारा इस खेती को अपनाकर जीविकोपार्जन किया जा रहा है। 

        जिलाधिकारी आजमगढ़ द्वारा प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर आत्म निर्भर निधि योजना के संबंध में प्रस्तुतिकरण दिया। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत लोगों को जागरूक करने के अखबारों व ई-रिक्शा पर माइक के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार किया गया। बैंकर्स समिति की नियमित बैठकें तथा बैंक प्रबंधकों को जूम से जोड़कर बैंक में आ रही समस्या का निराकरण कर ऋण वितरण कराया गया, जिसके फलस्वरूप प्रथम ऋण 6086 लाभार्थियों को कराया गया, जो लक्ष्य का 110 प्रतिशत है तथा द्वितीय ऋण 714 लाभार्थियों को कराया गया जो लक्ष्य का 89 प्रतिशत है।

        मुख्य विकास अधिकारी फतेहपुर ने जनपद में जल संरक्षण हेतु किये जा रहे प्रयासों पर प्रस्तुतीकरण दिया। उन्होंने बताया कि जनपद में 2176 तालाबों का जीर्णोद्धार कर 700 करोड़ लीटर वाटर स्टोरेज क्षमता विकसित की गई है। इसके अतिरिक्त 1027 रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम प्राथमिक विद्यालयों में स्थापित कराया गया है, जिससे 61 करोड़ लीटर वाटर रिचार्जिंग कैपेसिटी विकसित हुई है। यह कार्य अंतर्विभागीय समन्वय के माध्यम से कराया गया है। 

        मुख्य विकास अधिकारी मेरठ ने ग्रामीण पुस्तकालय पर प्रस्तुतीकरण देते हुये बताया कि ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों व प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों को गांव में ही पढ़ने के लिये उचित वातावरण उपलब्ध कराने के उद्देश्य से गांव में लाइब्रेरी की स्थापना की जा रही है। अब तक 250 से अधिक गांवों में लाइब्रेरी खोली जा चुकी हैं, जल्द ही सभी ग्राम पंचायतों को इससे संतृप्त कर दिया जायेगा। मुख्य सचिव ने इटावा, आजमगढ़, फतेहपुर, मेरठ में किये गये अभिनव प्रयासों की प्रशंसा करते हुये कहा कि इस तरह के अभिनव प्रयास अन्य जनपदों में भी किये जाने चाहिये।  बैठक में सभी सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण तथा वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से समस्त मण्डलायुक्त एवं जिलाधिकारीगण आदि उपस्थित थे।