मुख्य सचिव ने ‘Future Ready Bharat’ Digital Governance Summit का किया शुभारंभ


लखनऊ। मुख्य सचिव ने होटल ताज में ‘Future Ready Bharat’ Digital Governance Summit का शुभारंभ किया।मुख्य सचिव ने कहा कि हम सभी को Future Ready for Uttar Pradesh पर फोकस करना होगा। उन्होंने कहा कि हमारे देश में आमूलचूल परिवर्तन हो रहा है। आज हमारी अर्थव्यवस्था पांचवे स्थान पर है। आजादी के अमृत महोत्सव को देखते हुए प्रधानमंत्री जी के आह्वान पर आजादी के 100 साल के बाद हमारा देश पूरी तरह से विकसित हो चुका होगा, हमारी अर्थव्यवस्था दूसरे नबंर पर होगी। ईज ऑफ लिविंग के तहत हमारा लक्ष्य अर्थव्यवस्था को चार गुना करना नहीं, बल्कि मूल्य लक्ष्य आम जनमानस को सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचाना है।


       मुख्य सचिव ने कहा कि स्मार्ट सिटी परियोजनाओं का सीधा लाभ जनता को मिल रहा है। पूरे प्रदेश में शिक्षा, सड़क, रोजगार तथा अन्य क्षेत्रों में आम जनमानस को योजनाओं का लाभ मिल रहा है। आज प्रदेश में अमृत 2.0 के तहत आम जनमानस शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जा रही है। गांवों में अमृत सरोवर और शहरों में नदियों और तालाबों को पुनर्जीवित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पहले योजनाएं बनतीं थीं, शिलान्यास होते थे, अब न सिर्फ शिलान्यास होता है, बल्कि काम शुरू होकर पूरा भी हो रहा, जनता तक योजनाओं का सीधा लाभ पहुंच रहा।


      उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में आज प्रदेश में सबसे ज्यादा एक्सप्रेस-वे है। 13 एक्सप्रेस-वे में 6 एक्सप्रेस-वे संचालित है और 7 एक्सप्रेस-वे पर काम चल रहा है, आने वाले समय में यह कार्य पूरा हो जाएगा। प्रदेश में एयर कनेक्टीविटी में सुधार हो रहा है। आज प्रदेश में 3 इंटरनेशनल एयरपोर्ट हैं, 2 और इंटरनेशन एयरपोर्ट पर कार्य चल रहा है। प्रदेश में डाटा सेंटर का हब बनने जा रहा है। प्रदेश में 38 करोड़ से ज्यादा लोगों को कोरोना वैक्सीन लग चुकी है। इसके अलावा साढ़े 3 करोड़ से ज्यादा लोगों ने बूस्टर डोज भी लगवा ली है।कार्यक्रम में फाउण्डर एण्ड सीईओ एलेट्स टेक्नोमीडिया डॉ0 रवि गुप्ता, इण्टरप्राइज चैनल माइक्रोसाफ्ट इंडिया की डायरेक्टर सुचित्रा कोलुरु, विशेष सचिव आई0टी0 एवं इलेक्ट्रॉनिक्स अक्षय त्रिपाठी तथा उ0प्र0 व माइक्रोसाफ्ट के अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण आदि उपस्थित थे।