मुख्य सचिव ने शाहजहांपुर में हो रहे विकास कार्यों की समीक्षा की

लखनऊ/शाहजहांपुर। आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत पंडित राम प्रसाद बिस्मिल जी की जयंती पर मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र का जनपद शाहजहांपुर में आगमन हुआ। सर्वप्रथम मुख्य सचिव मंत्री वित्त व संसदीय कार्य सुरेश कुमार खन्ना के आवास पहुंचे, जहां पर मुख्य सचिव का फूल माला व पुष्पगुच्छ देकर माननीय मंत्री महोदय ने स्वागत किया। तत्पश्चात मुख्य सचिव  विकास भवन पहुंचे विकास भवन परिसर में उन्हें पुलिस बल द्वारा सलामी दी गई। विकास भवन सभागार में जनपद के विभिन्न विभागों द्वारा संचालित योजनाओं से संबंधित इंस्टॉल लगाए गए थे। उन्होंने विकास भवन में लगे भिन्न-भिन्न विभागों के स्टाल देखें। मुख्य रूप से बाल विकास विभाग द्वारा पोषण अभियान व गोद भराई कार्यक्रम में 5 महिलाओं की गोद भराई कार्यक्रम संपन्न हुआ व पोषण कार्यक्रम के तहत बच्चों को मुख्य सचिव ने दही चीनी व खिलौना देकर पोषण अभियान को गति दी।   

    मुख्य सचिव ने उत्तर प्रदेश खादी ग्रामोद्योग बोर्ड उत्तर प्रदेश माटी कला बोर्ड के तत्वावधान में संचालित योजना के अंतर्गत विद्युत चाक का निशुल्क वितरण किया तथा लाभार्थियों को रोजगार स्थापित करने हेतु ऋण का चेक आवंटित किया। सूक्ष्म लघु और मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन विभाग द्वारा एक जनपद एक उत्पाद प्रशिक्षण व टूलकिट योजना का प्रदर्शन किया गया। जनपद शाहजहांपुर के एक जनपद एक उत्पाद के तहत जरी व जरदोजी के काम का प्रदर्शन व लाइव लाइव डेमो किया गया। विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अंतर्गत बने हुए उत्पादों को देखा वह सराहना की। एक जनपद एक उत्पाद वित्त पोषण योजना अंतर्गत लाभार्थियों को चेक वितरण किए। बेसिक शिक्षा विभाग तथा जिला नगरीय विकास अभिकरण विभाग द्वारा भी स्टाल लगाकर विभाग द्वारा संचालित योजनाओं का प्रदर्शन किया गया।        

      कोविड टीकाकरण, पीएम किसान सम्मान निधि,पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना की समीक्षा की व जिला आपूर्ति अधिकारी को राशन वितरण संबंधी जानकारी ली। पीएम स्वनिधि योजना की समीक्षा करते हुए मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि लाभार्थी अपना पीएम स्वनिधि का परिचय बोर्ड व क्यूआर कोड का उपयोग करें। पीएम मुद्रा योजना में जनपद में लक्ष्य से ज्यादा हासिल किया है। पीएम आवास शहरी व पीएम आवास ग्रामीण योजना की समीक्षा में शहरी प्रगति पर मुख्य सचिव ने नाराजगी जताई। पीएम रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना की समीक्षा की। सामुदायिक शौचालय की समीक्षा में बताया कि 1069 पंचायतो में से 1061 में सामुदायिक शौचालय का निर्माण पूर्ण हो गया है 08 पंचायतो में जमीन उपलब्ध नहीं है। इसपर मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि जमीन की अदला बदली कर ली जाए। पंचायत घर व ग्राम सचिवालय के निर्माण कार्यों की प्रगति संतुष्टिपूर्ण मिली। मनरेगा की समीक्षा में निर्देश दिया कि अमृत सरोवर योजना में जनपद को 75 तालाब का लक्ष्य दिया था लेकिन अब सरकार प्रत्येक गांव में 2 तालाब अमृत सरोवर के तहत विकसित करना चाहती है अतः अब इस लक्ष्य को लेकर कार्य किया जाए।गौ संरक्षण की समीक्षा में बताया गया कि जनपद में 51 गौ सरंक्षण केंद्र, 04 बृहद गौ सरंक्षण केंद्र, 02 कान्हा गौ केंद्र, 36 मनरेगा गौ सरंक्षण केंद्र हैं तथा सहभागिता योजना में 5044 गाय दान की गई है तथा भूसा संकलन में जनपद का 5वा स्थान है। जल जीवन मिशन,आयुष्मान कार्ड, स्वामित्व योजना में घरौनी वितरण इत्यादि की समीक्षा की।तत्पश्चात मुख्य सचिव को जिलाधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी द्वारा एक जिला एक उत्पाद के तहत जरी जरदोजी की शॉल व मोमेन्टो भेँट किया। मुख्य सचिव ने इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की।

मुख्य सचिव ने विकास भवन पहुंचकर जनपद में हो रहे विकास कार्यों से संबंधित समीक्षा की। नगर आयुक्त ने शाहजहाँपुर नगर निगम संबंधित विकास कार्यों को मुख्य सचिव के समक्ष रखा। उन्होंने बताया कि शहर में नगर निगम कार्यालय का नव निर्माण प्रगति पर है तथा शहर में 500 व्यक्तियों की क्षमता का बहुउद्देश्यीय ऑडीटोरियम का निर्माण कार्य चल रहा है मुख्य सचिव ने इसे 15 अगस्त तक पूर्ण करने के निर्देश दिए। जनपद में एक मल्टी लेवल कार पार्किंग हनुमतधाम पर निर्माण कार्य चल रहा है। शाहजहाँपुर स्मार्ट सिटी के अंतर्गत स्मार्ट रोड परियोजना गतिशील है। अमृत योजना के अंतर्गत सीवरेज परियोजना में हो रही देरी के लिए यूपी जल निगम के एक्जीक्यूटिव इंजीनियर को मुख्य सचिव ने कड़ी फटकार लगाई व कार्य को शीघ्रता से पूर्ण कर रिपोर्ट देने को कहा, अमृत योजना 2 के अंतर्गत ही पेयजल पुनरघटन योजना में कैम्प लगाकर हर घर को कनेक्शन दिए जाने के कड़े निर्देश मुख्य सचिव ने दिए।