निर्माण कार्यों में रुचि न लेने वाले अधिकारियों के विरुद्ध कार्यवाही करें -मुख्य सचिव

मुख्य सचिव ने लोक निर्माण विभाग की 50 करोड़ से अधिक लागत की निर्माणाधीन परियोजनाओं की समीक्षा की।सभी निर्माण कार्य गुणवत्ता के साथ समय से पूर्ण हो।निर्माण कार्यों में रुचि न लेने वाले कांट्रैक्टर के विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाये।

लखनऊ। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने लोक निर्माण विभाग की 50 करोड़ से अधिक लागत की निर्माणाधीन परियोजनाओं की समीक्षा की।मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने गोरखपुर में आयुष विश्वविद्यालय का निर्माणाधीन कुलपति आवास, गेस्ट हाउस, फैकल्टी सेंटर, नवीन सैनिक स्कूल का कार्य जुलाई, 2023 तक पूरा कराने के निर्देश दिये हैं। इसके अलावा अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के अन्तर्गत विश्वविद्यालय के निर्माणाधीन भवनों का कार्य समय सारिणी के अनुसार निर्धारित मानक एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराया जाये। इसके अतिरिक्त उन्होंने उच्च शिक्षा विभाग के अन्तर्गत निर्माणाधीन राज्य विश्वविद्यालयों का कार्य भी निर्धारित समयावधि में पूर्ण कराने के निर्देश अधिकारियों को दिये।


         उन्होंने कहा कि निर्माण कार्यों में रुचि न लेने वाले कांट्रैक्टर के विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाये। सभी निर्माण कार्य गुणवत्ता के साथ समय से पूर्ण हो। इसके लिये नवीनतम टेक्नोलॉजी का उपयोग किया जाये।मुख्य सचिव ने आयुष, माध्यमिक, धर्मार्थ, अल्पसंख्यक कल्याण, उच्च शिक्षा, न्याय, गृह, चिकित्सा शिक्षा और श्रम विभाग में चल रहे काम के बारे में भी जानकारी प्राप्त की और आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये।बैठक में प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग सहित सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण आदि उपस्थित थे। साथ ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जिले के एक्सईएन भी बैठक में शामिल हुए।