यातायात नियमों का उल्लंघनकर्त्ता के विरुद्ध सख्त कार्यवाही करें-मुख्य सचिव

यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध अभियान चलाकर हो सख्त कार्यवाही। जनपद में अवैध ट्रांसपोर्ट पाये जाने पर वरिष्ठ अधिकारी होंगे जिम्मेदार।ड्राइविंग लाइसेंस की प्रक्रिया में दलालों का दखल सख्ती से रोका जाये।स्कूली वाहनों के फिटनेस की सख्ती से जांच की जाये।नशे की हालत में वाहन चलाने तथा वाहन चलाते समय मोबाइल का उपयोग करने वालों के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही हो।अवैध अतिक्रमण में हटाये गये वेण्डरों को स्थान चिन्हित कर पुनर्स्थापित किया जाये।हाल की घटनाओं में शांति व्यवस्था बनाये रखने में कानपुर एवं प्रयागराज में हुई सख्त कार्यवाही प्रशंसनीय। शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिये सख्ती के साथ-साथ मित्रवत संवाद भी स्थापित किया जाये। 

लखनऊ।  प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने कहा कि यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध अभियान चलाकर सख्त कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। किसी भी जनपद में अवैध ट्रंासपोर्ट पाये जाने पर वरिष्ठ अधिकारियों का उत्तरदायित्व निर्धारित किया जायेगा। सड़कों पर धार्मिक आयोजन कतई न हो, इसके लिये धर्मगुरुओं से नियमित संवाद स्थापित करते रहें। यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों से ई-चालान की धनराशि वसूलने के लिये 10 ई-कोर्ट स्थापित किये गये हैं, उसका भरपूर उपयोग किया जाये। 

         मुख्य सचिव ने यह निर्देश समस्त मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों एवं वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से दिये। उन्होंने कहा कि स्कूली वाहनों के फिटनेस की सख्ती से जांच की जाये। वाहनों के फिटनेस प्रमाण पत्र में तेजी लाने के लिये मण्डल के किसी भी जिले से फिटनेस प्रमाण पत्र बनवाने की सुविधा उपलब्ध करायी जाये। ड्राइविंग लाइसेंस की प्रक्रिया में दलालों के दखल को सख्ती से रोका जाये। उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि वह भ्रमण के समय ट्रामा सेण्टर का आकस्मिक निरीक्षण अवश्य करें और उसके सुचारु संचालन की व्यवस्था सुनिश्चित करायें। उन्होंने कहा कि नशे की हालत में वाहन चलाने वालों के विरुद्ध अभियान चलाकर कार्यवाही की जाये, इसके लिये ब्रेथ एनलाइजर का उपयोग किया जाये। साथ ही वाहन चलाते समय मोबाइल का उपयोग करने वालों के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिये हैं। बेहतर यातायात के लिए 10 हजार होमगार्ड्स यातायात विभाग को उपलब्ध कराये गये हैं, इन्हें ट्रेनिंग देकर इनका उपयोग किया जाये।  

वरिष्ठ अधिकारी व्यक्तिगत हस्तक्षेप कर मामले को वहीं पर शांत कराने का प्रयास करें-अवनीश कुमार अवस्थी

 अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर ब्लैक स्पाट चिन्हित कर उनको ठीक कराने की कार्यवाही की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि किसी भी घटना में वरिष्ठ अधिकारी व्यक्तिगत हस्तक्षेप कर मामले को वहीं पर शांत कराने का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि अवैध अतिक्रमण में हटाये गये वेण्डरों को स्थान चिन्हित कर पुनर्स्थापित किया जाये, ताकि किसी की भी रोजी-रोटी प्रभावित न हो सके। हाल की घटनाओं में शांति व्यवस्था बनाये रखने में कानपुर एवं प्रयागराज में हुई सख्त कार्यवाही की प्रशंसा करते हुये उन्होंने गड़बड़ी फैलाने वालों से सख्ती से निपटने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर कड़ी नजर रखते हुये छोटी से छोटी घटना में त्वरित कार्यवाही की जाये। उन्होंने अधिकारियों से भी यह कहा है कि लोगों को समझाया जाये कि प्रदेश के बाहर की घटनाओं को लेकर प्रदेश की शांति व्यवस्था का माहौल खराब करना अनुचित है और इससे लोगों का रोजी-रोजगार भी प्रभावित होती है। शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिये सख्ती के साथ-साथ मित्रवत संवाद भी स्थापित किया जाये। छोटी-सी-छोटी घटना पर तुरन्त एक्शन लें।