Covid-19,पॉजिटिव के घर पहुंच सहमत पत्र- दवा की किट उपलब्ध कराएं-जिलाधिकारी

अयोध्या, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने कलेक्ट्रेट सभागार में रैपिड रिस्पांस टीम (आर.आर.टी.) द्वारा अब तक किए गए कार्यों की समीक्षा की। जिलाधिकारी ने आरआरटी टीमों से कांटेक्ट ट्रेसिंग व होम आइसोलेशन की स्थिति तथा होम आइसोलेशन में रखे गए व्यक्तियों को जिला प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराए जा रहे मेडिसिन किट को उपलब्ध कराने के स्थिति की समीक्षा करते हुए कहा कि पॉजिटिव  आये व्यक्तियों को  होम आइसोलेशन  अथवा हॉस्पिटलाइज  करने की कार्रवाई  समय से की जाए।

उन्होंने कहा कि किसी व्यक्ति के पॉजिटिव आने पर कंट्रोल रूम से तत्काल संबंधित आरआरटी टीम को सूचित किया जाए जिस पर तत्काल आरआरटी टीम  पॉजिटिव व्यक्ति के घर पहुंच कर होम आइसोलेशन के सभी मानकों को देखते हुए उससे होम आइसोलेशन का सहमत पत्र प्राप्त कर उसे दवा की किट उपलब्ध कराएं, ‘‘क्या करें क्या ना करें’’ की विस्तृत जानकारी दें, उसका टेलीफोन/मोबाइल नंबर प्राप्त करें व अपना मोबाइल नंबर उसे उपलब्ध कराएं।

इसके साथ साथ 10 दिनों तक लगातार उसे बातें करें और यदि मरीज को कोई दिक्कत होती है तो उसे हॉस्पिटल में शिफ्ट करें। उन्होंने कहा कि बात के दौरान उनसे यह भी जानकारी ली जाए कि उनके आसपास कोई सिंप्टोमेटिक व्यक्ति तो नहीं है यदि ऐसा कोई व्यक्ति है तो वह आरआरटी टीम अथवा एएनएम,आशा से संपर्क कर अपना कोविड-19 जांच अवश्य करा लें। उन्होंने कहा कि सभी सिंप्टोमेटिक व्यक्तियों की सही समय पर जांच बहुत ही जरूरी है।

 जिलाधिकारी ने कहा कि पॉजिटिव आये व्यक्तियों के कांटेक्ट ट्रेसिंग का कार्य एक दिन में ही कार्य  पूरा करें। जिलाधिकारी ने कहा कि होम आइसोलेशन के ऐसे लोग जिन्हें अभी तक मेडिसिन किट उपलब्ध नहीं हो पाई है उनसे संबंधित आरआरटी व एम ओ आई सी द्वारा कल शाम तक उन्हें मेडिकल किट अवश्य उपलब्ध करा दी जाए।

जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में को कोविड-19 चिकित्सालय वह कोविड केयर सेंटरों में बेहतर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं जिसके अंतर्गत चिकित्सालयों में संक्रमित व्यक्तियों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने हेतु चवनप्राश, आर्सेनिक- 30, गिलोय वटी जैसी औषधियां भी जिला प्रशासन द्वारा आवश्यकतानुसार प्रदान की जा रही हैं जिसके परिणाम स्वरूप जनपद में बहुत ही कम संख्या में संक्रमित लोगों को एल 01 से एल 02 चिकित्सालयों में रिफर करने की आवश्यकता पड़ी है।

अनुज कुमार झा ने कहा कि आने वाले समय में कोविड-19 जांच की संख्या में बढ़ोतरी की जाएगी जिससे पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या में भी बढ़ोतरी होगी जिसके फलस्वरूप होम आइसोलेशन भी बढ़ेगा जिसमें आरआरटी टीम की सबसे महत्वपूर्ण भूमिका व कार्य होगी। अतः सभी टीमें समन्वय बनाकर बेहतर कार्य करें। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी प्रथमेश कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ घनश्याम सिंह सहित आरआरटी  टीम के सदस्य व एमओआईसी आदि उपस्थित रहे।