जिलाधिकारी ने ‘क्लबफुट‘ बीमारी का इलाज करा रहे बच्चों के साथ केक काट किया शुभारम्भ

योध्या। जिलाधिकारी नितीश कुमार की अध्यक्षता में जिला चिकित्सालय (पुरूष) में आज दिनांक 03 जून 2022 को विश्व क्लबफुट दिवस के अवसर पर ‘क्लबफुट डे‘ का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी द्वारा ‘क्लबफुट‘ बीमारी का इलाज करा रहे बच्चों के साथ केक काट कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। जिलाधिकारी ने कहा कि ‘क्लबफुट‘ एक ऐसी स्थिति है, जिसमें जन्म से (जन्मजात) ही बच्चें के पैर अंदर की तरफ मुड़े होते है और इसके कारण के सामान्य रूप से चलने फिरने में अक्षम होते है किन्तु अगर समय पर इस बीमारी का इलाज कराया जाता है तो बच्चों को इससे छुटकारा दिलाया जा सकता है और उन्हें चलने फिरने में परेशानी का सामना भी नही करना पड़ेगा। उन्होंने उक्त बीमारी के लक्षण वाले बच्चों के माता-पिता/अभिभावकों को जिला चिकित्सालय पुरूष में अथवा शुचि सिंह, जिला कार्यक्रम संचालिका, मिरेकल फीट इंडिया मो. न. -7304555889 से सम्पर्क कर समय से इलाज प्रारम्भ करने की अपील की। इस दौरान जिलाधिकारी ने आशा, एएनएम आदि से समन्वय कर जनपद में क्लबफुट से ग्रसित समस्त बच्चों की पहचान कर उन्हें उचित इलाज उपलब्ध कराने तथा लोगों को जागरूक करने के निर्देश दिये।


       इस अवसर पर डा0 आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि जिला चिकित्सालय अयोध्या में विगत तीन वर्षो से मिरेकल फीट योजना के अन्तर्गत आरबीएसके आदि की मदद से क्लबफुट बच्चों को चिन्हित करके प्रत्येक शनिवार जिला चिकित्सालय के कमरा नम्बर 9 में परीक्षण कर आवरूयकतानुसार उचित इलाज के द्वारा पैर ठीक किये जाते है। इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अजय राजा, प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक जिला चिकित्सालय पुरूष डा0 चन्द्रभूषण नाथ त्रिपाठी द्वारा भी क्लब फूट बीमारी के लक्षण व इलाज के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की गयी। इस अवसर पर डॉ आर0 बी0 वर्मा व अन्य चिकित्सक भी उपस्थित रहे।