सम्पूर्ण समाधान दिवस का रोस्टर जारी-जिलाधिकारी

अयोध्या। जिलाधिकारी नितीश कुमार ने जनसमस्याओं के निस्तारण एवं अन्य सुविधाओं को सुगमता उपलब्ध कराने के लिए माह के प्रथम व तृतीय शनिवार को जिले के प्रत्येक तहसील में माह जुलाई, अगस्त व सितम्बर 2022 में प्रातः 10 बजे से 2 बजे तक आयोजित होने वाले सम्पूर्ण समाधान दिवस का रोस्टर जारी किया है। जिलाधिकारी की अध्यक्षता में दिनांक 02 जुलाई 2022 को तहसील सोहावल में, दिनांक 16 जुलाई 2022 को तहसील बीकापुर में, 06 अगस्त 2022 को तहसील मिल्कीपुर में, 20 अगस्त 2022 को तहसील रूदौली में, 03 सितम्बर 2022 को तहसील सदर में तथा 17 सितम्बर 2022 को तहसील सोहावल में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया जायेगा। उन्होंने बताया कि कोविड-19 महामारी संक्रमण के दृष्टिगत जनसमस्याओं के निराकरण के सम्बंध में सम्पूर्ण समाधान दिवस आयोजित करने हेतु पूर्व में निर्गत शासनादेश द्वारा जनसमस्याओं के समयबद्व गुणवत्तापूर्ण निस्तारण व शिकायतों के प्रभावी अनुश्रवण एवं विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत मिलने वाली सुविधाओं को सुगमता से उपलब्ध कराये जाने शासकीय सुविधाओं की डिलीवरी, विभिन्न कार्यालयों के स्थान पर यथासम्भव एक ही स्थान पर उपलब्ध कराये जाने तथा जन सामान्य एवं अधिकारियों के मध्य सीधा जन-संवाद स्थापित करने हेतु माह के प्रथम व तृतीय शनिवार को जिले की प्रत्येक तहसील में प्रातः 10 बजे से 2 बजे तक सम्पूर्ण समाधान दिवस आयोजित किया जायेगा। उक्त के अतिरिक्त अन्य तहसीलों में जिलाधिकारी द्वारा निर्धारित रोस्टर के अनुसार मुख्य विकास अधिकारी अथवा जिलाधिकारी द्वारा नामित किसी अपर जिलाधिकारी तथा शेष तहसीलों में सम्बन्धित उपजिलाधिकारी द्वारा सम्पूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता किये जाने हेतु निर्देशित किया गया है। उपरोक्तानुसार माह जुलाई, अगस्त व सितम्बर 2022 में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित होने वाले सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्रत्येक विभाग के जिला स्तरीय अधिकारी भाग लेंगे। जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित होने वाले सम्पूर्ण समाधान दिवसों के अतिरिक्त जनपद की अन्य तहसीलों में आयोजित होने वाले सम्पूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता मुख्य विकास अधिकारी, सम्बन्धित अपर जिलाधिकारी, उपजिलाधिकारी करेंगे तथा शिकायतों को समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण निस्तारण, सत्यापन करेंगे।


जिलाधिकारी ने बताया कि शासनादेश के अनुसूची-1 व 2 में अंकित अधिकारीगण सम्पूर्ण समाधान दिवस में अनिवार्य रूप से भाग लेंगे। प्रत्येक सम्पूर्ण समाधान दिवस में सम्बन्धित उपजिलाधिकारीध् तहसीलदार प्राप्त होने वाली शिकायतों को शासनादेश में निहित व्यवस्था के अनुसार निर्धारित प्रारूप अनुसूची-4 के अनुसार पंजिका तैयार कर पंजीकरण कराते हुए समन्वित शिकायत प्रणाली आई.जी. आर.एस. पोर्टल पर दर्ज करायेंगे। समस्त अधिकारियों की जिम्मेदारी होगी कि वह अपने विभाग से सम्बन्धित प्रार्थनापत्रों को उसी दिन प्राप्त करने के बाद ही तहसील कार्यालय छोड़ेगे सम्पूर्ण समाधान दिवस में भाग लेने वाले माननीय सांसदध्विधायकगण को सम्मानपूर्वक बैठने हेतु एक प्रमुख स्थान की व्यवस्था की जायेगी प्राप्त शिकायतों का उसी दिन मौके पर यथासम्भव निस्तारण करायेंगे एवं शिकायतों का निस्तारण तुरन्त न हो पाने की स्थिति में तत्समय ही सम्बन्धित विभाग के सक्षम अधिकारी को शिकायती प्रार्थनापत्र प्राप्त कराते हुए समय से निस्तारण कराने हेतु निर्देशित करेंगे सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त शिकायती प्रार्थनापत्रों का निस्तारण, अनुभवण सम्बन्धित शासनादेश के प्राविधानानुसार किया जायेगा। सम्पूर्ण समाधान दिवस में आवेदक के आवेदनपत्र पर उसका मोबाइल नम्बर अंकित कराते हुए निहित व्यवस्थानुसार पंजीकरण कराते हुए अनुसूची-3 सम्पूर्ण समाधान दिवस की रसीद निर्गत की जाये सम्पूर्ण समाधान दिवस पर निस्तारित प्रकरणों एवं शिकायतों के निस्तारण की सूचना शासनादेश में यथाविहित निर्देशानुसार सुनिश्चित करायें तथा शासनादेश के साथ सलग्न चेकलिस्ट में उल्लिखित बिन्दुओं का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराते हुए सूचना उसी दिन आई.जी.आर. पोर्टल की वेबसाइट पर अपलोड करायी जाए। प्रत्येक व्यक्ति की थर्मल स्कैनिंग की जाय किसी भी अधिकारीध्कर्मचारी एवं आवेदक में कोविड-19 के संक्रमण के लक्षण पाये जाने पर सम्बन्धित जिले के मुख्य चिकित्साधिकारीध्जिला चिकित्सालय को सूचित कर अग्रेतर कार्यवाही सुनिश्चित की जाय सम्पूर्ण समाधान दिवस में आने वाले व्यक्तियों के लिए कोविड-प्रोटोकाल यथा दो गज की दूरी, मास्क को अनिवार्यता तथा स्थल पर सैनिटाइजर की व्यवस्था अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करायी जाय।