सपनो को पूरा करने के लिये युवा पीढ़ी आये आगे-डीएम

आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर जनपद में ‘‘आजादी का अमृत महोत्सव’’ का हुआआयोजन,जिलाधिकारी ने शहीद स्मारक स्थल पर शहीदों को पुष्प अर्पित कर किया नमन,आजादी के दौरान नौजवानों के सपनो को पूरा करने के लिये युवा पीढ़ी आये आगे।

प्रतापगढ़ – आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर आज जनपद में ‘‘आजादी का अमृत महोत्सव’’ मनाया गया। इस अवसर पर जनपद के शहीद स्मारक स्थलों पर जिला सैनिक कल्याण कार्यालय, पट्टी के रूरे, रानीगंज के कहला, कालाकांकर, सांगीपुर के चिचिहरा, मतुई नमकशायर में अमर शहीदों/बलिदानियों को पुष्प अर्पित कर नमन किया गया। इस दौरान एनसीसी, युवक मंगल दल, नेहरू युवा केन्द्र युवा मण्डल के युवाओं द्वारा साइकिल यात्रा निकाली गयी जिसमें आजाद के वीर सपूतों के स्लोगन एवं प्ले कार्ड लिये हुये युवा सम्मिलित हुये। यह साइकिल यात्रा प्रातः 9.00 बजे प्रस्थान कर शहर के विभिन्न मोहल्लों, चौराहों से होते हये जिला सैनिक कल्याण कार्यालय शहीद स्मारक स्थल पर प्रातः 9.45 बजे पहुॅची।

इस दौरान जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने जिला सैनिक कल्याण कार्यालय शहीद स्मारक स्थल पर पहुॅचकर अमर शहीदों/बलिदानियों को पुष्प अर्पित कर नमन किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि आजादी के संघर्ष को याद करना चाहिये एवं आज के युवाओं को इसकी जानकारी देना आवश्यक है ताकि उन्हें पता चल सके कि देश को आजाद कराने में हजारों युवाओं ने हसते-हसते अपना बलिदान दिया तब हमें यह आजादी प्राप्त हुई।

आजादी के दौरान नौजवानों ने जो सपना देखा था उन्हें पूरा करने के लिये युवा पीढ़ी को आगे आना चाहिये। इस दौरान राष्ट्रगान की मनमोहक प्रस्तुति की गयी। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) शत्रोहन वैश्य, कर्नल एस0के0 सिंह, जिला सूचना अधिकारी विजय कुमार, जिला विद्यालय निरीक्षक सर्वदानन्द, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका मुदित सिंह, सीओ सिटी अभय पाण्डेय, मो0 अनीस सहित अन्य एनसीसी के जवान व अन्य सम्भ्रान्त लोग उपस्थित रहे।

इस तरह तहसील पट्टी के रूरे में उपजिलाधिकारी पट्टी डीपी सिंह, तहसील रानीगंज के कहला में उपजिलाधिकारी रानीगंज राहुल यादव, कालाकांकर में उपजिलाधिकारी कुण्डा जलराजन चौधरी, सांगीपुर ब्लाक के चिचिहरा में उपजिलाधिकारी लालगंज राम नारायण, मतुई नमकशायर में तहसीलदार रानीगंज, कालाकांकर में सहित अन्य अधिकारियों व सम्भ्रान्त नागरिकों द्वारा अमर शहीदों को पुष्प अर्पित कर नमन किया गया।

आजादी का अमृत महोत्सव के अवसर पर विद्यालयों में स्वतंत्रता आन्दोलन में दांडी मार्च की भूमिका, राष्ट्र धर्म एवं राष्ट्रवाद की संगोष्ठी/सेमिनार का आयोजन किया गया तथा हमारे स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, दांडी मार्च का स्वतंत्रता आन्दोलन पर प्रभाव व भारतीय स्वतंत्रता संग्राम की संघर्ष गाथा पर आधारित निबन्ध प्रतियोगिता आयोजन किया गया।