कावंड़ यात्रा में श्रद्धालुओं का उत्पीड़न न होने दें-मण्डलायुक्त

अयोध्या। मण्डलायुक्त नवदीप रिणवा ने मण्डल के समस्त जिलाधिकारियों से कहा कि श्रावण मास, कांवड़ यात्रा के दृष्टिगत सतर्क-सावधान रहना होगा। उन्होंने कहा कि कावंड़ यात्रा में परम्परागत रूप से नृत्य, गीत, संगीत इसका हिस्सा रहे हैं, ऐसे में श्रद्धालुओं का उत्पीड़न न किया जाए यह सुनिश्चित करें कि डीजे, गीत-संगीत आदि की आवाज निर्धारित मानकों के अनुरूप ही हो और इसमें केवल धार्मिक गीत व भजन ही बजाए जाएं। उन्होंने बताया कि जनपद अयोध्या में चल रहे श्रावण झूला मेला के दृष्टिगत मेला परिसर में गंदगी न रहे, साफ सफाई की नियमित सुव्यवस्था सुनिश्चित की जाय तथा बरसात के पानी को कहीं जमा न होने दिया जाय। रास्ते आदि में खुदे हुये गड्ढो को तत्काल आदि पाट दिया जाय तथा रेत डालकर रास्ते को श्रद्वालुओं हेतु सुगम बनाया जाय।

मेला परिसर में जिन-जिन स्थानों पर अधिकारियों/कर्मचारियों की ड्युटी लगायी गयी है वह अपने-अपने ड्युटी क्षेत्र में उपस्थित रहे तथा मेले के दौरान विभिन्न जनपदों से आ रहे श्रद्वालुओं/कांवरियों को किसी भी प्रकार की परेशानी होने पर उनकी तत्काल सहायता करें। उन्होंने कहा कि रात्रि के समय रास्तों तथा मेला क्षेत्र में पर्याप्त प्रकाश की व्यवस्था तथा मेला क्षेत्र में आये हुये श्रद्वालुओं के लिए शुद्व पेयजल की पर्याप्त व्यवस्था की जाय।मण्डलायुक्त ने मेला क्षेत्र में आये सभी श्रद्वालुओं/कांवड़ियों से अपील की है कि मेला क्षेत्र में स्वच्छ एवं शांतिपूर्ण बनाये रखने में प्रशासन की सहायता करें तथा किसी भी प्रकार की समस्या होने पर प्रशासन से सहयोग प्राप्त कर सकते है।