September 23, 2021

Nishpaksh Dastak

Nishpaksh Dastak

सबके हैं राम- सतीश चंद्र मिश्रा

13% ब्राह्मण व 23% दलित एक हो जाएगा।।तो सरकार बनने से कोई नही रोक पायेगा।ब्राह्मण समाज बुद्धजीवी समाज है।हाथी नही गणेश है। ब्रम्हा विष्णु महेश है।

अयोध्या। रामनगरी पहुंचे बीएसपी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने रामजन्मभूमि परिसर में रामलाल व हनुमानगढ़ी का किया दर्शन पूजन। राष्ट्रीय महासचिव सतीश मिश्रा का बयान।भाजपा अगर सोचती है कि प्रभु राम केवल उसके हैं,तो यह उसकी सबसे बड़ी भूल है। भगवान राम सबके हैं उनसे ज्यादा हमारे हैं। शासन ने उपेक्षित व पीड़ित ब्राह्मण समाज को जागरूक करने के लिए ब्राम्हण सम्मेलन शुरू किया जा रहा है-सतीश मिश्रा।कहा हम धर्म के नाम पर राजनीति नहीं करते।राम लला पर राजनीति नहीं करते।हम भगवान राम में आस्था रखते हैं। रोजाना सुबह उनकी पूजा करते है। 2022 के चुनाव पर बीएसपी अकेले चुनाव लड़ेंगी किसी भी दल से गठबंधन न करके केवल जनता व सर्वसमाज से ही पार्टी गठबंधन करेगी।ऐसा पहले भी सर्व समाज से गठबंधन कर चुनाव जीत कर हम सरकार बना चुके हैं। सतीश चंद्र मिश्रा ने किया सरयू पूजन।सरयू में किया आचमन। सवा कुंटल दूध से कि दुग्धाभिषेक।अयोध्या से ताराजी रिसार्ट कार्यक्रम स्थल के लिए रवाना हुए सतीश चंद्र मिश्रा।

प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में पहुचे बीएसपी राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा, प्रबुद्ध वर्ग के सम्मान।सुरक्षा व तरक्की विचार संगोष्ठी में हो रहे शामिल। तारा जी रिसोर्ट में हो रहा कार्यक्रम। 50 लोगो को कार्यक्रम में शामिल होने की थी अनुमति।लेकिन सैकड़ो की संख्या में पहुचे लोग।वैदिक ब्राह्मण भी पहुचे कार्यक्रम में।शंख बजा कर वैदिक ब्राह्मण कर रहे स्वागत।वैदिक ब्राह्मणों के बैठने की अलग से मंच।

अयोध्या के तारा जी रिजॉर्ट में बसपा द्वारा हो रहे ब्राह्मण सम्मेलन में कोविड प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ाई गई, जबकि जिला प्रशासन द्वारा कार्यक्रम में सिर्फ 50 लोगों की ही अनुमति थी लेकिन सैकड़ों की तादात में लोग पहुंचे l

गोष्ठी की शुरुआत हमने अयोध्या से की है इससे पहले हमने राम लला का दर्शन किया।हनुमान जी का दर्शन किया।संतो से मुलाकात की।सरयू माता का भी दर्शन पूजन किया।कोरोना काल के चलते छोटा सा कार्यक्रम हो रहा है। कोरोना काल खत्म होने के बाद बड़ी सभा की जाएगी। हमने बहुत से कार्यकर्ताओं को समझाया।लोग पूछ रहे हम अयोध्या क्यो आये।। क्या भाजपा की ठेकरदारी हो गयी है अयोध्या की।भगवान राम को वर्षो भाजपा ने टेंट में रखा।।केंद्र व प्रदेश में सरकार भाजपा की थी।सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अब शुरू हुआ मन्दिर निर्माण मन्दिर के नाम पर वर्षो से चंदा इक्कठा किया।।एक वर्ष हो गया।अभी राम लला मन्दिर में नही है

एक साल में नीव भी नही बन पाई,क्या अयोध्या के महंतो से मन्दिर निर्माण पर राय ली गयी।हमारी सरकार में एक साल में भव्य स्मारक बन गया।। ये एक साल में नीव नही बना पाए।पूरे प्रदेश में शंखनाद होगा। 2022 में बनेगी सरकार। ये मंदिर बनाना नही चाहते।हम इन्हें मजबूर कर देंगे। मन्दिर बनाने के लिए,ये कहते है ब्राह्मण को क्यो जोड़ रहे है।।उन्होंने ब्राह्मणों के लिये क्या किया।

पत्रकारिता में भी 90 % ब्राह्मण हैवकालत छोड़ कर हम समाज सेवा कर रहे है।।हमे राज्यसभा भेजा गया।ब्राह्मणों को सम्मान दिलाना है जिसके लिए ये जीते है।13% ब्राह्मण है फिर भी हासिये पर है।।इसका कारण ब्राह्मण एक जुट नही हो पा रहा है।। ब्राह्मणों को एक जुट होना पड़ेगा।असली ताकत तभी मिलेगी जब ब्राह्मण एक जुट होगा।13% ब्राह्मण व 23% दलित एक हो जाएगा।।तो सरकार बनने से कोई नही रोक पायेगा।ब्राह्मण समाज बुद्धजीवी समाज है।हाथी नही गणेश है। ब्रम्हा विष्णु महेश है।

बसपा सरकार में 62 सीट ब्राम्हण जीते।। ब्राह्मण समाज के कारण ही बसपा की पूर्ण बहुमत की सरकार आयी थी । 2200 ब्राह्मणों को सरकारी वकील बनाया गया । बसपा सरकार में ब्राह्मण अधिकारी को।उचित तैनाती दी गयी।प्रदेश के ब्राह्मणों से आह्वान है।।जितनी ब्राह्मणों की हत्या हुई उससे सबक ले । ब्राह्मण ब्राह्मण है चाहे वो कान्यकुब्ज हो या सरयू पारीण।क्या दोष है उस लड़की खुशी का जो 16 साल की है जो जेल में बंद है।हादसे के 48 घण्टे भी नही हुए थे उसे आये हुए।फिर भी उसे जेल भेज दिया।उसके मा बाप कानपुर और उसे बाराबंकी जेल में रखा गया । जिसका नाम खुशी और वो दुखी हो गयी ।

मुख्यमंत्री जी को इस मामले पर खुद संज्ञान लेना चाहिए । समाजवादी पार्टी का तो जिक्र ही नही करना चाहिए।। ब्राह्मण को तो वो दुश्मन समझते है । ब्राह्मण समाज जिधर घूम जाएगा वो सरकार बना देगा।ब्राह्मण समाज के पास इसलिये आये है कि 10 सालो से ब्राह्मण समाज उपेक्षित है।।उसे सम्मान दिलाना है । हम हमने आराध्य भगवान राम के पास आये है तो इन्हें क्या परेशानी है।पूरा विश्व जानता है जब बहन जी की सरकार आती है तो कानून व्यवस्था दुरुस्त हो जाती है । दूसरे फेज में हम वृंदावन मथुरा जाएंगे। बांके बिहारी का करेंगे दर्शन पूजन ।भाजपा वाले भगवान राम की बात करते है लेकिन माता सीता की बात नही करते । तीसरे फेज में हम कासी विश्व नाथ जाएंगे । संबोधन के अंत मे सतीश चन्द्र मिश्र ने लगाए जय श्रीराम के नारे।जय परशुराम के नारे जय भीम जय भारत।