विपक्ष के खिलाफ सरकार तानाशाह

149
विपक्ष के खिलाफ सरकार तानाशाह
विपक्ष के खिलाफ सरकार तानाशाह

विपक्ष के खिलाफ सरकार तानाशाह, भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने पर राहुल गांधी को फंसाने  के भाजपा मोदी सरकार के तानाशाही रवैये के खिलाफ कांग्रेस का पूरे प्रदेश में प्रदर्शन।

भ्रष्टाचार की लूट में शामिल है भारतीय जनता पार्टी इसीलिए अपनी कमियों को छिपाने के लिए विपक्ष और राहुल गांधी की आवाज को दबाना चाहती है- नकुल दुबे

भ्रष्टाचार और तानाशाही के खिलाफ आवाज न रुकी है न रुकेगी-  राजेश तिवारी, राष्ट्रीय सचिव

लखनऊ।
भाजपा सरकार के संरक्षण में जनता के पैसे की लूट का भ्रष्टाचार और आर्थिक अपराध के खिलाफ आवाज उठाने पर राहुल गांधी को भाजपा की केंद्र की मोदी सरकार के द्वारा षड्यंत्र के तहत फंसाने के विरोध में आज पूरे प्रदेश में कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया और विपक्ष के खिलाफ सरकार की तानाशाही के विरोध में आवाज और बुलंद रखे जाने की बात कही। लखनऊ में विरोध प्रदर्शन में उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रांतीय अध्यक्ष नकुल दुबे ने कहा की बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है सत्ता में बैठे तानाशाह आज भ्रष्टाचार की आवाज खिलाफ उठाने पर षड्यंत्र कर रहे हैं और विपक्ष के नेताओं खासतौर से राहुल गांधी जी को निशाना बना रहे हैं, इससे ज्यादा घटिया क्या हो सकता है।

READ MORE-नवरात्री विशेष

प्रदर्शन में पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कार्रवाई देश के पैसों के लुटेरों के खिलाफ करनी थी और कार्रवाई कर रहे हैं उस लूट के खिलाफ आवाज उठाने वाले नेता राहुल गांधी पर, लोकतंत्र में सारी मर्यादा है आचरण ताक पर रखकर भाजपा इस कदर तानाशाही पर उतारू है जनता के पैसे को अपने मित्र मेहुल चौकसी , नीरव मोदी को लुटा कर विपक्ष की आवाज बंद कर रही है आज कार्रवाई तो उन लुटेरों के खिलाफ होनी चाहिए थी जिन्होंने जनता का धन लूटा, उन पर होनी चाहिए थे जो सत्ता में बैठकर जनता का पैसा लूटवा रहे हैं, लेकिन देश आज देख रहा है आज कार्यवाही उन पर की जा रही है जो इस भ्रष्टाचार को समाप्त करने के लिए लगातार आवाज उठा रहे हैं।

सूरत की राहुल गांधी को कैसे सभी चोरों का उपनाम मोदी से बचान पर मन का दोषी है। कोर्ट मेहुल को दो साल कैद की सजा सुन है। हालांकि राहुल को दे दी गई। फैसले के खिलाफ अपीलीय अदालत में जाने के लिए एक महीने का समय देते हुए पर दिन तक रोक भी लगा सुनार वक्त राहुल गांधी अदालत में मौजूद थे। बाद में, कांग्रेस ने कहा कि राहुल फैसले को अपीलीय कोर्ट में देंगे।

स्ट्रेट (सीजेएम) एकच वर्मा ने आदेश में लिखा खुल अपने भाषण को मोदी नीरव मोदी, विजय माल्या मेहुल चोकसी व अनिल अंबानी तक सीमित कर सकते थे। पर उन्होंने जानबूझकर यह बयान दिया। क्योंकि यह भाषण एक चुनावी रैली में दिया गया था, कांग्रेस नेता जानते कि उन्हें इस विवादास्पद टिप्पणी से कैसे लाभ होगा। जज ने कहा चौकीदार चोर है काले बयान पर सुप्रीम कोर्ट की वन और वहां माफी मांगने के बावजूद राहुल के व्यवहार में बदलाव नहीं दिखा।

2013 में जिस अध्यादेश को फाड़ा, वह कानून बनता तो नहीं होता सांसदी पर खतरा। 2013 में तत्कालीन डॉ. मनमोहन सिंह की सरकार जनप्रतिनिधित्व कानून में संशोधन के लिए अध्यादेश लाई थी। इसमें किसी भी सांसद विधायक को दो के बजाय पांच साल की सजा पर अयोग्य उहराने और सदस्यता रद्द करने का प्रावधान किया गया था।

राहुल को सच बोलने की सजा मिली…राहुल को सच बोलने को सजा मिली है। सरकार उनके पीछे पड़ी थी क्योंकि वे उसकी खामियां सामने ला रहे थे। हमें न्यायपालिका पर भरोसा है। – मल्लिकार्जुन खरगे

अंशू अवस्थी ने कहा कि  प्रधानमंत्री सहित पूरी भारतीय जनता पार्टी अपने दिमाग से यह निकाल दे कि इस तरीके की षड्यंत्रों से हम डर जाएंगे ,बिल्कुल नहीं, भाजपा की सुनियोजित जनता के पैसे को लूट के खिलाफ हम सब अपने नेता राहुल गांधी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं भाजपा सरकार को इस लूट का हिसाब किताब देना पड़ेगा,आने वाले समय में देश इस हिसाब किताब भाजपा सरकार से करेगा। पूरे प्रदेश में हुए प्रदर्शन में लखनऊ में प्रांतीय अध्यक्ष नकुल दुबे, अमेठी में राष्ट्रीय सचिव राजेश तिवारी, महासचिव विवेकानंद पाठक, झांसी में पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य, शाहजहांपुर में जिला अध्यक्ष रजनीश गुप्ता, के नेतृत्व में प्रदर्शन हुआ।

प्रदेश मुख्यालय लखनऊ में हुए प्रदर्शन में प्रमुख रूप से प्रांतीय अध्यक्ष नकुल दुबे, कोषाध्यक्ष शिव पाण्डेय, प्रशासन प्रभारी दिनेश सिंह, शाहनवाज आलम, संगठन सचिन अनिल यादव, लखनऊ जिला अध्यक्ष वेद प्रकाश त्रिपाठी, सेवादल प्रदेश संगठक प्रमोद पांडेय, शैलेंद्र तिवारी बबलू विशाल राजपूत, भुवनेश वीरेन्द्र मदान, मीडिया संयोजक अशोक सिंह, पंकज तिवारी, मुकेश सिंह चौहान विकास श्रीवास्तव, हम्माम वहीद, लल्लू जी नकुल दुबे जी दिनेश सिंह जी अनिल यादव जी शिव पांडे जी प्रमोद कुमार पांडे, राजेश सिंह काली, रुद्र दमन सिंहसहित सैकड़ो कांग्रेसजन उपस्थित रहे। विपक्ष के खिलाफ सरकार तानाशाह