अग्निपथ योजना रक्षा शक्ति को मजबूत बनाने का ऐतिहासिक कदम-मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने अग्निवीरों के हित में प्रधानमंत्री द्वारा उठाए गए कदमों के लिए उनके प्रति आभार व्यक्त किया। अग्निपथ योजना देश की रक्षा शक्ति को और अधिक मजबूत बनाने की दिशा में एक ऐतिहासिक कदम, यह योजना युवाओं को राष्ट्र एवं समाज की सेवा हेतु तैयार करेगी। केन्द्रीय रक्षा मंत्रालय द्वारा कोस्ट गार्ड, रक्षा असैन्य पदों तथा रक्षा क्षेत्र के 16 सार्वजनिक उपक्रमों में अग्निवीरों के लिए  10 प्रतिशत पदों को आरक्षित किया जाएगा, भर्ती के प्रथम वर्ष में अग्निवीरों को आयु में 02 वर्ष की छूट भी दी जाएगी। केन्द्रीय गृह मंत्रालय के तहत केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों तथा असम राइफल्स की भर्तियों में अग्निवीरों  के लिए 10 प्रतिशत पदों को आरक्षित किया जाएगा, साथ ही, उन्हें आयु सीमा में 03 वर्ष की छूट भी दी जाएगी। प्रधानमंत्री जी द्वारा अग्निवीरों के समर्थन में उठाए गए कदमों के क्रम में उ0प्र0 सहित विभिन्न राज्यों की सरकारें उन्हें राज्य पुलिस की भर्ती में वरीयता दंेगी। भारतीय नौसेना अपने यहां कार्यरत अग्निवीरों को मर्चेन्ट नेवी में रोजगार के अवसर उपलब्ध कराएगी। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपेन स्कूलिंग 10वीं पास अग्निवीरों के लिए 12वीं कक्षा पास करने के लिए कस्टमाइज़्ड कोर्सेज़ लॉन्च करेगा। केन्द्रीय शिक्षा मंत्रालय अग्निवीरों के भविष्य को संवारने तथा उन्हें नागरिक क्षेत्र में कार्य करने के अवसर प्रदान करने के लिए, सर्विंग डिफेंस पर्सनल हेतु इग्नू द्वारा तैयार किए गए एक विशेष 03 वर्षीय कौशल आधारित स्नातक पाठ्यक्रम को लागू करेगा। शिक्षा मंत्रालय अग्निवीरों द्वारा इन-सर्विस प्रशिक्षण को मान्यता देते हुए इसे ग्रेजुएशन स्तर पर क्रेडिट्स के रूप में स्वीकार करेगा। अग्निवीरों को सर्विस काल के दौरान स्किल इण्डिया सर्टिफिकेशन प्रदान किया जाएगा। प्रधानमंत्री जी की अगुवाई वाली केन्द्र सरकार द्वारा लागू की गई अग्निपथ योजना का स्वागत देश के कॉर्पोरेट घरानों ने भी किया, सेवा पूर्ण करने वाले अग्निवीरों को अपने संस्थानों में भर्ती करने की इच्छा व्यक्त की। अग्निपथ योजना के तहत भर्ती किए जाने वाले अग्निवीरों का भविष्य उज्ज्वल।

मुख्यमंत्री

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अग्निवीरों के हित में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा उठाए गए कदमों के लिए उनके प्रति आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि अग्निपथ योजना देश की रक्षा शक्ति को और अधिक मजबूत बनाने की दिशा में एक ऐतिहासिक कदम है। यह योजना युवाओं को राष्ट्र एवं समाज की सेवा हेतु तैयार करेगी। राष्ट्र सेवा के लिए संकल्पित हमारे अग्निवीर देश की अमूल्य निधि होंगे। केन्द्रीय रक्षा मंत्रालय द्वारा कोस्ट गार्ड, रक्षा असैन्य पदों तथा रक्षा क्षेत्र के 16 सार्वजनिक उपक्रमों में अग्निवीरों के लिए 10 प्रतिशत पदों को आरक्षित किया जाएगा। इसके अलावा, भर्ती के प्रथम वर्ष में अग्निवीरों को आयु में 02 वर्ष की छूट भी दी जाएगी। केन्द्रीय गृह मंत्रालय के तहत केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों तथा असम राइफल्स की भर्तियों में अग्निवीरों के लिए 10 प्रतिशत पदों को आरक्षित किया जाएगा, साथ ही, उन्हें आयु सीमा में 03 वर्ष की छूट भी दी जाएगी।  


   मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा अग्निवीरों के समर्थन में उठाए गए कदमों के क्रम में उत्तर प्रदेश सहित विभिन्न राज्यों की सरकारें उन्हें राज्य पुलिस की भर्ती में वरीयता दंेगी। भारतीय नौसेना अपने यहां कार्यरत अग्निवीरों को मर्चेन्ट नेवी में रोजगार के अवसर उपलब्ध कराएगी। इसके लिए नौसेना द्वारा सेवा के 06 एवेन्यू चिन्हित किए गए हैं। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपेन स्कूलिंग 10वीं पास अग्निवीरों के लिए 12वीं कक्षा पास करने के लिए कस्टमाइज़्ड कोर्सेज़ लॉन्च करेगा। साथ ही, केन्द्रीय शिक्षा मंत्रालय अग्निवीरों के भविष्य को संवारने तथा उन्हें नागरिक क्षेत्र में कार्य करने के अवसर प्रदान करने के लिए, सर्विंग डिफेंस पर्सनल हेतु इग्नू द्वारा तैयार किए गए एक विशेष 03 वर्षीय कौशल आधारित स्नातक पाठ्यक्रम को लागू करेगा।


   मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षा मंत्रालय अग्निवीरों द्वारा इन-सर्विस प्रशिक्षण को मान्यता देते हुए इसे ग्रेजुएशन स्तर पर क्रेडिट्स के रूप में स्वीकार करेगा। अग्निवीरों को सर्विस काल के दौरान स्किल इण्डिया सर्टिफिकेशन प्रदान किया जाएगा, जिससे उन्हें उद्यमिता के साथ-साथ नागरिक सेवाओं में अवसर प्राप्त हो सकेंगे। इसके अलावा, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक, इंश्योरेंस कम्पनीज़ और वित्तीय संस्थान अग्निवीरों के लिए रोजगार के अवसरों की सम्भावनाएं तलाशेंगे। उन्हें उनकी शैक्षणिक योग्यताओं तथा कौशल के आधार पर आवश्यक छूट और लाभ देते हुए रोजगार के अवसर मुहैया कराए जाएंगे। अग्निवीरों को सरकारी योजनाओं जैसे-मुद्रा योजना, स्टैण्ड-अप इण्डिया इत्यादि के तहत अपना व्यापार स्थापित करने के लिए सरकारी बैंक ऋण उपलब्ध कराएंगे।मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री की अगुवाई वाली केन्द्र सरकार द्वारा लागू की गई अग्निपथ योजना का स्वागत देश के कॉर्पोरेट घरानों ने भी किया है। उन्होंने सेवा पूर्ण करने वाले अग्निवीरों को अपने संस्थानों में भर्ती करने की इच्छा व्यक्त की है।अग्निपथ योजना के तहत भर्ती किए जाने वाले अग्निवीरों का भविष्य उज्ज्वल है।