कैसे आएगा शुकुल बाजार की सड़कों पर विकास….?

सुरजीत यादव

अमेठी। शुकुल बाजार की सड़क इसलिए खराब है कि पूर्वांचल एक्सप्रेस बन रहा है, सड़क इसलिए खराब है कि विधायक कांग्रेस का है, सड़क इसलिए खराब है कि विधायक दूसरी पार्टी का है, सड़क इसलिए खराब है कि सांसद कांग्रेस का है। सड़क इसलिए खराब है कि टेंडर पड़ रहा है, सड़क इसलिए खराब है कि विधानसभा चुनाव हो जाय, सड़क इसलिए खराब है कि आगे लोकसभा चुनाव हैं, सड़क इसलिए खराब है कि विधायक जी मंत्री नहीं है, सड़क इसलिए खराब है कि स्मृति ईरानी जी शुकुल बाजार तब आती हैं जब चुनाव होता है, सड़क इसलिए खराब है कि विधायक जी मात्र दो तीन लोगों से ही घिरे हैं। सड़क इसलिए खराब है कि शुकुल बाजार के लोगों को सड़क की जरूरत नहीं है। सड़क इसलिए खराब है कि स्मृति ईरानी जी के हर कार्यक्रम में शुकुल बाजार के लोग खुद पहुंच जाते हैं। सड़क इसलिए खराब है कि आगामी लोकसभा चुनाव होने के बाद सड़क बनेगी। सड़क इसलिए खराब है कि शुकुल बाजार के पत्रकार सिर्फ सड़कों की खबर छापते हैं।

 अमेठी बाजार शुकुल कस्बा में सड़के बनी तालाब बाजार शुकुल में अंबेडकर चौराहा से लेकर कस्बा बाजार शुकुल के अंदर पांडे गंज तक पूरी रोड गड्ढों में तब्दील हो गई है और बैंक ऑफ बड़ौदा से लेकर बड़गा इनका पुरवा तक जो भी सड़क बनी हुई थी सिक्स लाइन हाईवे जो बन रही थी डंपर 24 घंटे लोडिंग होकर इसी रोड से निकलती थी और यह रोडे बिल्कुल धंस चुकी हैं इसके बावजूद भी जनपद अमेठी के अधिकारी मौन है जहां पर कस्बा बाजार शुकुल में आए दिन एक्सीडेंट रोज होते हैं बरसात का मौसम आ गया है पानी भर चुका है उन गड्ढों में किसी को कुछ दिखाई नहीं पड़ रहा है लोग आते हैं और एक्सीडेंट होता है गिरते हैं चोट लगती है लेकिन अमेठी के आला अधिकारी सभी मौन धारण किए हुए हैं यहां तक की अंबेडकर चौराहा से लेकर पांडे गंज और बैंक ऑफ बड़ौदा से लेकर बड़गांइन का पुरवा तक इस रोड पर ब्लॉक जेबी पब्लिक स्कूल सेंट जॉन स्कूल राम कुमार स्मारक इंटर कॉलेज और जानवरों का हॉस्पिटल भी इसी रोड पर पड़ता है और राज्यमंत्री सुरेश पासी भी हफ्ते में लगभग 3 दिन इसी रोड से गुजरते हुए लखनऊ जाते हैं फिर भी उनको यह रोड नजर नहीं आती है।जगदीशपुर विधानसभा जहां से सुरेश पासी मंत्री भी रहे हैं वहां बाजार शुकुल कस्बे की सड़क हो या अन्य प्रमुख क्षेत्रों को जोड़ने वाले संपर्क मार्ग हर सड़क की हालत बेहद खराब है।

सड़क इसलिए खराब है कि विधायक जी सड़क बनने से पहले ही पूजा करते हैं। सड़क इसलिए खराब शुकुल बाजार के लोगों को सड़क से ज्यादा विधायक और सांसद जी के साथ चाय पसंद है। सड़क इसलिए खराब है कि शुकुल बाजार के लोगों को सिर्फ भगवा गमछा फ्री वाला मिल जाय उसी में खुश हैं। सड़क इसलिए खराब है कि सुरजीत यादव जैसे तमाम लोग चुनाव बाद भुला दिए जाते हैं। सड़क इसलिए खराब है कि सड़क निर्माण के नाम पर होने वाली दलाली को शुकुल बाजार क्षेत्र के लोग मुजरा की तरह बहुत ही भाव से देखते हैं और सड़क निर्माण करने वाला ठेकेदार गुणवत्ता विहीन सड़क निर्माण करके चला जाता है। सड़क इसलिए भी खराब है कि यहां के जनप्रतिनिधियों को अपने व्यक्तिगत कार्यों से फुर्सत नहीं है। सड़क इसलिए खराब है कि यहां कि जनता चुनाव में रैलियों में बड़का भैया के कहने से भर भर गाड़ी नेताओं के कार्यक्रम में पहुंच जाते हैं।

सड़क इसलिए खराब है कि सुरजीत यादव जैसे लोग मुख्यमंत्री जी कार्यक्रम में अपनी ओर से गाड़ी लेकर कार्यक्रम में जातें हैं और चुनाव बाद किसी का पिछलग्गू नहीं बनते हैं। सड़क इसलिए खराब कि यहां के लोगों सिर्फ व्यक्तिगत लाभ चाहिए। सड़क इसलिए खराब है कि सड़कों को लेकर पत्रकारों द्वारा सवाल किया जाय तो मोबाइल छीन लिया जाता है, और पत्रकारों का संगठन तमाशबीन बना रहता है। सड़क इसलिए खराब है कि अधिकारियों द्वारा फरियादियों से कहा जाता है कि जहां जाना हो जाओ फिर शिकायत करो जो मैं चाहूंगा वही करूंगा। सड़क इसलिए भी खराब है कि सड़क पर बात न करो भले चाहे एक चाय के बजाय दो जाय पी लो।

सड़क इसलिए खराब है कि शुकुल बाजार में घूर, गढ्ढा, नाली खडण्जा वाले नेताओं की भरमार है। सड़क इसलिए खराब है कि यहां सेल्फ़ी वाले नेता कुछ ज्यादा पैदा होते हैं। सड़क इसलिए खराब है कि यहां होटल पर बैठकर राजनीति की जाती है। सड़क इसलिए खराब कि यहां भाजपा नेताओं में ग्रुप ए और ग्रुप बी है। सड़क इसलिए खराब है कि अमेठी में नेता चुनाव के समय बिल से निकलते हैं, बाकी समय सोते हैं।सड़क खराब होने के और तमाम कारण हैं ज्यादा लिख दूंगा तो अपने घर से निकाल दिया जाऊंगा। इसलिए इतना ही बहुत है।