बरसात की एक रात में ही मेट्रो सिटी पानी से लबालब-संजय सिंह

 बरसात की एक रात में ही मेट्रो सिटी एवं उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ की गलियां पानी से लबालब हुई मौसम विभाग की पूर्व चेतावनी के बावजूद नगर विकास मंत्री सिर्फ सेल्फी खिंचवाने में मस्त रहे बारिश ने जल निकासी के साथ-साथ सड़कों का भी बुरा हाल कर दिया राजधानी लखनऊ में जान माल का बहुत नुकसान हुआ। स्मार्ट सिटी लखनऊ एवं भाजपा सरकार का मेकअप जनता के सामने उतर गया।

लखनऊ।
मौसम विभाग की पूर्व चेतावनी के बावजूद भी नगर निगम सतर्क नहीं हुआ। नालियों की सफाई, सीवर के ढक्कन रहित मैनहोल को ढकने का काम नगर निगम ने नहीं किया। परिणाम स्वरूप बरसात की एक ही रात से उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ मेट्रो सिटी की गलियां लबालब भर गई। लखनऊ के तमाम हिस्सों में लोगों के घरों में पानी घुस गया। लखनऊ वासियों की जान माल की हानि हुई। एक ही दिन में मेट्रो सिटी लखनऊ का मेकअप पूरी तरह से उतर गया और जनता के सामने आ गया।

उत्तर प्रदेश के प्रवक्ता संजय सिंह के अनुसार 2022 में जब उत्तर प्रदेश मैं दोबारा भाजपा की सरकार बन गई तो मंत्रियों ने बड़ी तेजी से दौरा शुरू किया। ऊर्जा एवं नगर विकास मंत्री भी काफी सक्रिय दिखे। दौरे के साथ-साथ सफाई कर्मचारियों के साथ सेल्फी लेना और सोशल मीडिया पर अपडेट करना उनकी सक्रियता दर्शाता था। मगर 15-16 सितंबर की रात में बारिश के बाद राजधानी लखनऊ का जो हाल हुआ है। उससे यह प्रतीत होता है की जमीन पर मंत्री जी की सक्रियता का असर नहीं था। चौराहा पर एलईडी टीवी पर मंत्री जी का चेहरा तो दिखता था मगर जमीन पर उनका काम नहीं दिखा।

संजय सिंह ने आगे कहा कि योगी सरकार मेट्रो सिटी के नाम पर सिर्फ चाइनीज झालर लगा रही है। ऊर्जा और नगर विकास मंत्री जो कि गुजरात में अपनी सेवांए दे कर आए हैं, उनके बारे में सिर्फ यही कहा जा सकता है कि नाम बड़े और दर्शन छोटे। उनसे निवेदन है कि चौराहों पर टीवी पर दिखने और सेल्फी लेने के बजाय वह उत्तर प्रदेश की बिजली व्यवस्था सुचारू रूप कराने और शहरों की साफ-सफाई, नालियों की सफाई पर ज्यादा ध्यान दें। निकाय चुनाव करीब है। कांग्रेस निकाय चुनाव में शहरों की बदहाली का मुद्दा मजबूती से उठाएगी और नगर निगम में वर्षों से काबिज काम में असफल भाजपा को नगर निगम चुनाव में हराने का मजबूती से काम करेगी।