शक्ति भवन लखनऊ मुख्यालय पर अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन जारी

शक्ति भवन लखनऊ मुख्यालय पर अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन लगातार जारी।

● उत्तरप्रदेश के समस्त जिला व परियोजना मुख्यालयों पर तकनीकी कर्मियों का 48 घंटों का क्रमिक अनशन समाप्त ।

● प्रदेशव्यापी आंदोलन के इस सातवें चरण में समस्त जिलों में क्रमिक अनशन उपरान्त मा.मंत्री-गणों/ जन प्रतिनिधि-गणों के माध्यम से महामहिम राज्यपाल महोदय को सम्बोधित ज्ञापन दिया गया।

● ऊर्जा प्रबन्धन द्वारा मांगो के सापेक्ष परिणामी आदेश न जारी किये जाने पर 29.11.2021 से शक्तिभवन पर आमरण अनशन/भूख हड़ताल की जायेगी शुरू।

● आर-पार की लड़ाई के लिए लामबंद हुए प्रदेश के 20000 टैक्नीशियन कर्मी दिनांक 03.12.2021 से हो सकता है परिचालन कार्यों सहित किया जा सकता बहिष्कार।

लखनऊ। समस्त ऊर्जा निगमों के अंतर्गत तैनात टैक्नीशियन (टी.जी.2) कर्मियों का प्रतिनिधित्व करने वाले एकमात्र कैडर संघ – राज्य विद्युत परिषद प्राविधिक कर्मचारी संघ उत्तर प्रदेश द्वारा शीर्ष ऊर्जा प्रबन्धन के तानाशाही रवैये व अन्यायपूर्ण नीति के विरोध में पुरे प्रदेश के विभिन्न जनपदों में क्रमिक अनशन कार्यक्रम सफलतापूर्वक समाप्त हुआ। साथ ही शक्ति भवन पर अनशन कार्यक्रम लगातार जारी है।


आज शक्ति भवन मुख्यालय पर संघ के केंद्रीय संरक्षक डी के मिश्र ने बताया कि संघ अपनी मांगों के लिए निरंतर 11 अक्टूबर से आंदोलनरत है, जोकि एक लंबा समय है।और प्रबंधन द्वारा वार्ता के माध्यम से समस्याओं का हल निकाला जा सकता है।जिससे वर्तमान गतिरोध को समाप्त किया जा सकता है।संघ के केंद्रीय संगठन सचिव धवन पाल ने बताया कि जिन समस्याओं पर आज सहमति नहीं बन रही है, उन सभी समस्याओं पर विगत 2 वर्ष में कई बार समाधान की बात कही गई परंतु कोई भी मांग पूरी नहीं की गई। वार्ताओं में बनी सहमतियों के आधार पर कोई भी निर्णय नहीं लिया गया और केवल समय व्यतीत किया गया।अब समय है की प्रबंधन अपनी पूर्व की सहमतियों और जायज मांगों के संबंध में शीघ्र आदेश जारी कर औद्योगिक अशांति को समाप्त करे।आज के क्रमिक अनशन कार्यक्रम में केंद्रीय संरक्षक डी के मिश्र, केंद्रीय अध्यक्ष बृजेश त्रिपाठी समेत,धवन पाल,शैलेंद्र सिंह,प्रदीप यादव,विवेक शुक्ला,जय प्रकाश बिंद मुख्य रूप से उपस्थित रहे।